कैंसर के इलाज के लिए बहुत ही फायेदमंद होती है रेडिएशन थैरेपी, जानें किस तरह आती है इलाज में काम

कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी की रोकथाम के लिए रेडिएशन थैरेपी काफी फायेदमंद होती है। जानें कैसे ये थैरेपी इलाज में आती है काम।

Vishal Singh
कैंसरWritten by: Vishal SinghPublished at: Jul 17, 2012
कैंसर के इलाज के लिए बहुत ही फायेदमंद होती है रेडिएशन थैरेपी, जानें किस तरह आती है इलाज में काम

रेडिएशन थैरेपी आपने से कई लोगों ने सुनी होगी और कई लोगों ने इसका अनुभव भी किया होगा। रेडिएशन थैरेपी कैंसर से पीड़ित लोगों के लिए की जाती है। इस थैरेपी के जरिए डॉक्टर कैंसर पीड़ित के शरीर से कैंसर के सेल्स को खत्म करने का काम करते हैं। इसके साथ ही ये थैरेपी कैंसर के सेल्स को शरीर के दूसरे हिस्सों में भी जाने से रोकने का काम करता है। रेडिएशन थैरेपी को रेडियोथैरेपी भी कहा जाता है। ये कैंसर के इलाज के लिए बहुत ही फायदेमंद और अहम मानी जाती है। कैंसर पीड़ित के अलावा आप सभी को इस बात की जानकारी होनी बहुत जरूरी है कि कैंसर से लड़ने के लिए हम कितने तैयार है। इसके साथ ही आपको ये जानना चाहिए कि आप कैसे इस खतरनाक और जानलेवा बीमारी से लड़ सकते हैं। आइए आज हम आपको रेडिएशन थैरेपी की पूरी जानकारी देते हैं। 

क्यों जरूरी होती है रेडिएशन थैरेपी? 

रेडिएशन थेरेपी को कैंसर का इलाज का सबसे बेहतरीन तरीका माना जाता है और अबतक रेडिएशन थेरेपी कैंसर को ठीक करने का सबसे आसान तरीका  साबित होती है। कई मामलों में रेडिएशन थेरेपी कीमोथैरेपी को कामरगर बनाने क लिए भी इस्तेमाल की जाती है जिससे की इलाज बेहतर हो सके। रेडिएशन थेरेपी कैंसर का इलाज करने के साथ ही कैंसर के दोबारा होने की संभावना को कम करने का काम करता है। 

कितने प्रकार ही होती है रेडिएशन थैरेपी? 

एक्सर्टनल  रेडियोथैरेपी: एक्सर्टनल रेडियोथैरेपी एक सामान्य प्रकार की थैरेपी होती है। एक्सर्टनल रेडियोथेरेपी में रेडिशन बीन मशीन का इस्तेमाल किया जाता है, जिसके जरिए कैंसर का इलाज किया जाता है।

ब्राच्यथैरेपी: इस थैरेपी में कैंसर पीड़ित को इलाज के लिए रेडियोएक्टिव मेटल का इस्तेमाल किया जाता है, इस थैरेपी की प्रक्रिया को ब्राच्यथैरेपी कहा जाता है। 

रेडियोआइसोटोप थेरेपी: रेडिएशन थेरेपी का एक प्रकार रेडियोआइसोटोप थेरेपी भी है। इस थैरेपी में व्यक्ति के खून में रेडियोएक्टिव लिक्विड को डालकर उसका इलाज किया जाता है, जो कैंसर के सेल्स को खत्म करने और दूसरे हिस्सों में जाने से रोकने का काम करता है। 

रेडिएशन थैरेपी के साइड इफेक्ट्स 

सभी थैरेपी से कुछ न कुछ साइड इफेक्ट्स जरूर होते हैं, रेडिएशन थैरेपी में भी कुछ ऐसी साइड इफेक्ट्स हैं। कैंसर का इलाज का सबसे बेहतर तरीका माने जाने वाला रेडिएशन थैरेपी एक तरह से इंसान की जान बचाने वाली थैरेपी के रूप में जाना जाता है। लेकिन इसमें कुछ ऐसी साइड इफेक्ट्स होते हैं जो इलाज के बाद मरीज को देखने पड़ते हैं। 

भूख कम लगना

कैंसर का इलाज बहुत ही मेहनत के बाद किया जाता है जिसके बाद कई तरह की परेशानी का सामना भी करना पड़ता है। नई जिंदगी मिलने के बाद कुछ समय क मरीज को परेशानी जरूर हो सकती है। अक्सर रेडिएशन थैरेपी के बाद कुछ लोगों को शिकायत होती है कि उन्हें भूख कम लगने लगी है। आमतौर पर, इस समस्या का इलाज संभव है, लेकिन यदि लंबे समय तक इसका इलाज न हो तो यह समस्या गंभीर रूप ले सकती है। जिसका सीधा असर किसी के भी स्वास्थ्य पर पड़ सकता है। 

