बच्चों को हेल्दी रखने के लिए डेली रूटीन से जुड़ी 5 जरूरी बातें, जो हर मां-बाप को जाननी चाहिए

बच्चों को स्वस्थ रखने के लिए उनके डेली रूटीन में शामिल करें ये 5 बातें, जिससे वो फिट, एक्टिव, हेल्दी और स्मार्ट बन सकें।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Jan 13, 2020Updated at: Jan 13, 2020
बच्चों को हेल्दी रखने के लिए डेली रूटीन से जुड़ी 5 जरूरी बातें, जो हर मां-बाप को जाननी चाहिए

हर मां-बाप चाहते हैं कि उनका बच्चा स्वस्थ रहे। इसके लिए वो हर संभव प्रयास करते हैं। लेकिन छोटे बच्चों के साथ हर समय रहना या उन्हें समझाना संभव नहीं है। इसका कारण है कि वो चीजों को जल्दी भूलते हैं और उनका मन एक जगह स्थिर नहीं रहता है। लेकिन यह भी सच है कि अगर आप बच्चों को थोड़े से प्रयास द्वारा कोई चीज सिखा दें, तो वे उसे जल्दी नहीं भूलते हैं। आमतौर पर मां-बाप बच्चों को रोजमर्रा की जिंदगी से जुड़ी छोटी-छोटी चीजें सिखाते हैं, जैसे- खाने से पहले हाथ धोना, पॉटी के बाद हाथ धोना, खाना बैठकर खाना आदि। मगर इसके बाद भी बच्चे बीमारियों का शिकार हो जाते हैं। क्या आपने कभी सोचा है कि ऐसा क्यों होता है?

इसका कारण यह है कि बच्चों को छोटी-छोटी बातें तो सिखा दी जाती हैं, मगर उनका डेली रूटीन सही हो, इसकी तरफ किसी का ध्यान नहीं जाता है। हम आपको बता रहे हैं बच्चों के डेली रूटीन से जुड़ी 5 जरूरी बातें।

एक्टिविटीज में हिस्सा लेना

बच्चों को रोगों से बचाने के लिए उनकी इम्यूनिटी (प्रतिरक्षा तंत्र) का अच्छा होना बहुत जरूरी है। बच्चों की इम्यूनिटी अच्छी रखने के लिए उन्हें सिर्फ अच्छा और हेल्दी खाना खिलाना ही नहीं जरूरी है, बल्कि उन्हें एक्टिव रखना भी जरूरी है। बच्चों को बचपन से ही इस बात के लिए प्रेरित करें कि वो स्कूल में होने वाली एक्टिविटीज में हिस्सा ले। दौड़ने, खेलने, कूदने से जहां उसका शारीरिक स्वास्थ्य बेहतर होगा, वहीं नाटक, कविता, क्विज आदि में भाग लेने से उसका मानसिक स्वास्थ्य बेहतर होगा।

पर्याप्त नींद लेने दें

kids sleep

बच्चों के लिए रोजाना कम से कम 8 घंटे की नींद बेहद जरूरी है। नींद के दौरान ही बच्चे का शारीरिक विकास होता है। इसलिए अगर बच्चा सोएगा नहीं तो पहली बात वह सुस्त, थका और आलसी महसूस करेगा, और दूसरा कि उसका शरीर अच्छी तरह नहीं विकसित हो पाएगा। इसलिए अगर आपके बच्चे का स्कूल सुबह जल्दी है, तो उसे रात में जल्दी सोने की आदत डलवाएं। रोजाना की नींद के साथ कोई समझौता न करें।

ज्यादा से ज्यादा फल और सब्जी खिलाएं

आजकल के बच्चों को जंक फूड्स, प्रॉसेस्ड फूड्स आदि ज्यादा अच्छे लगते हैं और घर का बना खाना उन्हें पसंद नहीं आता है। बच्चे सभी जिद्दी होते हैं, इसलिए उनकी जिद के नाम पर आप उनके स्वास्थ्य के साथ समझौता नहीं कर सकते हैं। अपने बच्चे को ज्यादा से ज्यादा फल और सब्जियां खिलाएं। बच्चों को हेल्दी चीजें खिलाने के लिए कुछ क्रिएटिव तरीके निकालें, जिससे वो इन्हें खाएं। बचपन से ही बच्चे के खाने में नमक, चीनी, मैदे और तेल की मात्रा कम रखें।

इसे भी पढ़ें: स्कूली बच्चों को सेहतमंद रखना है तो मां-बाप जरूर अपनाएं ये 5 हेल्थ टिप्स

टीवी, वीडियोज और गेम्स की आदत पर लगाम लगाएं

kids

डिजिटल क्रांति के साथ बच्चों के मनोरंजन के साधन भी बदल गए हैं। आजकल बच्चे घर के बाहर खेलने के बजाय घर के अंदर रहकर टीवी देखना, मोबाइल या लैपटॉप पर वीडियोज देखना और गेम्स खेलना ज्यादा पसंद करते हैं। स्क्रीन वाले गैजेट्स का ज्यादा देर तक इस्तेमाल बच्चों के लिए खतरनाक है। इसलिए बच्चों को रोजाना दिनभर में 2 घंटे से ज्यादा स्क्रीन वाले गैजेट्स का इस्तेमाल न करने दें। इसके बजाय उन्हें घर के बाहर धूप में खेलने के लिए प्रेरित करें।

छोटी-छोटी आदतें डलवाएं

बच्चों को हेल्दी रखने के लिए उन्हें कुछ छोटी-छोटी आदतें डलवाएं जैसे- खाना हमेशा बैठकर और चबाकर खाना, नाखून को हर सप्ताह काटना, शारीरिक साफ-सफाई रखना, रोजाना ब्रश करना आदि।

Read More Articles on Parenting Tips in Hindi

Disclaimer