स्वास्थ्य संबंधी परिस्थितियों में अल्कोहल का सेवन है कितना उचित? जानें यहां

कुछ खास परिस्थितियों में अल्कोहल का सेवन नुकसानदायक हो सकता है। क्या है वह परिस्थितियां जब इसका सेवन नहीं करना चाहिए? आइए जानते हैं।

 
Monika Agarwal
विविधWritten by: Monika AgarwalPublished at: Oct 12, 2020
स्वास्थ्य संबंधी परिस्थितियों में अल्कोहल का सेवन है कितना उचित? जानें यहां

कई बार हमें कुछ ऐसी स्वास्थ्य सम्बन्धित समस्याएं हो जाती हैं जिनमें हमें पता नहीं होता है कि हमारे लिए किसका सेवन उचित है या नहीं। परंतु आप के लिए यह जानना बहुत आवश्यक होता है खास कर जब बात अल्कोहल की हो। कई स्वास्थ्य सम्बन्धी स्थितियों में अल्कोहल पीने से वह स्थिति और अधिक गंभीर हो जाती है। 

यदि आप सेफोटेतन, मेट्रोनिडाजोल और टिनिडाज़ोल जैसी दवाइयां ले रहे हैं तो अल्कोहल पीने से आप को सिर दर्द, उल्टियां आदि हो सकती है। अतः किसी भी अन्य प्रकार की एंटी बायोटिक लेने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से जरूर सलाह लें। अन्यथा आप को कई एंटी बायोटिक के साथ शराब लेने से साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। 

चिकित्सक के अनुसार यदि गर्भवती महिला अल्कोहल का सेवन करती हैं तो उसका असर भी गर्भ में पल रहे शिशु और महिला के स्वास्थ्य पर पड़ेगा। इसलिए ऐसे में भी अल्कोहल का सेवन काफी नुकसानदायक है। क्योंकि गर्भ में पल रहे बच्चे के नर्वस सिस्टम को इससे नुकसान पहुंचता है और उसका विकास रुक जाता है।अन्य भी ऐसी बहुत सी परिस्थितियां हैं जब अल्कोहल का सेवन सोच समझ कर करना चाहिए जानते हैं। 

alchohol

हाई ब्लड प्रेशर के साथ (High Blood Pressure)

 यदि आप का ब्लड प्रेशर पहले से ही हाई है तो आप को अल्कोहल नहीं पीनी चाहिए। नहीं तो आप का ब्लड प्रेशर और भी अधिक बढ़ जाएगा। जो आप के स्वास्थ्य के लिए एक चिंता का विषय बन सकता है। यदि आप बहुत अधिक ड्रिंक करते हैं तो इसके बारे में डॉक्टर से बात कर सकते हैं।  

पेन किलर्स लेने पर (Nonprescription Painkillers)

एस्प्रिन व इबूप्रोफेन नामक पेन किलर्स के साथ अल्कोहल पीने पर भी आप को कई तरह के साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। यदि आप इन्हे लेने के आदी हैं तो आप को थोड़ी बहुत अल्कोहल कोई नुक़सान नहीं पहुंचाएगी, परंतु ध्यान रखें कि ज्यादा हैवी डोज न लें। 

यदि आप प्रेगनेंट होने की सोच रहे हैं (Trying to Get Pregnant)

 हल्की सी भी अल्कोहल महिलाओं के लिए प्रेगनेंट होना मुश्किल बना सकती है। इसलिए यदि आप प्रेगनेंट होने की प्लानिंग कर रहे हैं तो यह बेहद जरूरी है कि आप अल्कोहल का सेवन ना करें।सिर्फ महिला ही नहीं पुरुष के लिए भी ऐसे समय में अल्कोहल का सेवन सही नहीं।  इसलिए आप दोनों को ही ऐसी हालत में शराब पीना छोड़ देना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें- अक्सर एक जैसे लगते हैं एंग्जायटी और पैनिक अटैक के लक्षण, जानें कैसे करें इन दोनों में फर्क

किसी मस्तिष्काघात से ठीक होते समय (Recovering From a Concussion)

यदि आप कोदिमागी रूप से चोट लगी है और आप ठीक हो रहे हैं तो आप को अल्कोहल बिल्कुल भी नहीं पीनी चाहिए। क्योंकि हल्की सी अल्कोहल की मात्रा भी आप को सोते समय या कुछ भी याद करते समय बहुत मुश्किलें देगी। आप अल्कोहल पीने के बाद स्वयं को चोटिल भी कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- मानसिक स्वास्थ्य के लिए है फायदेमंद हो सकता है बीयर का सेवन, जानें कितनी मात्रा में बीयर पीना है सही

फर्टिलिटी उपचार के समय (Fertility Treatment)

 यदि आप आईवीएफ या जीआईएफटी के द्वारा प्रेगनेंट होने की सोच रही हैं तो अल्कोहल आप के प्रेगनेंट होने के चांस कम कर सकती है। यदि आप सप्ताह में 4 ड्रिंक्स भी लेती हैं तो यह आप के लिए मुश्किल हो जाता है। अतः इस समय अल्कोहल को बिल्कुल त्याग दें।

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer