World Plastic Surgery Day 2019: क्‍या प्‍लास्टिक सर्जरी के बाद बदल जाता है चेहरा? जानें क्‍या है सच

विविधBy Onlymyhealth editorial teamJul 15, 2019

भारत में प्‍लास्टिक सर्जरी (World Plastic Surgery Day) को लेकर कई मिथक हैं। हम में से बहुत से लोग सोचते हैं कि प्लास्टिक सर्जरी करवाने से हमें बिना दाग-धब्‍बों के नया चेहरा मिल जाएगा। हालांकि, प्लास्टिक सर्जरी से जुड़े मिथकों को दूर करना बहुत जरूरी है। प्लास्टिक सर्जरी एक विशिष्ट अंग तक सीमित नहीं है। इसके अलावा, हम में से कई लोगों को यह भी लगता है कि प्‍लास्टिक सर्जरी के दौरान किसी प्‍लास्टिक का उपयोग किया जाता है। जबकि केवल 5 प्रतिशत मामलों में प्लास्टिक सर्जरी के मामलों में एलोप्लास्टिक प्रत्यारोपण का उपयोग करने की आवश्यकता होती है। 

प्लास्टिक सर्जरी को मोटे तौर पर दो श्रेणियों में विभाजित किया गया है:

कॉस्मेटिक सर्जरी- Cosmetic Surgery: यह एक ऐसी सर्जरी है, जिससे शरीर के किसी अंग को खूबसूरत बनाने या एक नया आकार देने के लिए किया जाता है। 

पुर्ननिर्माण सर्जरी- Reconstructive Surgery: जन्मजात विकलांगता या दुर्घटना के दौरान लगी गंभीर चोटों का इलाज करने के लिए इस सर्जरी का प्रयोग किया जाता है। 

डॉक्‍टर रिचि गुप्‍ता (एचओडी, प्लास्टिक, एस्थेटिक एंड रिकंस्ट्रक्टिव सर्जन, फोर्टिस हेल्थकेयर) के मुताबिक, "पिछले 20 वर्षों में प्लास्टिक सर्जरी के मामलों में 20 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।"

आज वर्ल्‍ड प्‍लास्टिक सर्जरी डे 2019 (World Plastic Surgery Day 2019) के मौके पर, हमने अपने हेल्‍थ टॉक वीडियो में डॉ रिचि गुप्‍ता से बातचीत की, जिसमें उन्‍होंने इस बारे में विस्‍तार से जानकारी दी। उन्‍होंने बताया कि, कैसे प्लास्टिक सर्जरी जीवन के तरीके को बेहतर बना सकती है? इसके अलावा दवा और सर्जरी से जुड़े कई मिथकों का भंडाफोड़ किया है। 

Watch More Video On Health Talk In Hindi

Disclaimer