जल्दी थकान महसूस करना 

कैंसर एक जानलेवा बीमारी है जिसके इलाज के बाद मरीज को आम समस्याओं से गुजरना पड़ता है उन्हीं में से एक है थकान होना। कई मामलों में ऐसा भी देखा गया है कि रेडिएशन थेरेपी कराने के बाद कुछ लोगों को ज्यादा थकान महसूस होती है। यानी थोड़ा सा चलने में थकावट होना, कुछ हल्का सामान उठाने में थकान महसूस होना। 

 

इसे भी पढ़ें: कैंसर के लिए सबसे असरदार है कीमोथेरेपी, जानें कैसे होती है कीमो और इसके प्रकार

त्वचा लाल पड़ना

रेडिएशन थेरेपी में रेडिएश को त्वचा में डाला जाता है, जिसकी वजह से त्वचा में लालपन दिखाई पड़ सकता है। लेकिन यह समस्या कई बार आम हो सकती है लेकिन कई बार गंभीर भी हो सकती है। इसलिए अगर आपकी त्वचा पर लंबे समय तक ये लालपन रहता है तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। 

लगातार खुजली होना 

कैंसर के इलाज में रेडिएशन थेरेपी का इस्तेमाल किए जाने के बाद त्वचा पर खुजली की समस्या से सामने आ सकती है। ऐसे में आप डॉक्टर से सलाह लेकर खुजली से छुटकारा पा सकते हैं। 

मुंह में छाले होना

रेडिएशन थैरेपी के बाद लोगों के मुंह में अक्सर छाले पड़ने लगते हैं। लेकिन इसे बहुत ही आसानी से खत्म किया जा सकता है। अगर कुछ दिनों बाद आपके मुंह से छाले न खत्म हो तो इसे आप बिलकुल भी नजरअंदाज न करें और डॉक्टर से इस बारे में संपर्क करें। 

रेडिएशन थैरेपी की कीमत कितनी होती है? 

कैंसर के इलाज में कुछ थैरेपी ऐसी हैं जो किसी को भी जीवनदान कर सकती है। हर कोई जीवन को पाने के लिए इन थैरेपी का इस्तेमाल करने चाहेगा। ऐसे में कुछ लोग वो भी होंगे जो इस थैरेपी को कराना चाहते होंगे लेकिन वो इस बात से परेशान रहते होंगे कि इसकी कीमत कितनी होगी। आपको बता दें कि रेडिएशन थैरेपी की कीमत करीब डेढ़ लाख से शुरू होकर 3 लाख तक पहुंचती है। इस थैरेपी के लिए मरीज की स्थिति काफी अहम होती है। जिससे ये पता लगाया जा सकता है कि कैंसर शरीर में कितने हिस्सों में फैल चुका है। 

इसे भी पढ़ें: ब्रेस्ट कैंसर का चौथा चरण है बहुत खतरनाक, इन थैरेपी के जरिए हो सकता है बचाव

ये सावधानियां है जरूरी

  • कैंसर के इलाज के बाद कई तरह की सावधानियां बरतना जरूरी हो जाता है। 
  • रेडिएश थैरेपी कराने के बाद आपके लिए सबसे ज्यादा जरूरी होता है कि आप जयादा से ज्यादा आराम करें। इससे आपका शरीर जल्द से जल्द रिकवर हो सकता है। 
  • आपको ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पीना चाहिए जिससे की आपके शरीर में पानी की कमी न हो। 
  • अपने आपको जल्द स्वस्थ होने के लिए आपको अपनी डाइट पर ध्यान देना बहुत जरूरी है। इसके साथ ही आप जो भी खाएं वो साफ-सुथरा जरूर होना चाहिए। 
  • रेडिएशन थेरेपी के बाद लोगों को संबंध बनाने से बचना चाहिए क्योंकि आपके साथी को किसी तरह की स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं का खतरा रहता है।

लगातार डॉक्टर से संपर्क करते रहें। आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप तब तक डॉक्टर से संपर्क करें जब तक वो आपको पूरी तरह से स्वस्थ न बता दें। अगर आप हल्की सी सेहत ठीक होने के बाद ही अपने आपको स्वस्थ समझकर नजरअंदाज करते हैं तो इससे आपके लिए परेशानी खड़ी हो सकती है। 

Read more articles on Cancer in Hindi

Disclaimer