दुनिया में हो रही 4% मौतों का कारण है लंबे समय तक बैठना

लंबे समय तक बैठकर काम करने से कई सारे नुकसानों के बारे में तो आपने सुना होगा। लेकिन हाल ही में हुई शोध से पुष्टि हुई है कि अब लगातार बैठने से मौतें भी होती हैं।

Gayatree Verma
लेटेस्टWritten by: Gayatree Verma Published at: Mar 28, 2016
दुनिया में हो रही 4% मौतों का कारण है लंबे समय तक बैठना

अगर आप लंबे समय तक बैठ कर काम करती हैं तो सतर्क हो जाएं। हाल ही में आई इस शोध से इस बात की पुष्टि हुई है कि दुनिया में होने वाली मौतों में 4% मौतों का कारण लंबे समय तक बैठे रहना है। अमेरिकन जर्नल ऑफ प्रीवेंटिव मेडिसिन में यह शोध प्रकाशित की गई है। इस शोध के अनुसार दुनियाभर में हो रही 4% मौतें, तीन घंटे से ज्यादा समय तक बैठने से शरीर पर पड़ने वाली दुष्परिणामों के कारण होती है। इस शोध में 54 देशों के सर्वेक्षणों का विश्लेषण कर ये परिणाम निकाले गए हैं।

सीटिंग जॉब

कम बैठने से होती है जीवन प्रत्याशा में वृद्धि

इस शोध के अनुसार अगर आप पूरे दिन में लगातार तीन घंटों तक नहीं बैठते हैं तो आपकी जीवन प्रत्याशा में वृद्धि होती है। सर्वेक्षण के अनुसार हर दिन तीन घंटे से कम समय बैठने से जीवन प्रत्याशा में 0.2 वर्षों की बढ़ोतरी होती है। बैठने के हानिकारक प्रभावों के सही आकलन करके अध्ययन में दुनियाभर के 54 देशों के व्यवहार संबंधी सर्वेक्षणों का विश्लेषण किया गया है और उन्हें आबादी के आकार, जीवनांकिक तालिका एवं कुल मौतों के आंकड़ों के साथ मिलाया गया।


ब्राजील के यूनिवर्सिटी ऑफ साओ पाउलो स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अपने अध्ययन में पाया कि बैठने से महत्वपूर्ण रुप से हर तरह की मौत के कारण प्रभावित होते हैं। इनका आंकड़ा 54 देशों में कुल मौतों की संख्या में करीब 3.8% है। इस शोध के निष्कर्ष इस बात की पुष्टि होती है के स्वस्थ रहने के लिए लगातार तीन घंटों तक बैठक कर काम ना करें।

 

 

Read more Health News in Hindi.

Disclaimer