पुरुषों के टेस्टिकल्स (अंडकोष) में दर्द होने पर काम आएंगे ये 7 घरेलू नुस्खे

अंडकोष में दर्द कई कारणों से हो सकता है। आप इन समस्या को घरेलू उपायों (Remedies for Testicular Pain) की मदद से ठीक कर सकते हैं।

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: May 20, 2021Updated at: May 20, 2021
पुरुषों के टेस्टिकल्स (अंडकोष) में दर्द होने पर काम आएंगे ये 7 घरेलू नुस्खे

वृषण (Testis) के नीचे एक थैली मौजूद होती है, जिसे अंडकोष (Testicular) कहा जाता है। इस थैली में दो अंडकोष होते हैं। यह लाखों की संख्या में शुक्राणु कोशिकाओं को पैदा करते हैं और उन्हें सुरक्षित रखते हैं। इतना ही नहीं यह पुरुषों में टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन को भी बनाने का कार्य करते हैं। इन्हीं हार्मोन की वजह से पुरुषों में शुक्राणु पैदा होता है। कभी-कभी किसी कारणों से अंडकोष में दर्द होने लगता है। टेस्टिकल्स में दर्द का कारण जानना बहुत ही जरूरी है। क्योंकि अगर आप इसका सही समय पर इलाज नहीं कराते हैं, तो यह आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है। चलिए इस बारे में बात करते हैं मैक्स हॉस्पिटल और किडनी केयर क्लिनिक के यूरोलॉजिस्ट डॉक्टर मयंक गुप्ता से-

किन कारणों से होता है अंडकोष (Causes of Testicular Pain)

डॉक्टर मयंक गुप्ता का कहना है कि टेस्टिकल्स में दर्द के कई कारण हो सकते हैं। कभी-कभी बिना वजह भी आपको अंडकोष में दर्द हो सकता है। या फिर अंडकोष में चोट लगना या पेट में समस्याओं के कारण भी आपको दर्द महसूस हो सकता है। इसके अलावा कुछ अन्य कारण भी हैं, जिसकी वजह से आपको अंडोकष (Causes of Testicular Pain) में दर्द होता है। जैसे-

हाइड्रोसील की वजह से भी पुरुषों को अंडकोष में दर्द हो सकता है। हाइड्रोसील एक ऐसी समस्या है, जिसमें अंडकोष में पानी भर जाता है। अंडकोष में पानी भरने की वजह से इसका आकार बढ़ने लगता है। यह एक खतरनाक बीमारी है, क्योंकि इसकी वजह से अंडकोष फट भी सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें - इन 5 घरेलू उपायों से केलोइड की समस्या करें दूर, जानिए इसके लक्षण, कारण और बचाव के तरीके

हार्निया रोगियों को भी अंडकोष में दर्द हो सकता है। दरअसल, जब छोटी आंत का कुछ भाग नीचे की ओर जाता है, जो इससे अंडकोष पर प्रेशर पड़ने लगता है। इसकी वजह से अंडकोष में दर्द होता है। 

वैरिकोसील रोगियों को भी अंडकोष में दर्द हो सकता है। दरअसल, वैरिकोसील एक ऐसी समस्या है, जिसमें अंडकोष में सूजन होने लगता है, जिसकी वजह से दर्द हो सकता है। वैरिकोसील से पीड़ित मरीजों के अंडकोष में नसे बड़ी होने लगती है, जिसकी वजह से अंडकोष में सूजन होने लगता है। सूजन और दर्द को कम करने के लिए सपोर्टर का सहारा दिया जाता है। 

अन्य बीमारियां

डायबिटीज और टेस्टिकल कैंसर से  पीड़ित मरीजों को भी अंडकोष में दर्द हो सकता है। इसके अलावा इंगुइनल हर्निया, डायबिटिक नेफ्रोपैथी, तोरसिओं (इसमें स्पेर्मटिक मुड़ जाती है), अधिवृषण यानी एपीडिड्यमिटिस की समस्या, ओरचीटिस जैसी समस्या से पीड़ित रोगियों के टेस्टिकल्स में दर्द हो सकता है।  

पुरुष अंडकोष में दर्द के लक्षण (Symptoms of Testicular Pain)

अंडकोष में दर्द (Testicular Pain) के अलावा अन्य लक्षण हो सकते हैं। जैसे- 

  • अंडकोष की थैली में सूजन
  • अंडकोष संवेदनशील हो जाना
  • अंडकोष के आसपास लालिमा।
  • उल्टी और जी-मिचलाना
  • कुछ-कुछ लोगों को बुखार आना
  • सेक्स के दौरान दर्द होना।
  • वीर्यपात के साथ दर्द
  • वीर्य में ब्लड आना
  • यूरिन निकालने में दर्द होना।
  • कमर के नीचले हिस्से में दर्द होना

डॉक्टर के पास कब जाने की है जरूरत? (When to See a Doctor?)

अंडकोष के आसा-पास गांठ जैसा महसूस होना, बुखार आना, अंडकोष को छूने पर गर्म या फिर दर्द होना, अचानक से गंभीर दर्द होना, वृषण में चोट लगने पर, सेक्स के दौरान दर्द होना इत्यादि लक्षण दिखने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।  

अंडकोष में दर्द के उपचार (Home Remedies for Testicular Pain)

अंडकोष में होने वाले दर्द को दूर करने के लिए घरेलू उपचार का सहारा लिया जा सकता है। चलिए जानते हैं उन घरेलू उपायों के बारे में-

1. जीरा और अजवाइन 

जीरा और अजवाइन की मदद से आप अंडकोष में होने वाले दर्द से राहत पा सकते हैं। इसके लिए जीरा और अजवाइन की बराबर मात्रा लें। दोनों चीजों को अच्छे से पीस लें और थोड़ा गर्म पानी मिलाएं। इस लेप को अपने अंडकोष के आसपास लगाएं। इससे अंडकोष में होने वाले सूजन और दर्द से राहत पाया जा सकता है। 

2. छोटी हरड़  (Harada Beneficial in Testicular Pain)

रसौत और हरड़ के इस्तेमाल से आप अंडकोष में लगे चोट से राहत पा सकते हैं। इसके लिए दोनों चीजों की बराबर मात्रा लें। इसके बाद इसमें थोड़ा सरसों तेल मिलाएं और लेप को अपने अंडकोष के आसपास लगाएं। इससे आपको काफी राहत मिलेगा।

3. दूध (Milk Beneficial in Testicular Pain)

दूध से भी अंडकोष में होने वाली समस्या से राहत पाया जा सकता है। इसके लिए 1 गिलास दूध लें। इसमें 1 चम्मच अरंडी तेल मिलाएं और पी जाएं। इससे आप काफी राहत पा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें - क्यों जमा होता है शरीर में पानी (वाटर रिटेंशन)? जानें शरीर में जमा अतिरिक्त पानी को बाहर निकालने के 8 तरीके

4. दालचीनी (Cinnamon Beneficial in Testicular Pain)

दालचीनी का इस्तेमाल आपके लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके इस्तेमाल से आप वजन कम करने से लेकर शरीर में होने वाले सूजन से राहत पा सकते हैं। अंडकोष में होने वाली समस्याओं को दूर करने में भी यह आपकी मदद कर सकता है। इसके लिए सुबह-शाम 1 गिलास पानी में आधा चम्मच दालचीनी पाउडर मिलाकर पीएं। इससे आपको काफी फायदा होगा।

5. अदरक (Ginger Beneficial in Testicular Pain)

अदरक का इस्तेमाल आप कई तरह की सब्जियों में करते होंगे। अदरक के इस्तेमाल से भी शरीर में होने वाले सूजन को कम किया जा सकता है। अंडकोष में होने वाले दर्द से भी आप इससे राहत पा सकते हैं। इसे लेने के लिए 10 से 20 मिलीलीटर अदरक के रस में 2 चम्मच शहद मिलाएं। इस रस को पीने से अंडकोष की समस्या से राहत पाया जा सकता है।

6. कद्दू (Pumpkin Beneficial in Testicular Pain)

कद्दू का बीज स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके बीजों का खाने से स्वास्थ्य को कई लाभ हो सकते हैं। इससे मेल ग्लैंड्स से जुड़ी समस्याओं को ठीक किया जा सकता है। कद्दू के बीजों का नियमित सेवन करने से आप अंडकोष में होने वाली समस्याओं को दूर कर सकते हैं।

7. फिटकरी (Alum Beneficial in Testicular Pain)

अगर आपको अंडकोष में दर्द जैसा महसूस हो रहा है, तो फिटकरी का इस्तेमाल करें। इससे आपको काफी राहत मिलेगा। फिटकरी का इस्तेमाल करने के लिए 1 से 2 ग्राम फिटकरी लें। इसमें माजूफल भी समान मात्रा में लें। दोनों चीजों को अच्छे से पीस लें और इसमें थोड़ा सा पानी मिला लें। तैयार लेप को अण्डकोष (टेस्टिकल) के आसपास लगाएं। इससे आपको काफी राहत मिलेगा।

इसे भी पढ़ें - गर्मी में सिरदर्द होने के आम कारण और अक्सर होने वाले सिरदर्द से राहत पाने के घरेलू उपाय

अंडकोष में दर्द से बचने के उपाय (Prevention Tips from Testicular Pain)

लाइफस्टाइल में बदलाव करके आप अंडकोष के दर्द से बचाव कर सकते हैं। जैसे-

  • टाइट अंडरवियर न पहनें इससे अंडकोष पर ज्यादा दबाव पड़ सकता है।
  • हल्के और सूती अंडरवियर पहनें।
  • नायलोन के अंडरवियर न पहने, इससे अंडकोष को हवा नहीं मिल पाता है।
  • गहरे रंग का अंडरवियर अंडकोष को गर्मी पहुंचा सकती है।
  • कोशिश करें कि रात को अंडरवियर उतारकर सोएं। इससे अंडकोष को हवा मिलती है।
  • अंडकोष के आसपास किसी भी तेल से मालिश न करें। इससे आपको नुकसान पहुंच सकता है।
  • सेक्स के दौरान कंडोम का इस्तेमाल करें। सुरक्षित यौन संबंध बनाएं। इससे संक्रमण फैलने का खतरा कम होता है।
  • ज्यादा गर्म पानी से नहाएं नहीं।
  • अंडकोष के सूजन को कम करने के लिए बर्फ से सिकाई करें।
  • अधिक से अधिक पानी पिएं। 
  • वजन को संतुलित रखें, ज्यादा मोटापा न बढ़ाएं।

अंडकोष में किसी तरह की समस्या होने पर डॉक्टर से संपर्क करें। अगर आपको दर्द हो रहा है, तो डॉक्टर के सहालनुसार ही घरेलू उपायों को अपनाएं। ताकि गंभीर समस्याओं से बचा जा सके।

Read More Articles on Home Remedies in Hindi

Disclaimer