रोज़ाना 1 कप इस फली को खाने से दिल की बीमारियां दूर रहती हैं, ये हैं 5 फायदे

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 30, 2017
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • मणिपुर और कर्नाटक में प्रसिद्ध हैं फावा बीन्स
  • कई न्यूट्रिएंट्स का है यह स्रोत
  • कई बीमारियों से बचाती हैं ये फलियां

इस फली की गिनती हरी सब्ज़ियों में की जाती है। आमतौर पर इसे लहसुन के साथ खाया जाता है। सूखी फली को भुनकर भी खा सकते हैं। फावा की फलियों को अन्य फलियों के साथ मिक्स करके भी खाया जा सकता है। कई लोग रक्षा बंधन के दिन इस फली का सूप बनाते हैं और इसे चावल के साथ खाते हैं। उत्तर अफ्रीका की इस बीन्स की खेती अब पूरी दुनिया में की जाती है। मणिपुर में लोग इसे खूब पसंद करते हैं। कर्नाटक में यह ज़्यादातर सर्दियों के मौसम में उपलब्ध होती है। फावा बीन्स खाने के ये हैं 5 फायदे।

heart

हार्ट के लिए हेल्दी

1 कप फावा बीन्स में 36 ग्राम फाइबर होता है, जो शरीर में आसानी से घुल जाता है। स्टडीज़ से पता चला है कि फावा बीन्स हमारी बॉडी में कोलेस्ट्रॉल और ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रखती हैं। सिर्फ यही नहीं, इन फलियों के सेवन से बैड कोलेस्ट्रॉल का लेवल भी कम रहता है और दिल भी सुरक्षित रहता है।

इसे भी पढ़ेंः केसर और दूध का मिश्रण है दिल के लिए बेस्ट

वज़न कम करने में सहायक

इन फलियों के 1 कप सेवन से आपके शरीर को 40 ग्राम प्रोटीन मिलता है। क्लिनिकल न्यूट्रिशन के यूरोपीय जर्नल के मुताबिक, जो लोग हाई प्रोटीन और हाई फाइबर डाइट में विश्वास रखते हैं, उनका वज़न जल्दी कम होता है। इसके मुकाबले, जो लोग हाई कार्बोहाइड्रेट, लो-फैट फूड्स खाते हैं, उन्हें कुछ खास परिणाम नहीं मिलते। इन फलियों को खाने से बॉडी में फैट भी नहीं जाता और कोलेस्ट्रॉल लेवल भी कंट्रोल में रहता है।

न्यूट्रिएंट्स से भरपूर

इन फलियों में पोषक तत्वों की कोई कमी नहीं है। इनमें विटामिन्स और मिनरल्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, जैसे की- मैग्नीशियम, पोटेशियम, आयरन, कॉपर, फॉस्फोरस, विटामिन बी 1, और थायामिन। बीन्स का सिर्फ एक चौथाई कप हर रोज़ अपनी डाइट में शामिल करने से बॉडी को कई ज़रूरी न्यूट्रिएंट्स मिलते हैं। जहां विटामिन बी 1 हमारे संट्रेल नर्वस सिस्टम के प्रॉपर फंक्शन के लिए ज़रूरी है, वहीं कॉपर हमारे इम्यून सिस्टम को इम्प्रूव करता है, ब्लड सर्कुलेशन बेहतर करता है और हड्डियों की मज़बूती भी बनाए रखता है। मैग्नीशियम और फॉस्फोरस रक्तचाप के स्तर और हड्डियों को स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए ज़रूरी हैं, जबकि आयरन से बॉडी में ऑक्सीजन सही तरह से फैलता है।

इसे भी पढ़ेंः सीने में दर्द का मतलब हार्ट अटैक नहीं, ये है असली वजह!

डिप्रेशन से लड़ने में मदद

इन फलियों को रेगुलर खाने से डिप्रेशन से भी निपटा जा सकता है। स्टडीज़ के मुताबिक, बीन्स में एमिनो एसिड डोपामाइन भारी मात्रा में होता है, जो आपके मूड को बदल सकता है और डिप्रेशन का लेवल भी कम कर सकता है।

विटामिन सी का स्रोत

फावा बीन्स विटामिन सी का स्रोत हैं। विटामिन सी एक एंटीऑक्सीडेंट है, जो रिंकल्स, कई तरह के कैंसर से दूरी बनाने में मदद करता है और वीक इम्यून सिस्टम को इम्प्रूव करता है। 100 ग्राम कच्ची फलियां आपको 1.4 मिलीग्राम विटामिन सी प्रदान करती हैं।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Heart Health Articles In Hindi

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES2097 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर