पेट के कैंसर से बचाव

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 19, 2013

पेट के कैंसर के कारणों को अभी पूरी तरह समझा नही जा सका है। लेकिन कुछ ऐसे उपाय है जिन्हें अपनाकर आप पेट के कैंसर की रोकथाम कर सकते है। आप अपने भोजन और दिनचर्या में जरूरी बदलाव कर इस बीमारी से खुद को बचा सकते हैं।

pet ke cancer se bachav

 

भोजन में ज्यादातर ताजे फलों और सब्जियों का सेवन करें, धूम्रपान न करें, शराब कम पिएं। अधिकांश विशेषज्ञों की यह सलाह है कि महिलाओं को दिन में एक ड्रिंक और पुरूषों को दिन में दो से अधिक ड्रिंक नही लेने चाहिए। मसालेदार भोजन, बेक किए हुए भोजन और नाइट्रेट्स द्वारा सुरक्षित किए गए खाद्य पदार्थों से बचें। आइए जानें हमारे साथ पेट के कैंसर से बचने के उपायों को।


पेट के कैंसर से बचाव


टेंशन को रखें दूर
तनाव मुक्त रहिये और कैंसर से बचिए। ताजा शोध इस बात की पुष्टि करते हैं कि मानसिक तनाव कैंसर के प्रमुख लक्षणों में है। और तो और तनाव का स्तर ही इस बात का भी निर्धारण करता है कि कैंसर शरीर के किस हिस्से को प्रभावित करेगा। कैंसर से बचे रहने के लिए तनाव को दूर रखें।

[इसे भी पढ़े - खुश रहें और सकारात्मक सोचें]

जीवन शैली
पेट के कैंसर के जोखिम को कम करने के लिए जीवन शैली में परिवर्तन करें। स्वस्थ रहने के लिए नियमित एक्सरसाइज और समय पर भोजन लेना जरूरी है। आधुनिक जीवन शैली में रुटीन डायट और एक्सरसाइज का समय नहीं मिलता लेकिन स्वस्थ रहने के लिए अपनी दैनिक दिनचर्या में थोड़ा परिवर्तन जरूरी है। आप कदम उठा कर अपने रोजमर्रा के जीवन में जरूरी परिवर्तन करके पेट के कैंसर के जोखिम को कम कर सकते हैं।

फलों और सब्जियों का सेवन
फल, सब्जियां, साबुत अनाज, विटामिन, खनिज और फाइबर एंटीऑक्सीडेंट होते है, जो कैंसर की रोकथाम में अहम भूमिका निभाते हैं। इसलिए ऐसे फलों और सब्जियों की किस्म का चयन करें जो विटामिन और पोषक तत्वों से भरपूर हो।

 

[इसे भी पढ़े - फल-सब्जियां बचाएंगी कैंसर से]

वसा और कोलेस्ट्रॉल
आप अपने आहार में वसा और कोलेस्ट्रॉल, विशेष रूप से जो पशु स्रोतों से प्राप्त होता है को कम कर दे क्योंकि वसा और कोलेस्ट्रॉल में वृद्धि पेट के कैंसर होने के खतरे को बढ़ा देता है। जबकि उच्च फाइबर आहार से सुरक्षात्मक प्रभाव दिखाई देता है।
   
शराब का बचाव
अगर आप शराब लेते है तो वैसे तो शराब लेनी नही चाहिए लेकिन फिर भी अगर आप लेते है तो कम मात्रा में लें। अल्कोहल की मात्रा के सम्बध में अधिकांश विशेषज्ञ यह सलाह देते हैं कि महिलाओं को एक दिन में एक ड्रिंक से अधिक और पुरूषों को एक दिन में दो से अधिक ड्रिंक नही लेने चाहिए।

धूम्रपान से बचाव
अगर आपको पेट के कैंसर की रोकथाम करनी है तो धूम्रपान करना छोड़ देना चाहिए। और अगर आप नही छोड़ पा रहे है तो आप इस बारे में अपने डॉक्टर से बात करें, क्योंकि यह पेट के कैंसर के लिए एक जोखिम कारक भी है। धूम्रपान दो मुख्य कारणों के कारण आपके जोखिम को बढ़ सकता है पहले सांस द्धारा तंबाकू के धुएं का निगलाना, दूसरा तम्बाकू का उपयोग।

[इसे भी पढ़े - पेट के कैंसर के लक्षण]

व्यायाम
व्यायाम को अपने दिनचर्या में शमिल करें। व्यायाम को कम से कम 30 मिनट करने का प्रयास करें। यदि आप से शुरू में 30 मिनट नही होता है तो कम समय के लिए करें और धीरे धीरे समय बढ़ा दें। इसके अलावा, किसी भी व्यायाम कार्यक्रम को शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर ले लें।
 
स्वस्थ वजन
एक स्वस्थ वजन बनाए रखें। अन्य सभी की तुलना में मोटापे से ग्रस्त लोगों में पेट के कैंसर का जोखिम अधिक होता हैं। इसके अलावा, शरीर के कुछ अंग से दूसरों की तुलना में अधिक जोखिम होता हैं। अध्ययन से संकेत मिलता है कि कमर में अतिरिक्त वसा पेट के कैंसर में जांघों या कूल्हों में अतिरिक्त वसा की तुलना में अधिक जोखिम बढ़ाती है।

परिवार का चिकित्सा इतिहास
क्या आप जानते हैं कि अगर आपके परिवार के इतिहास में किसी को पेट का कैंसर है तो आपमें इसके विकास के अवसर बढ़ सकते है? जब आप अपने डॉक्टर से पेट के कैंसर की रोकथाम पर चर्चा करें तो उसे जरूर बताए कि परिवार के सदस्य को पेट का कैंसर है क्योंकि इससे अन्य प्रकार के कैंसर (जैसे पेट, जिगर, और हड्डी) भी प्रासंगिक हो सकते है।

 

 

Read More Article on Pet-Ka-Cancer in hindi.

Loading...
Is it Helpful Article?YES20 Votes 19799 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK