पेट में हो रही एसिडिटी और पेट दर्द से ऐसे पाएं छुटकारा, पाचन क्रिया भी होगी मजबूत

एसिडिटी की समस्या अनियमित खान-पान के कारण ज्यादा होती है। एसिडिटी से बचने के लिए जानिए इन घरेलू नुस्‍खों के बारे में जो दिलाएंगे जल्द छुटकारा। 

Vishal Singh
घरेलू नुस्‍खWritten by: Vishal SinghPublished at: May 04, 2018
पेट में हो रही एसिडिटी और पेट दर्द से ऐसे पाएं छुटकारा, पाचन क्रिया भी होगी मजबूत

अक्सर खानपान या फिर खाली पेट की वजह से पेट में गैस बनने लगती है। वैसे तो कई लोग पेट में बनने वाली गैस को नजरअंदाज करते हैं। लेकिन ये कई बार आपके लिए खतरनाक भी साबित हो सकती है। बहुत कम लोग ही पेट में बनने वाली गैस से होने वाले नुकसान के बारे में जानते हैं। यह एसिड इतना तेज होता है कि एक रेजर ब्‍लेड को गला देता है। तभी तो कुछ वैद्य इसे बेहद खतरनाक मानते हैं। 

कई वेद्य का कहना है कि यदि यह एसिड इतना तेज होता है, तो ये शरीर के अंदर कितना नुकसान पहुंचाता होगा। आजकल की भागदौड भरी जीवनशैली के कारण पेट की समस्या काफी आम हो चली है।

ज्यादातर लोगों को ये गैस बाहर के तले-भुने और मसालेदार खाने का सेवन करने से होती है। कई बार खाने का एक समय निर्धारित भी नहीं होता है, जो एसिडिटी एक बड़ा कारण बनता है। आपको बता दें कि पेट में जब सामान्य से ज्यादा मात्रा में एसिड निकलता है तो उसे एसिडिटी कहते हैं। जो लोग अक्सर गैस की समस्या से परेशान रहते हैं वो हमेशा इससे छुटकारा पाने के लिए कई तरह की चीजों को अपनाते हैं। लेकिन कई बार कुछ नुस्खे काम नहीं आते। हम आपको इस लेख के जरिए कुछ ऐसे घरेलू उपाय बताते हैं जिनका इस्तेमाल कर आप एसिडिटी से जल्द छुटकारा पा सकते हैं। 

एसिडिटी से छुटकारा पाने के घरेलू नुस्खे

मुलेठी का काढ़ा

अगर आपको एसि़डिटी की परेशानी लगातार होती है तो आप काढ़ा का सेवन करें। जब आपको एसिडिटी हो तो आप मुलेठी का चूर्ण या काढ़ा बनाकर उसका सेवन करें। इससे आपके पेट में बन रही एसिडिटी कम होने लगेगी और एसिडिटी से हो रहे दर्द में भी आपको राहत मिलेगी। 

इसे भी पढ़ें: पेट में गैस की समस्या से परेशान हैं? जानें आपको क्यों बनती है ज्यादा गैस और कैसे रोकें इसे

नीम की छाल

गैस से छुटकारा पाने के लिए आप नीम की छाल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। आप नीम की छाल का चूर्ण या रात में  भिगोकर रखी छाल का पानी छानकर पी सकते हैं। ऐसा करने से आपके पेट में बन रही एसिडिटी ठीक हो जाती है।

त्रिफला

वैसे को हर किसी को त्रिफला के बारे में जानकारी नहीं होगी लेकिन जिन्हें इसके बारे में पता होगा वो इससे होने वाले फायदों के बारे में अच्छी तरह जानते होंगे। आपको बता दें गैस या एसिडिटी होने पर त्रिफला चूर्ण का प्रयोग करने से फायदा होता है। आप त्रिफला को दूध के साथ पीने से एसिडिटी खत्म हो जाती है।

मुनक्का 

गैस से कई बार पेट में तेज दर्द होने लगता है। दूध में मुनक्का डालकर उबाल लें। उसके बाद दूध को ठंडा करके पीने से आपको पेट दर्द और गैस में फायदा मिलेगा और एसिडिटी ठीक हो जाएगी है।

इसे भी पढ़ें: पाचन क्रिया को कैसे प्रभावित करता है गॉल ब्‍लैडर स्‍टोन

इन सब उपाय के साथ आपको अपने खानपान पर खास ध्यान देने की जरूरत है। एसिडिटी की समस्या खान-पान के कारण ज्यादा होती है। इसलिए आपको नुकसान देने वाला भोजन करने से परहेज करें। एसिडिटी के समय रात को सोने से तीन घंटे पहले डिनर कर लेना चाहिए, जिससे खाना अच्छे से पच सके। अगर आपको इन नुस्खों को अपनाने के बाद भी एसिडिटी की समस्या से छुटकारा नहीं मिल रहा तो आपको इस मामले में डॉक्टर से संपर्क करने की जरूरत है, इससे नजरअंदाज ना करें। 

Read More Article On Home Remedies In Hindi 

Disclaimer