कोल्‍ड सोर को दूर करने के पांच कुदरती उपाय

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 31, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • हरपीज वायरस के कारण होता है कोल्‍ड सोर।
  • लगभग 7 दिनों में यह रोग हो जाता है ठीक।
  • टी-बैग और नमक के जरिये कीजिए इलाज।
  • मुख के पास होने वाली बीमारी है कोल्‍ड सोर। 

कोल्‍ड सोर को एक पीड़ादायक बीमारी है, इसे फीवर ब्लिस्‍टर्स या हरपीज सिम्‍प्‍लेक्‍स भी कहा जाता है। यह अधिकतर होठों के आसपास, नाक के नीचे या ठोढ़ी के पास पाया जाता है। यह एक संक्रामक बीमारी है जो खांसते, छींकते या अन्‍य माध्‍यमों से एक व्‍यक्ति से दूसरे व्‍यक्ति में फैलता है।

home remedies for cold sores

 

कोल्‍ड सोर पीड़ादायक, द्रव्‍य से भरे फफोलों के रूप में दिखाई देता है। इस मौखिक घावों का कारण हरपीज वायरस है। यदि एक बार आप इस वायरस की चपेट में आ जाते हैं तो यह हमेशा के लिए रह जाता है। यह घाव सामान्‍यतया 7 दिनों में ठीक हो जाता है, लेकिन यदि इसका उपचार न किया जाये तो इसके दाग स्‍थायी हो सकते हैं। इसे जल्‍दी ठीक करने के लिए आप कुछ प्राकृतिक तरीके भी आजमा सकते हैं। इन उपचारों को आप अपने घर पर आसानी से आजमा सकते हैं।

 

बर्फ का इस्‍तेमाल

जैसे ही आपको कोल्‍ड सोर का अहसास हो आपको बर्फ का इस्‍तेमाल करना चाहिए। नमी भरा गर्म माहौल हरपर वायरस के फैलने के लिए माकूल होता है। बर्फ के जरिये आप इसे ठंडा रख सकते हैं। ठंडा माहौल इस वायरस के लिए सही नहीं होता। इससे यह वायरस नियंत्रित रहता है और फैलकर बड़ा रूप नहीं ले पाता। बर्फ के जरिये इस बीमारी का तेजी का इलाज हो सकता है।

 

नींबू

नींबू में कई गुण होते हैं। इसके सौंदर्य लाभ तो हैं ही साथ ही यह हमारी सेहत के लिए भी काफी अच्‍छा होता है। कोल्‍ड सोर से जल्‍दी निजात दिलाने में भी नींबू काफी उपयोगी होता है। सोर पर नींबू का सत्‍व लगाने से आपको काफी लाभ होता है। नींबू में डूबा हुआ रूई का टुकड़ा उस कोल्‍ड सोर पर दिन में दो या तीन बार लगाने से काफी लाभ मिलता है।

 

नमक

नमक न केवल आपके खाने का जायका बढ़ाने का काम करता है, बल्कि यह आपको कोल्‍ड सोर से भी निजात दिला सकता है। आप चाहें तो उस सोर पर नमक भी लगा सकते हैं। अपनी उंगली पर सामान्‍य नमक लगाएं। इसके बाद इस उंगली को कोल्‍ड सोर पर लगाकर तीस सेकेण्‍ड तक उसे दबाकर रखें ताकि नमक सोर के अंदर जा सके।

 

लेवेण्‍डर ऑयल

लेवेण्‍डर अथवा कोई भी सामान्‍य तेल के जरिये भी कोल्‍ड सोर से निजात पायी जा सकती है। लेवेण्‍डर और मेलिस्‍सा ऑयल कोल्‍ड सोर को जल्‍द ठीक करने में मदद करता है। इन तेलों को कोल्‍ड सोर पर दिन में कई बार लगाएं।

 

टी बैग

कोल्‍ड सोर पर टी बैग का इस्‍तेमाल करें। टी बैग को गर्म पानी में डुबाइए, फिर इसे कुछ देर ठंडा होने दीजिए। फिर इस गीले टी बैग को कोल्‍ड सोर पर पांच से दस मिनट तक लगाकर रखें। आप चाहें तो इस प्रक्रिया को हर एक दो घंटे में दोहरा सकते हैं। बस, एक बात का ध्‍यान रखिए कि हर बार एक ताजा टी-बैग का इस्‍तेमाल करें।


इन सब प्राकृतिक घरेलू उपायों को अपनाकर आप कोल्‍ड सोर को दूर कर सकते हैं। हालांकि कोल्‍ड सोर बहुत खतरनाक रोग नहीं है और कुछ दिनों में यह अपने आप ही ठीक हो जाता है, लेकिन फिर भी ये कुछ भी काफी तकलीफदेह हो सकते हैं।

 

 

Read More Articles on Home Remedies For Diseases in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES48 Votes 7993 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर