इस तरह हर मौसम को बनायें सुहाना

बदलते मौसम मे स्वस्थ रहने के लिए कुछ सावधानियों को बरतना बहुत जरूरी है वरना ये सेहत के लिए हानिकारक हो सकती है। ये सावधानिया जानने के लिए ये लेख पढ़े।

Aditi Singh
तन मनWritten by: Aditi Singh Published at: Aug 06, 2015
इस तरह हर मौसम को बनायें सुहाना

बदलते मौसम मे सेहत का ख्याल रखना किताना जरूरी है ये बात हम सभी जानते है। मौसम हर तीन महीने पर बदल जाता है पर ये बदलता मौसम हर बार हमें किसी ना किसी बीमारी का शिकार बना देता है। इसलिए बदलते हुए इन मौसम में हमें कुछ सावधानी बरतनी चाहिए ये इसका प्रभाव हम पर ना पड़ें। ये सावधानियां आसान भी है और हर मौसम के लिए उपयुक्त भी।  इन सावधानियों के बारे में विस्तार से जानने के लिए ये लेख पढ़ें।
Weather in Hindi

खुद को रखें साफ

हमें कई कामों के सिलसिले में अक्सर बाहर आना-जाना पड़ता है। ऐसे में कभी भी बाहर से घर आने के बाद, किसी बाहरी वस्तु को हाथ लगाने के बाद, खाना बनाने से पहले, खाने से पहले, खाने के बाद और बाथरूम का उपयोग करने के बाद हाथों को अच्छी तरह साबुन से धोएं। यदि आपके घर में कोई छोटा बच्चा है, तब तो यह और भी जरूरी हो जाता है। उसे हाथ लगाने से पहले अपने हाथ अच्छे से जरूर धोएं।

Weather in Hindi

घर को रखें स्वस्छ

घर में सफाई पर खास ध्यान दें, विशेषकर रसोई तथा शौचालयों की साफ-सफाई को प्राथमिकता दें। घर में कहीं भी पानी को कहीं भी एकत्र न होने दें। सिंक, वॉश बेसिन आदि जैसी जगहों पर नियमित रूप से सफाई करें तथा फिनाइल, फ्लोर क्लीनर आदि का उपयोग करती रहें। खाने की किसी भी वस्तु को खुला न छोड़ें।  कभी भी गीले बर्तनों को रैक में नहीं रखें, न ही बिना सूखे डिब्बों आदि के ढक्कन लगाकर रखें। अपने विश्राम करने या सोने के कमरे को साफ-सुथरा, हवादार और खुला-खुला रखें। चादरें, तकियों के गिलाफ तथा पर्दों को बदलती रहें तथा मैट्रेस या गद्दों को भी समय-समय पर धूप दिखाकर झटकारें।


Weather in Hindi

भोजन में सावधानी

ताजी सब्जियों-फलों का प्रयोग करें। उपयोग में आने वाले मसाले, अनाजों तथा अन्य सामग्री का भंडारण भी सही तरीके से करें तथा एक्सपायरी डेट वाली वस्तुओं पर तारीख देखने का ध्यान रखें। बहुत ज्यादा तेल, मसालों से बने, बैक्ड तथा गरिष्ठ भोजन का उपयोग न करें। भोज्य पदार्थों को हमेशा ढंककर रखें और ताजा भोजन खाएं। खाने में सलाद, दही, दूध, दलिया, हरी सब्जियों, साबुत दाल-अनाज आदि का प्रयोग अवश्य करें। खाना पकाने तथा पीने के लिए साफ पानी का उपयोग करें। खाना पकाने के लिए अनसैचुरेटेड वेजिटेबल ऑयल (जैसे सोयाबीन, सनफ्लॉवर, मक्का या ऑलिव ऑयल) के प्रयोग को प्राथमिकता दें।


मेडिटेशन, योगा या ध्यान का प्रयोग एकाग्रता बढ़ाने तथा तनाव से दूर रहने के लिए करें। कोई भी एक व्यायाम रोज जरूर करें। इसके लिए रोजाना कम से कम आधा घंटा दें और व्यायाम के तरीके बदलते रहें, जैसे कभी एयरोबिक्स करें तो कभी केवल तेज चलें।

 

Image Source-Getty

Read More Article on Healthy Living In Hindi

Disclaimer