थायराइड फंक्शन स्वाभाविक रूप से बढ़ाने के लिए

थायराइड ग्रंथि अंडर एक्टिव होती है तब हाइपोथायराइडिज्‍म की समस्‍या होती है। आइए हम आपको बताते हैं कि स्‍वाभाविक रूप से थायराइड फंक्‍शन को कैसे बढ़ा सकते हैं।

Nachiketa Sharma
थायराइडWritten by: Nachiketa SharmaPublished at: Nov 06, 2012
थायराइड फंक्शन स्वाभाविक रूप से बढ़ाने के लिए

थायराइड ग्रंथि में दिक्‍कत होने से थायराइड फंक्‍शन सुचारू नही हो पाता है। इसके कारण कई शारीरिक बीमारियां हो जाती हैं।  थायराइड शरीर की एक अहम ग्रंथि है। थायराइड ग्लैंड का काम थायराइड हार्मोन बनाना होता है। थायराइड ग्रंथि हमारे दिल की धडकन, पाचन शक्ति, याद्दाश्त ओर हड्डियों में कैल्शियम की मात्रा को नियंत्रित करता है। जब थायराइड ग्रंथि अंडर एक्टिव होती है तब हाइपोथायराइडिज्‍म की समस्‍या होती है। आइए हम आपको बताते हैं कि स्‍वाभाविक रूप से थायराइड फंक्‍शन को कैसे बढ़ा सकते हैं।

 

[इसे भी पढ़ें : थायराइड जांच के तरीके]

स्‍वाभाविक रूप से थायराइड फंक्‍शन बढ़ाने के तरीके –

1 – जब खान-पान में आयोडीन की कमी होती है तब थायराइड ग्रंथि अच्‍छे से काम नहीं करती है। इसलिए अपनी आहार योजना में ऐसे खाद्य-पदार्थों को शामिल कीजिए जो आयोडीन युक्‍त हों। ऐसे खाद्य-पदार्थों को खाने से परहेज कीजिए जिसमें ज्‍यादा मात्रा में फाइबर, मिनरल्‍स और विटामिन हों। लेकिन थायराइड फंक्‍शन को बढ़ाने के चक्‍कर में ज्‍यादा मात्रा में आयोडीन भी मत लीजिए। थायराइड फंक्‍शन के लिए ज्‍यादा आयोडीन उतना ही नुकसानदायक है जितना की आयोडीन की कमी।

2- सोया के उत्‍पदों से करें परहेज सब्जियों, ब्राक्‍कोली, पत्‍तागोभी जैसे खाद्य-पदार्थों से परहेज कीजिए। इनके खाने से थायराइड फंक्‍शन अच्‍छे से काम नहीं करता है। स्‍वस्‍थ्‍य और पोषणयुक्‍त आहार खाइए। मल्‍टीविटामिन आहार को अपनी डाइट चार्ट में शामिल कीजिए। इससे थायराइड फंक्‍शन में वृद्धि होती है।

[इसे भी पढ़ें : थायराइड में फायदेमंद आहार]

 

3- नियमित रूप से व्‍यायाम करने की आदत डालिए। नियमित रूप से व्‍यायाम करने से थायराइड हार्मोन के प्रति ऊतकों की संवेदनशीलता बढ़ जाती है, जिसके कारण थायराइड हार्मोन का ज्‍यादा मात्रा में स्रावित होता है और थायराइड ग्रंथि अच्‍छे से काम करती है। इसके अलावा हर रोज व्‍यायाम करने से मेटाबॉलिज्‍म का स्‍तर बढ़ जाता है। हापोथायराइडिज्‍म में मेटाबॉलिज्‍म का स्‍तर कम हो जाता है।

4- थायराइड फंक्‍शन को स्‍वाभाविक रूप से बढ़ाने के लिए योग  का भी सहारा लिया जा सकता है। योगा के कुछ आसनों को नियमित करने से थायराइड फंक्‍शन में वृद्धि होती है। सर्वांगसन , हलासन , जैसे कुछ आसन थायराइड फंक्‍शन को बढ़ाते हैं। इसके अलावा योगा के विशेषज्ञ से योग के अन्‍य आसनों के बारे में आप जानकारी प्राप्‍त कर सकते हैं।

 

थायराइए फंक्‍शन स्‍वाभाविक रूप से ही बढ़ाना चाहिए। इसके लिए दवाओं का सहारा लेने से अच्‍छा है कि इन तरीकों को अपनाइए। अगर थायराइड फंक्‍शन के बारे में कोई समस्‍या हो तो चिकित्‍सक से संपर्क अवश्‍य कीजिए।

 

 Read More Articles on Thyroid problems in Hindi.

Disclaimer