लगातार काम से जम सकता है खून का थक्‍का

आइये जानें, क्‍या बाकई में लगातार काम करने से खून का थक्‍का जमने की परेशानी हो सकती है।

 ओन्लीमाईहैल्थ लेखक
आफिस स्‍वास्‍थ्‍यWritten by: ओन्लीमाईहैल्थ लेखकPublished at: Oct 11, 2012
लगातार काम से जम सकता है खून का थक्‍का

lagatar kaam se jum sakta hai khoon ka dhakka

आप अपने दफ्तर में लगातार बैठकर काम करते हैं। हालत यह है कि भोजन पानी भी अपनी टेबल पर ही करते हैं। बेशक, आप ऐसा काम की अधिकता या फिर वक्‍त बचाने के लिए करते हैं, लेकिन यह सब आपकी सेहत को गंभीर नुकसान पहुंचा सकता है। अगर आपकी दिनचर्या ऐसी ही है तो आपको इसे फौरन बदलने की जरूरत है। इस तरह की दिनचर्या अपनाने से खून का थक्‍का जमने का खतरा काफी बढ़ जाता है।

[इसे भी पढ़े- कुर्सी से चिपके रहेंगे, तो सेहत को होगा नुकसान]

एक नए शोध में यह बात निकलकर सामने आयी है कि जो लोग लगातार 10 घंटे तक काम करते हैं और इस दौरान कोई विराम नहीं लेते तो उनमें खून का थक्‍का जमने का खतरा दोगुना हो जाता है। यह अध्‍ययन काम के बीच लिए जाने वाले विराम के महत्त्‍व को दिखाता है।

[इसे भी पढ़े- आफिस स्‍वास्‍थ्‍य के नुस्‍खे]

अध्‍ययन 21-30 साल की आयु वाले लोगों पर किया गया। अध्‍ययन में शामिल करीब 75 फीसदी लोगों ने काम के दौरान आराम नहीं लेने की बात को स्‍वीकार किया। अध्‍ययनकर्ताओं ने पाया कि काम के दौरान विराम नहीं लेने वाले डीप वीनस थ्राम्‍बोसिस यानी खून का थक्‍का जमने की बीमारी की चपेट में आ जाते हैं।

[इसे भी पढ़े- कंप्‍यूटर प्रयोग और स्‍वास्‍थ्‍य]

जानकार काम के बीच में आराम लेने की सलाह देते रहते हैं। इससे दिमाग को आराम मिलता है और कार्यक्षमता में भी इजाफा देखने को मिलता है।

 

Read More Article On- Office aur swatha

Disclaimer