मानसून में गर्भवती महिलाओं को डाइट से जुड़ी इन बातों का रखना चाहिए ध्यान, तभी शिशु होगा स्वस्थ

गर्भवती महिलाओं को अपने खान-पान पर ध्यान देने की जरूरत होती है। मानसून के मौसम में खाने-पीने में बरती गई जरा-सी लापरवाही आपकी तबीयत बिगाड़ सकती है।

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Jun 21, 2012
मानसून में गर्भवती महिलाओं को डाइट से जुड़ी इन बातों का रखना चाहिए ध्यान, तभी शिशु होगा स्वस्थ

मानसून अक्सर अपने साथ कई बीमारियों और संक्रमण को लेकर आता है। हम अक्सर बच्चों को इस मौसम में संभलने की हिदायत देते हैं लेकिन अक्सर गर्भवती महिलाएं इस मौसम की चपेट में आ जाती है, जिससे न केवल उनके पेट में पल रही नन्ही सी जान को भी जूझना पड़ता है। ऐसे में गर्भवती महिलाओं को अपने खान-पान पर ध्यान देने की जरूरत होती है। मानसून के मौसम में खाने-पीने में बरती गई जरा-सी लापरवाही आपकी तबीयत बिगाड़ सकती है। गर्भवती महिलाओं को इस मौसम में अपने खान-पान का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

डॉक्टर ऐसे में आमतौर पर पौष्टिक आहार लेने की सलाह देते हैं। मानसून में गर्भवती महिला को जरूरी विटामिन, खनिज, कैल्शियम, प्रोटीन, कैलोरी से भरपूर खाद्य पदार्थों भरपूर सेवन करना चाहिए। आइए जानें मानसून में गर्भवती को अपने आहार में किस प्रकार की सावधानी लेनी चाहिए।

गर्भवती महिलाएं इन बातों का रखें ध्यान-

  • अगर आप गर्भवती हैं तो हमेशा ताजा खाना ही खाएं। इस मौसम में थोड़ी-सी लापरवाही आपको नुकसान पहुंचा  सकती है।
  • खाना फ्रिज में से निकालते ही न खाएं। उसे थोड़ी बाहर रखकर उसका तापमान सामान्य होने दें। 
  • दिन में आठ-दस गिलास पानी पीएं। बाहर के खाने का परहेज करें।
  • जंकफूड को बिल्कुल नजरअंदाज कर दें।
  • मानसून में पत्तेदार सब्जियां ना खाएं, क्योंकि इन सब्जियों में सेल्यूलोस होता है जो ठीक से पचता नहीं है।
  • बरसात में विशेष तौर पर कटे और खुले में रखे हुए फल ना खाएं।
  • तला खाना नहीं खाना चाहिए। यह जल्दी नहीं पचता।
  • ऐसी चीजें खानी चाहिए जो सूखी हों जैसे मक्का, चना, बेसन, जौ आदि।
  • इस मौसम में पीने के पानी का सावधानी से इस्तेमाल करें। पानी को जहाँ तक हो सके उबाल कर ठण्डा करके ही पीएं।

इसे भी पढ़ेंः गर्भावस्था के पहले सप्ताह में दिखते हैं ये लक्षण, जानें गर्भवती होने पर कैसा हो आपका आहार

चीजें है जो मानसून में आपको फिट रखेंगी-

  • हल्दी हमारे शरीर को कीटाणुओं से बचाती है। थोड़ी-सी हल्दी में कुछ बूंद पानी मिलाकर उसकी गोली बनाकर खाना भी बहुत मददगार साबित होगा।
  • शहद आपकी पाचन क्रिया को ठीक रखने में मदद करता है। रोजाना दो चम्मच शहद आपको तो फिट रखेगा, साथ ही, इससे नींद भी अच्छी आयेगी।
  • आप लहसुन की चटनी बनाकर तो खा ही सकती हैं। यह आपके शरीर को रोग रहित बनाता है।
  • लौह युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन भी गर्भावस्था के दौरान बहुत जरूरी है। ये न सिर्फ खून की कमी को दूर करता है बल्कि हड्डियों को भी मजबूत करता है।
  • उबला हुआ भोजन खाना गर्भावस्था के समय सबसे बढि़या है।
  • गर्भावस्था में ऐसा भोजन करना चाहिए, ताकि मोटापा ना हो।
  • गर्भावस्था आहार में कम से कम नमक का इस्तेमाल करते हुए फोर्टिफायड फूड लेना चाहिए।
  • गर्भवती महिला को गेहूं, ओट मिल और अनाज की ब्रेड का ही सेवन करना चाहिए।
  • पानी तो हमेशा से ही किफायती होता है। गर्भवती महिला को अधिक से अधिक पानी पीना चाहिए।
  • ताजा खाने के साथ-साथ ताजे फल, ताजा जूस और उबला हुआ दूध और उससे बने पदार्थों का ही सेवन करना चाहिए।
  • बरसात के मौसम में कुछ चीजें जैसे मांस, अंडा, नट्स, पालक, गाजर, आलू, मक्का, मटर, संतरे, अंगूर, तरबूज और जामुन, ब्रेड, अनाज, चावल का सेवन गर्भावस्था के दौरान अवश्य ही करना चाहिए।

Read More Articles On Women Health In Hindi

Disclaimer