पति-पत्नी कर रहे हैं 'बेबी प्लानिंग', तो प्रेग्नेंट होने से 3 महीने पहले ही करें डाइट में ये 7 बदलाव

अगर पति-पत्नी शादी के बाद बेबी प्लान कर रहे हैं, तो स्वस्थ शिशु और बिना तकलीफ डिलीवरी के लिए पति-पत्नी दोनों को अपने खानपान में कुछ जरूरी बदलाव करने चाहिए। जानें बेबी प्लानिंग से पहले डाइट टिप्स।

 

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Apr 22, 2014
पति-पत्नी कर रहे हैं 'बेबी प्लानिंग', तो प्रेग्नेंट होने से 3 महीने पहले ही करें डाइट में ये 7 बदलाव

प्रेग्नेंसी में क्या खाएं और क्या न खाएं? क्या करें और क्या न करें? इसको लेकर हर गर्भवती महिला को चिंता होती है। और हो भी क्यों न, गर्भावस्था के दौरान आपको ख़ास देखभाल की ज़रूरत होती है। लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि गर्भधारण के पहले क्या तैयारियां की जाएं? प्रेग्नेंट होने से पहले अपनी देखभाल के बारे में सोचना बेहद ज़रूरी है। जिस तरह एक पेड़ को फल लगने से पहले सही प्रकार से धूप, ख़ाद-पानी और देखभाल की ज़रूरत होती है, ठीक उसी तरह आपके शरीर को गर्भधारण से पहले अपने शरीर को इसके लायक बनाने की आवश्यकता होती है। ऐसे में पौष्टिक आहार का विशेष महत्व होता है, और इसके लिए ज़रूरत होती है बेहतर खान-पान की।

पति-पत्नी दोनों करें प्रेग्नेंसी से पहले तैयारी

दरअसल किसी महिला के अंडे को ऑव्युलेट होने से पहले परिपक्व होने में लगभग सौ दिन लगते हैं। पुरुषों के वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या भी बहुत कुछ खानपान पर निर्भर करती है। इसका सीधा सा मतलब है कि किसी जोड़े के लिए तीन महीने का यह समय इष्टतम पोषण लेने का होता है, ताकि एक स्वस्थ अंडे और वीर्य का उत्पादन हो सके। इसलिए आप दोनों का ही गर्भधारण से पहले अच्छे पोषण के प्रति जागरूक होना ज़रूरी है। तो चलिए जानते हैं कि गर्भधारण से पहले कैसी हो आपकी डाइट।

इसे भी पढ़ें:- प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाएं कैसे रखें होने वाले शिशु को डायबिटीज से दूर? जानें जरूरी बातें

बेबी प्लानिंग से पहले पति-पत्नी के लिए डाइट टिप्स

  • फर्मेंटिड कॉड लिवर तेल / बटर ऑयल ब्लेंड लें। ये आपको वसा में घुलनशील विटामिन जैसे A, E, D, K2, EPA, DHA, तथा ओमैगा -3 फैटी एसिड प्रदान करते हैं। जोकि एक स्वस्थ बच्चे, स्वस्थ हार्मोन और स्वस्थ त्वचा के लिए आवश्यक पोषक तत्व होते हैं। इसलिए अपने साथी को ये सभी विटामिन युक्त भोजन कराएं।
  • रोजाना फलों और सब्जियों को अपने आहार में शामिल करें। ये आपके शरीर को गर्भधारण के लिए आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि आप ताजे फल ही खाएं। आप फलों का रस भी पी सकती हैं।
  • अपने आहार में कार्बोहाइड्रेट की पर्याप्त मात्रा शमिल करें। इसके लिए नियमित रूप से रोटी, चावल, जौ आदि का सेवन करें। इसके आयरन भी गर्भावस्था के लिए जरूरी होता है। इसलिए आयरन समृद्ध खाद्य पदार्थ जैसे- दाल, सूखे फल और मेवा, गेहूं की रोटी, हरी पत्तेदार सब्जियां और अनाज लें। आप अंकुरित अनाज भी खा सकती हैं।
  • गर्भावस्था से पहले अपने आहार में सोया, सेम, मसूर, मूंगफली, मक्खन और दालों को भी शामिल करें। डेयरी पदार्थ जैसे दूध, पनीर, दही आदि उत्पादों को भी नियमित रूप से अपने आहार में शामिल करें।
  • आपके शरीर को गर्भधारण के लिए विटामिनों की भी ज़रूरत होती है। इसलिए अपनी डाइट में युक्त पदार्थों को शामिल करें। विटामिन आपके शरीर में आयरन को पचाने और आपके शरीर में इसे शरीर में अवशोषित करने के लिए ज़रूरी होते हैं। वीटामिन सी प्रचुर मात्रा में लें, ब्रोकोली, पपीता, संतरा, हरी मटर, सलाद और अनानास जैसे फलों और सब्जियों में विटामिन-सी प्रचुर मात्रा में होता है।
  • गर्भधारण करने से पहले आपको फोलिक एसिड भी लेना चाहिए। मैं तो कहता हूं कि गर्भावस्था के पहले और बाद में भी इसे अपने आहार में जरूर शामिल करें। इसके लिए आहार में फोलिक एसिड के पूरक तत्‍वों को शामिल करें। ये आपके होने वाले शिशु के दिमाग़ और रीढ़ की हड्डी के विकास में अह़म भूमिका निभाते हैं।  
  • गर्भधारण से पहले पोषक तत्वों से भरपूर भोजन करने से गर्भावस्था के दौरान कोई जटिलताएं आने पर आप उससे निपटने में सक्ष्‍ाम होता है। गर्भधारण से पहले मादक पदार्थों जैसे शराब, सिगरेट, कैफीन आदि से दूर रहें। इनके सेवन से न  सिर्फ आपका शरीर ख़राब होता है बल्कि गर्भपात जैसी गंभीर समस्‍याएं भी हो सकती हैं।

Read More Articles On Women's Health in Hindi

Disclaimer