जानें क्या हर्बल और प्राकृतिक सिगरेट पीना है सुरक्षित

हर्बल सिगरेट के जोखिम भी आमतौर पर किये जाने वाले धूम्रपान जितने ही होते हैं, क्योंकि ये तम्बाकू वाली सिगरेट जितने ही विषाक्त पदार्थों से भरे होते हैं। तो चलिये जानते हैं कि क्या हर्बल और प्राकृतिक सिगरेट पीना है सुरक्षित है या ये भी उतना ही जानलेव

Rahul Sharma
तन मनWritten by: Rahul SharmaPublished at: May 17, 2016
जानें क्या हर्बल और प्राकृतिक सिगरेट पीना है सुरक्षित

                                                  धूम्रपान जानलेवा है, इससे कैंसर (कर्क रोग) होता है। 



हर्बल शब्द की लोगों के दिमाग में एक बड़ी साफ छवी है, और कुछ लोग अकसर पूछते हैं कि क्या हर्बल सिगरेट पीना या नेचुरल सिगरेट (बीड़ी या लौंग वाली सिगरेट) पीना सुरक्षित है? और क्या इसे धूम्रपान के विकल्प के तौर पर अपनाया जा सकता है? क्या इनसे कम नुकसान होता है? आदि। तो चलिये जाने इन सवालों का सच क्या है -

आपको बता दें कि इन हर्बल विकल्प के जोखिम भी आमतौर पर किये जाने वाले धूम्रपान जितने ही होते हैं, क्योंकि ये तम्बाकू वाली सिगरेट जितने ही विषाक्त पदार्थों से भरे होते हैं। तो चलिये जानते हैं कि क्या हर्बल और प्राकृतिक सिगरेट पीना है सुरक्षित है या ये भी उतना ही जानलेवा है और क्यों?  

सिगरेट का सच

लगभग हर धूम्रपान करने वाला व्यक्ति ये जानता है कि निकोटिन कितना हानिकारक है। सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के अनुसार, पिछले कई दशकों में धूम्रपान में गिरावट के बावजूद, लगभग 46 लाख अमेरिकी आज भी धूम्रपान करते हैं। और भारत में तो ये आंकड़ा और भी बड़ा है। कई धूम्रपान करने वाले लोग हर्बल सिगरेट पीना शुरू कर देते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि हबल सिगरेट पीने से सेहत को नुकसान कम होगा।  

 

Dangers of Smoking Herbal Cigarettes in Hindi

 

कई सिगरेट निर्माता कंपनी भी कहती हैं कि हर्बल सिगरेट सुरक्षित और धूम्रपान की लत न लगने वाला वैकल्पिक हो सकता है। हर्बल सिगरेट में तंबाकू इस्तेमाल नहीं होता, जिसके चलते इनमें निकोटिन भी नहीं होता है। लेकिन इन सिगरेट्स में इस्तेमाल दवा लोगों को इनका आदी बना सकती है। कई लोगों तो नियमित सिगरेट पीने की लत को रोकने के लिए भी हर्बल सिगरेट पीते हैं।

हर्बल सिगरेट पीने के नुकसान

हर्बल सिगरेट भी आम सिगरेट के जैसी ही दिखाई देती हैं, लेकिन इनके भीतर तंबाकू के बजाय जड़ी बूटियों का मिश्रण भरा होता है। वास्तविकता तो ये है कि हर्बल सिगरेट भी तंबाकू वाली सिगरेट जितनी ही हानिकारक होती हैं, क्योंकि किसी भी हर्ब व सब्जि आदि को जलाने पर वह उतना ही टार, कार्बन मोनोऑक्साइड और अन्य विषाक्त पदार्थों का उत्पादन करती है, जितना की तंबाकू जलने पर करता है। जब आप एक हर्बल सिगरेट का कश भरते हैं, आप अपने फेफड़ों में सीधे उन हानिकारक विषाक्त पदार्थों को भर लेते हैं। यही कारण है कि अमरीका में फ़ेडरल ट्रेड कमीशन (FTC) के अनुसार हर्बल सिगरेट निर्माताओं को भी सिगरेट पर "सिगरेट स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है" का चेतावनी लेबल लगाना आवश्यक है।


सिगरेट के अन्य प्रकारों को नेचुरल (प्राकृतिक) कहा जाता है, जैसे बीड़ी, लौंग वाली सिगरेट या क्रेटेक्स और इन सिगरेट्स में तंबाकू भी होता है। और ये भी सेहत के लिये उतनी ही हानिकारक होती हैं। तो कुल मिलाकर सिगरेट कोई भी हो, सेहत के लिये हानिकारक ही होती है, फिर भले ही इसके निर्माता इसके हर्बल होने का दावा ही क्यों न करते हों। विकल्प न ढूंढे, इसे छोड़ दें, छोड़ कर देखें.. अच्छा लगता है। ये शौक छोड़ना न तो नामुम्किन है और न ही ये शौक आपकी जान से बड़ा है।



Image Source - Getty

Read More Articles On Healthy Living in Hindi.

Disclaimer