अस्थमा को बढ़ाते हैं ये 5 कारक, जानिए कैसे करें बचाव

अस्‍थमा या दमा ऐसी बीमारी है जो कि फेफड़ो को प्रभावित करती है। आपके आसपास ऐसी कई चीजें हैं, जो अस्थमा को बढ़ाती हैं। अगर आप अस्थमा के रोगी हैं, तो आपको इन चीजों से दूर रहना चाहिए।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Jun 01, 2018
अस्थमा को बढ़ाते हैं ये 5 कारक, जानिए कैसे करें बचाव

अस्‍थमा या दमा ऐसी बीमारी है जो कि फेफड़ो को प्रभावित करती है। अस्थमा के कारण श्वासनली या इसके आसपास के जुड़े हिस्सों में सूजन आ जाती है। जिस कारण सांस लेने में दिक्कतें आने लगती है। इतना ही नहीं इससे फेफडों में हवा ठीक से नहीं जा पाती। आपके आसपास ऐसी कई चीजें हैं, जो अस्थमा को बढ़ाती हैं। अगर आप अस्थमा के रोगी हैं, तो आपको इन चीजों से दूर रहना चाहिए।

एलर्जी पैदा करने वाली चीजें

एलर्जी शरीर के द्वारा कुछ विशेष तत्वों, जिन्हें एलर्जन्स कहते हैं, के प्रति अति संवेदनशील प्रतिक्रिया होती है। जरूरी नहीं कि एलर्जन नुकसानदायक हों, कुछ मामलों में व्यक्ति के शरीर पर इनका कुछ भी नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता। लेकिन कुछ लोग जो इन तत्वों के प्रति अतिसंवेदनशील होते हैं, उनमें इनके कारण कई लक्षण नजर आते हैं। एलर्जी की तुलना में भी अस्‍थमा गंभीर बीमारी मानी जाती है जिसका उपचार बहुत जरूरी है।

इन चीजों से बचें-

  • धूल और धुंए में बिल्कुल न रहें।
  • घर में अगर कॉक्रोच हैं, तो उन्हें भगाएं। ये अस्थमा रोग को गंभीर बना सकते हैं।
  • अस्थमा के रोगी को पालतू जानवरों और पक्षियों के बालों, त्वचा, पंखों और लार से दूर रहना चाहिए।
  • घर से बाहर रहने के दौरान हवा में मौजूद पराग कणों से भी बचने की जरूरत है।

श्वासनली का इंफेक्शन

श्वासनली में होने वाले कई इंफेक्शन जैसे सर्दी, जुकाम, ब्रोंकाइटिस, निमोनिया, साइनस आदि के कारण भी आपका अस्थमा रोग बढ़ सकता है। अगर आप अस्थमा के रोगी हैं और आपको ऐसी कोई बीमारी हो गई है, तो आपको तुरंत चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए। इसके अलावा आपको साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देना चाहिए।

अस्थमा को उत्तेजित करने वाली चीजें

आपके आसपास ऐसी कई चीजें मौजूद होती हैं जो अस्थमा के रोग को उत्तेजित कर सकती हैं। इन चीजों से बचाव बहुत जरूरी है क्योंकि इनकी वजह से कई बार व्यक्ति को अस्थमा का अटैक हो सकता है और उसकी जान भी जा सकती है।

घर के बाहर इन चीजों से सावधान रहें

  • तंबाकू और गुटखे के कण
  • सिगरेट-बीड़ी का धुंआ
  • गाड़ियों से निकला हुआ धुंआ
  • किसी तरह के गैस का रिसाव
  • आग लगने से होने वाला धुंआ और पराग कण
  • किसी फैक्ट्री या केमिकल से उठने वाला धुंआ

घर के अंदर इन चीजों से सावधान रहें

  • खाना बनाने से होने वाला धुंआ
  • चूल्हे या सिगड़ी से निकलने वाला धुंआ
  • डिओ, पर्फ्यूम या किसी तरह का स्प्रे
  • सिगरेट और बीड़ी का धुंआ

अस्थमा को बढ़ा सकते हैं ये फूड्स

अस्थमा के रोगी को सल्फेट वाले फूड्स का कम सेवन करना चाहिए। कई अस्थमा रोगी सल्फेट को लेकर बेहद संवेदनशील होते हैं। अगर आप अस्थमा रोगी हैं, तो कोई भी फूड आइटम खरीदने से पहले उसके पैकेट पर उसमें मौजूद सल्फेट की मात्रा जरूर देखें। इसके अलावा सल्फेट वाले इन फूड्स का बहुत कम सेवन करें- आलू, झींगा, ड्राई फ्रूट्स, सिरका, शराब, बियर

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Asthma In Hindi

Disclaimer