क्या होती है लिप लिफ्टिंग? जानें कैसे होती है ये लिप फिलिंग से अलग

होंठो को खूबसूरत बनाने के लिए सर्जरी करवाना चाहती हैं तो पहले लिप लिफ्टिंग और लिप फिलिंग में अंतर जान लें। 

सम्‍पादकीय विभाग
Written by: सम्‍पादकीय विभागUpdated at: Feb 27, 2020 19:55 IST
क्या होती है लिप लिफ्टिंग? जानें कैसे होती है ये लिप फिलिंग से अलग

होंठ आपके चेहरे की मुस्कान और खूबसूरती का प्रतीक होते हैं। बहुत सारे लोग अपने होंठो को खूबसूरत बनाने के लिए आर्टिफिशियल सर्जरी का भी सहारा लेते हैं। पिछले कुछ समय में इसका प्रचलन काफी बढ़ गया है। अपने होंठो को मनचाहा और खूबसूरत आकार देने के लिए लोग लिप लिफ्टिंग और लिप फिलिंग भी करवाते हैं, खासतौर पर महिलाएं। लेकिन बहुत से लोगों को ये कन्फ्यूजन होता है कि  लिप लिफ्टिंग और लिप फिलिंग में फर्क क्या होता है? इन दोनों में से क्या करवाना आपके लिए सही होता है? आइए जानते हैं।

क्या होती लिप लिफ्टिंग

लिप लिफ्टिंग की प्रक्रिया में आपके नाक के नीचे की त्वचा के एक छोटे हिस्से को हटा दिया जाता है ताकि आपका होंठ उभरा हुआ दिखाई दे। इस प्रोसेस के बाद आपका ऊपर वाला होंठ और उसका कुछ हिस्सा हल्का उभरा हुआ दिखने लगता है। 

skin care

क्या होती है लिप फिलिंग

लिप फिलिंग से आपके होंठ पहले की तुलना में भरे हुए लगते हैं। यह कई तरीकों से की जा सकती है। हायल्यूरोनिक एसिड फिलर भर कर भी इसे किया जाता है जो कि सबसे सामान्य तरीका है। आजकल जिन नए फिलर्स का इस्तेमाल किया जाता है वे देर तक टिकते हैं। इसके अलावा शरीर के किसी अन्य हिस्से की त्वचा का इस्तेमाल करके भी ये फिलिंग की जाती है। 

इसे भी पढ़ें: हमेशा दिखना चाहते हैं सुंदर? जानें घर पर कैसे करें त्वचा की देखभाल और इसको अपनाने का तरीका

कब तक हो जाती है रिकवरी

इन दोनों प्रक्रियाओं में ही रिकवरी में थोड़ा समय लगता है। लिप लिफ्टिंग के बाद नाक की तह पर टांके लगाए जाते हैं। एक हफ्ते बाद उन्हें हटा दिया जाता है। इस प्रक्रिया के कारण होंठो में थोड़ी सूजन भी आ सकती है। ठीक होने की प्रक्रिया के दौरान जो दाग-धब्बे होते हैं उसे कंसीलर भी छुपाया जा सकता है। लिप फिलिंग में भी होंठो पर सूजन आ जाती है। इसे भी ठीक होने में 1-2 हफ्ते लग सकते हैं। नई फिलिंग 1-2 साल तक टिकती है। 

कितने समय तक बने रहते हैं परिणाम

लिप लिफ्टिंग के परिणाम हमेशा बने रहते हैं लेकिन लिप लिफ्टिंग के रिजल्टस फिलर्स पर निर्भर करता है कि फिलिंग करते वक्त आपने किस चीज का इस्तेमाल किया है। अगर आप हायल्यूरोनिक एसिड फिलर का इस्तेमाल करते हैं तो ये 3-18 महीने तक टिकता है लेकिन अगर आप खुद की त्वचा का इस्तेमाल करते हैं तो इनके परिणाम हमेशा बने रहते हैं। 

इसे भी पढ़ें: आप भी मॉइश्चराइजर का करते हैं इस्तेमाल? तो जान लें मॉइश्चराइजर का ओवर डोज हो सकता है आपके लिए हानिकारक

क्या लिप लिफ्टिंग और लिप फिलिंग एक ही समय पर करवा सकते हैं?

बहुत से लोग लिप्स को मनचाही शेप देने के लिए एक ही समय पर लिप लिफ्टिंग और लिप फिलिंग करवाना चाहते हैं। लिप लिफ्टिंग के दौरान आप आपके नाक के नीचे और कान के पीछे की एक्सट्रा स्किन को हटाया जाता है जिसे लिप फिलिंग के दौरान इस्तेमाल करके नीचे के होंठो को भरा हुआ लुक दे सकते हैं इस तरह से लिप फिलिंग और लिप लिफ्टिंग एक समय पर करवा सकते हैं। लेकिन हां, अगर आप स्किन का इस्तेमान फिलर के तौर पर नहीं करना चाहते तो आप दोनों प्रक्रिया एक साथ नहीं करवा सकते। इसके लिए आपको लिप लिफ्टिंग के एक हफ्ते तक इंतजार करना होगा क्योंकि तब तक आपकी स्किन से टांके खुल जाते हैं।इसके बाद ये पता चलता है कि कितने फिलर का इस्तेमाल करना चाहिए था। 

Read More Article On Skin Care In Hindi 

Disclaimer