घुटनों के गठिया रोग का उपचार

अर्थराइटिस By Onlymyhealth editorial teamApr 11, 2017

घुटनों के गठिया रोग का उपचार करने के लिए सबसे पहले यह जानना बहुत जरूरी है कि घुटने में दर्द किस प्रकार का है, किस वजह से है और दर्द किस उम्र में हैं। क्‍या यह दर्द युवावस्‍था में हैं या वृद्धावस्‍था में है। फिर उसका उपचार भिन्‍न-भिन्‍न प्रकार से होता है। मान लीजिए किसी को घुटने में दर्द युवावस्‍था में हो रहा है तो उसको फिजियोथेरेपी की जरूरत होती है। लेकिन अगर दर्द मध्‍यम उम्र के युवा को हो रहा है और दर्द घुटने के अलावा और जोड़ों में भी हो रहा है तो हो सकता है कि वह रूमेटाइड अर्थराइटिस से परेशान हो। ऐसे में उसका इलाज उस प्रकार से ही होगा। इसका इलाज जल्‍द से जल्‍द करवाना चाहिए। बढ़ती उम्र में होने वाले दर्द जिसे ऑस्टियोअर्थराइटिस कहते हैं। उसके लिए वजन कम करना, दर्द के लिए सिंपल दवाएं और फिजियोथेरेपी की सलाज दी जाती है। लेकिन अगर घुटने बिल्‍कुल ही घिस जाते हैं तो उसमें नी रिप्‍लेसमेंट की जरूरत होती है। इस बारे में ऑर्थोपेडिक्‍स जॉइंट रिप्‍लेसपेंट और स्‍पाइन के डॉक्‍टर यश गुलाटी से इस विडियो के माध्‍यम से विस्‍तार से बता रहे हैं।

Disclaimer