अन्य़ बीमारियांBy Onlymyhealth editorial teamApr 22, 2019

प्रत्‍येक वर्ष दुनियाभर में 6 लाख से ज्‍यादा लोग की मौतें इन्‍फ्लुएंजा या फ्लू वायरस से हो जाती है। ये घातक वायरस हर साल सामान्‍य सर्दी और जुकाम के रूप में खुद को आकार देता है। दरअसल, फ्लू काफी कॉमन वायरस है। काफी सारे वायरस हैं जिनसे खांसी, जुकाम और बुखार हो सकता है, लेकिन इन्‍फ्लुएंजा वायरस से तेज बुखार और ज्‍यादा खांसी की समस्‍या होती है, खासकर उन लोगों को ये समस्‍या होती है जिनमें रोगप्रतिरोधक क्षमता कम होती है जैसे छोटे बच्‍चे और वयोवृद्ध लोगों को बीमारी की चपेट में लेता है।

आप खुद को और अपने परिवार को इन्‍फ्लुएंजा वायरस से बचाने के लिए क्‍या करें और क्‍या न करें? इस सप्ताह हेल्थ टॉक पर, हम आपको वे सभी जानकारी दे रहे हैं जो आपको इन्फ्लुएंजा और फ्लू के टीके की प्रभावकारिता के बारे में जानने की आवश्यकता है। ओनलीमॉयहेल्‍थ के हेल्‍थ टॉक सीरीज में डॉक्‍टर अरूण वाधवा (एमबीबीएस, एमडी-शिशु रोग विशेषज्ञ) इन्‍फ्लुएंजा या फ्लू वायरस से होने वाली समस्‍याओं और समाधान के बारे में विस्‍तार से जानकारी दे रहे हैं।

Disclaimer