प्‍यार 'अंधा' होता है

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 12, 2012

pyaar andhaa hota hai

'इश्‍क कहते हैं जिसे कुछ नहीं खलल दिमाग का है' मिर्जा गालिब ने इश्‍क को कुछ यूं बयां किया है।  

'प्‍यार अंधा होता है' यह कहावत तो आपने सुनी ही होगी। कहा जाता है कि इश्‍क में इंसान की सोचने समझने की शक्ति भी कमजोर हो जाती है। सब कहते हैं कि प्‍यार में अपने होश पर काबू रखना चाहिए। लेकिन, क्‍या सच में ऐसा हो पाता है। मशहूर शायर मिर्जा गालिब ने भी इश्‍क को कुछ यूं बयां किया है, 'इश्‍क कहते हैं जिसे कुछ नहीं खलल दिमाग का है।'

[इसे भी पढ़े- प्यार में पड़ने से पहले]

इस बात पर वैज्ञानिक भी मुहर लगा चुके हैं। हाल में इंग्‍लैंड में हुए एक शोध ने भी इसे सही साबित किया है। इस शोध में शोधकर्ताओं ने प्‍यार में पड़े कुछ लोंगों के दिमाग की स्‍कैंनिंग की। इस स्‍कैंनिंग जरिए उन्‍होने पाया कि प्‍यार के जुनून में दिमाग का वह हिस्‍सा काम करना बंद कर देता है जो किसी भी स्थिति में निर्णय लेने का काम करता है।

[इसे भी पढ़े- पहली नज़र का प्यार]

प्‍यार में पड़े किसी व्‍यक्ति के बारे में अक्‍सर ही यह बात कही जाती है कि आखिर कौन सी चीज है जिसके लिए वह अपना सबकुछ दांव पर लगा देता है, अपना घर-परिवार और करियर। शोधकर्ताओं के मुताबिक जब हम किसी व्‍यक्ति को जुनून की हद तक चाहने लगते हैं तो हमारे दिमाग का वह हिस्‍सा जो भय और निर्णय के लिए जिम्‍मेदार होता है, काम करना बंद कर देता है। लेकिन, किसी के प्‍यार में पड़ते ही यह काम करना बंद कर देता है। मुन्‍नाभाई के शब्‍दों में कहें तो यह 'केमिकल लोचा' होता है।

[इसे भी पढ़े- प्यार क्या है]

 

शोधकर्ताओं ने परीक्षणों के दौरान एमआरआई स्‍कैन में पाया कि दिमाग में आया यह परिर्वतन तब भी हो जाता है जब उस व्‍यक्ति की फोटो हम देखते हैं और जिसकी किसी भी प्रकार की आलोचना हम नहीं बर्दाशत कर पाते।

Read More Article On- Health news in hindi

Loading...
Is it Helpful Article?YES2 Votes 13117 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK