क्‍या है ब्‍लैक फंगस? जानें खतरे, लक्षण और सावधान‍ियां

अन्य़ बीमारियांBy Onlymyhealth editorial teamMay 27, 2021

इस वीड‍ियो में हम बात करेंगे ब्‍लैक फंगस के बारे में। कोव‍िड मरीजों में ब्‍लैक फंगस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं ज‍िसे देखते हुए कई राज्‍य सरकारों ने इसे एक महामारी घोषित क‍िया है। महाराष्‍ट्र, गुजरात, बेंगलुरू, द‍िल्‍ली, हैदराबाद, राजस्‍थान आद‍ि जैसे राज्‍यों में ब्‍लैक फंगस के केस सामने आ रहे हैं। ब्‍लैक फंगस के बारे में आपको तीन जरूरी बातें पता होनी चाह‍िए पहली तो ये क‍ि ये कोई नई बीमारी नहीं है, पहले भी इस बीमारी के केस म‍िलें हैं, दूसरी बात ये क‍ि इस बीमारी का इलाज संभव है और अगर आप समय पर इलाज करवा लें तो आप पूरी तरह से ठीक हो सकते हैं। यानी जल्‍द लक्षण पकड़ने पर र‍िकवरी संभव है। ओनलीमायहेल्‍थ (Onlymyhealth) कोव‍िड से जुड़ी स्‍पष्‍ट जानकारी आप तक पहुंचाने के ल‍िए न्यूजवर्दी (Newsworthy) के साथ मिलकर एक खास वीडियो सीरीज चला है, जिसका नाम है 'COVID 19 आपके सवालों के स्पष्ट जवाब'। इस सीरीज में हम आप तक कोव‍िड और उससे जुड़े जरूरी सवालों के जवाब आप तक पहुंचा रहे हैं। इस वीड‍ियो में हम ब्‍लैक फंगस और उससे जुड़ी सभी जरूरी बातों पर चर्चा करेंगे। 

ब्‍लैक फंगस, म्‍यूकोर फफूंद से फैलती है, ये हमारे आसपास सभी जगह मौजूद होती है और सांस के जर‍िए हमारे शरीर में जाती है और साइनस और लंग्‍स पर प्रभाव छोड़ती है। इसका असर द‍िमाग और आंखों पर भी होता है। ये इंफेक्‍शन आपकी त्‍वचा पर कटने या जलने के घाव से भी हो सकता है। ये फंगस एक से दूसरे में नहीं फैलता लेक‍िन ये फंगस पीड़‍ित व्‍यक्‍त‍ि के ल‍िए दर्दनाक होता है और कुछ केस में सर्जरी भी करवानी पड़ सकती है पर आपको डरने की नहीं सतर्क रहने की जरूरत है क्‍योंक‍ि हमारे पास इसके इंजेक्‍शन और दवाएं मौजूद हैं। इस फंगस से उन लोगों का खतरा ज्‍यादा है जो क‍िसी बीमारी का श‍िकार हैं या दवा लेने के कारण उनकी इम्‍यूनिटी मजबूत नहीं है। डायब‍िटीज या कैंसर जैसी गंभीर बीमारी अगर कंट्रोल में नहीं है तो भी ये इंफेक्‍शन आपको हो सकता है या अर्थराइट‍िस, लुपस, सोरायस‍िस से पीड़‍ित लोग भी ब्‍लैक फंगस की चपेट में आ सकते हैं। ये खतरा पहले भी था पर डॉक्‍टर ऐसा मानते हैं क‍ि कोव‍िड मरीजों को स्‍टेरॉइड्स द‍िया जाता है ज‍िसके चलते ब्‍लैक फंगस का खतरा बढ़ जाता है।

ब्‍लैक फंगस से बचने के ल‍िए धूल वाले इलाके में न जाएं, चोट या घाव को एंटीसेप्‍ट‍िक से साफ करें। डायब‍िटीज के मरीज शुगर कंट्रोल रखें। म्‍यूकोमाइकोस‍िस में लक्षण पहचानना जरूरी है, मुख्‍य लक्षणों की बात करें तो उनमें- खून की उल्‍टी, नाक भरी लगे, आंख या नाक के पास ब्‍लड, नाक के पास काले चक्‍कते, दांतों का टूटना, छाती में जकड़न, मान‍ स‍िक संतुलन न होना, आंख या नाक के पास दर्द या सूजन, पलकों का ग‍िरना, दांत में दर्द आद‍ि है। अगर आप इसका इलाज समय पर करवा लें तो ब्‍लैक फंगस को हरा सकते हैं। ये वीड‍ियो पसंद आया हो तो शेयर करें और अपने सवाल हमारे सोशल अकाउंट्स पर भेजना न भूलें। 

Watch More Videos on Health Talk 

 

Disclaimer

Trending Topics

Black FungusCovidFungus