आहार में बदलाव करके मानसून संक्रमण से बचें

स्वस्थ आहारBy Onlymyhealth editorial teamOct 05, 2016

मानसून का समय बिमारियों का भी समय है।मानसून में सी फूड आदि नहीं खाना चाहिए, इससे पेट का संक्रमण या फूड प्वाइज़निंग हो सकती है। इसलिये अच्छा होगा कि आप बरसात के दिनों में शाकाहार भोजन करें। शाकाहार में पाये जाने वाले पोषक गुण आपको स्वस्थ और तैयार रखेंगे। बारिश के मौसम के दौरान सूखे खाद्य पदार्थों का सेवन करना ज़्यादा अच्छा होता है, क्योंकि गीले पदार्थों में बैक्टीरियल और फंगल संक्रमण होने की काफी ज़्यादा संभावना रहती है। आप बारिश के मौसम के दौरान खुद को स्वस्थ रखने के लिए दलिये, चने और भुट्टे का सेवन कर सकते हैं। बाहरी संक्रमण से बचने के लिए फलों का सेवन करना सबसे अच्छा उपाय है। इसके लिए आप अपने आहार में मौसमी फलों को शामिल कर अपने स्वास्थ को ठीक रखते हुए शरीर के रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते हैं। आप ऐसे मौसम में फलों का सेवन करने के लिए प्लम, जामुन और चेरी को शामिल करें। हरी पत्तेदार सब्जियों को बारीश में नहीं खाना चाहिए। इसके पीछे की वजह यह कि ऐसे मौसम में इन सब्जियों में कीटाणु मिलने की संभावना काफी बढ़ जाती है। बढ़ी हुई नमी की वजह से लार्वा, बैक्टीरिया, वायरस और इसी तरह के कई कीटाणु बढ़ जाते हैं। इसलिए मानसून के समय पालक, पत्ता गोभी, फूल गोभी जैसी सब्जियों को बारिशों में बिल्कुल न खाएं। इन पत्तेदार सब्जियों की जगह करेला, तोरी, घीया और टींडे आदि को खा सकते हैं।

Disclaimer