Scrambled vs Boiled Eggs: अंडे खाने का सेहतमंद तरीका क्‍या है, तलकर या उबालकर? जानिए फैक्‍ट्स

अंडे का इस्तेमाल कई तरीकों से किया जाता है। कुछ लोग इसे उबालकर खाते हैं तो कुछ पकाकर। ऐसे में पता होना चाहिए कि कौन सा तरीका सबसे अच्छा है...

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Sep 30, 2020Updated at: Sep 30, 2020
Scrambled vs Boiled Eggs: अंडे खाने का सेहतमंद तरीका क्‍या है, तलकर या उबालकर? जानिए फैक्‍ट्स

अंडा सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। कुछ लोग इसे तलकर खाना पसंद करते हैं तो कुछ को केवल इसे उबालकर खाना अच्छा लगता है। कुछ ऐसे भी हैं जो न उबालकर और न तलकर बल्कि अंडे के अंदर का कच्चा तरल पदार्थ ऐसे ही पी जाते हैं। लोग सबसे पहले स्वाद को प्राथमिकता देते हैं। बता दें कि पके हुए अंडे के फायदे और उबले अंडे के फायदे भिन्न हैं। सवाल ये है कि जिस अंडे को वे अपने स्वादानुसार उबालकर या तलकर खा रहे हैं उससे सेहत पर क्या प्रभाव पड़ेगा? इस लेख के माध्यम से जानेंगे कि अंडे को खाने का कौन-सा तरीका है बेस्ट? साथ ही इसमें छुपे गुणों के बारे में जानेंगे। पढ़ते हैं आगे...

eggs type

अंडे को क्यों कहते हैं सुपरफूड?

अंडे को सुपरफूड कहा जाता है क्योंकि यह स्वस्थ पोषक तत्वों और विटामिन से भरा होता है। इसके अंदर प्रोटीन, बायोटिन, आयरन, सैचुरेटेड फैट, विटामिन बी 7, विटामिन एच, विटामिन बी 12, जिंक, मैग्नीशियम और कैरोटीनॉयड भरपूर मात्रा में पाया जाता है। उच्च कोलेस्ट्रॉल और हृदय संबंधी समस्याओं से जूझ रहे लोगों को अंडा खाने के लिए मना कर देते हैं।

कच्चे अंडों का सेहत पर प्रभाव

कुछ लोग, विशेष रूप से मसल्स को बढ़ाने के लिए कच्चे अंडे खाते हैं। हालांकि ऐसा करना गलत है। अंडे ज्यादातर साल्मोनेला से दूषित होते हैं। ऐसे में इनके कच्चे सेवन से ये बैक्टीरिया खाद्य जनित बीमारियों को शरीर में पैदा कर सकते हैं। डॉक्टर्स ऐसे लोगों को अंडों को पकाने की सलाह देते हैं। ये अंडे कुछ पोषक तत्वों से युक्त भी होते हैं। पकाने के बाद प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया सकता है। 

इसे भी पढ़ें- कच्चे या उबले हुए अंडे: दोनों में कौन है सेहत के लिए है बेहतर? जानें किससे होता है ज्यादा फायदा

अंडे को पकाकर खाना

अंडे को ज्यादातर लोग पकाकर खाते हैं। अंडे का टोस्ट बनाकर खाया जाए तो वह स्वस्थ और उच्च प्रोटीन वाला नाश्ता है। इसके लिए आपको बस एक कटोरे में अंडे को फोड़कर उसके अंदर का तरल पदार्थ निकालना है, उन्हें अच्छी तरह से फैट लें, इसमें कुछ मसाले, सब्जियां और पनीर जोड़ें और फिर मिक्स करके फ्राईपेन में डालें और मध्यम आंच पर पकाएं। यह अंडे को पकाने की सबसे आसान विधि है और इससे अंडा जल्दी भी बनता है। अगर आप इन्हें ज्यादा नहीं पकाएंगे तो संवेदनशील पोषक तत्वों काफी कम मात्रा में नष्ट होंगे। तले हुए अंडे को ओवरकुक करने से अंडों में प्रोटीन और विटामिन बी -12 जैसे कई पोषक तत्वों की कमी हो सकती है।

eggs boiled

ये भी पढ़ें- हाफ फ्राई या आधा कच्चा-पका अंडा खाने के हैं शौकीन लेकिन नहीं जानते ये हेल्दी है या अनहेल्दी? जानें पोषण मात्रा

अंडे को उबालकर खाना

अंडों को उबालने के लिए एक बर्तन में पानी लेकर, उसमें अंडे डाल दें। और फिर उस बर्तन को ऊपर से बंद कर के मंदी आंच पर छोड़ दें। यह अंडे उबालने का एक वसा रहित तरीका है। इस तरीके से अंडे टूटते भी कम हैं। यदि आपने उन्हें ओवरकुक कर भी लिया है तब भी उनमें से केवल कुछ पोषक तत्व निकलेंगे। अंडों को उबालने से अंडे की जर्दी (Yolks) में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा कम हो सकती है। जर्नल ऑफ एग्रीकल्चरल फूड केमिस्ट्री में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, अंडे को उबालने से अंडे की जर्दी में एंटीऑक्सिडेंट सामग्री में 22.5 प्रतिशत की कमी आ सकती है। बता दें कि सख्त उबले अंडे की तुलना में, नरम उबले अंडे में अधिक पोषक तत्व पाया जाता है।

Read More Articles On diet and fitness in hindi

Disclaimer