यूं रखें अपने दिल को स्‍वस्‍थ

खराब आदतें दिल की बीमारी की बड़ी वजह हैं, तो अपनी आदतें सुधारिए और रखिए खयाल अपने दिल का-

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaPublished at: May 15, 2013

एक्‍सरसाइज

एक्‍सरसाइज
1/10

दिल की मांसपेशियों को स्वस्थ रखने के लिए नियमित रूप से व्यायाम बहुत जरूरी है। इससे हृदय की धड़कन प्रक्रिया बेहतर काम करती है। शरीर को भरपूर मात्रा में ऑक्सीजन प्राप्त होती है। इससे शरीर को ऊर्जा मिलती है और हमारी कार्यक्षमता बढ़ती है। जरूरी है कि रोजाना 30 से 45 मिनट तक टहला जाए। पैदल चलना, व्यायाम करना, साइकिल चलाना और तैराकी आदि क्रियाएं हृदय के लिए खासतौर पर फायदेमंद हैं।

स्वस्थ आहार

स्वस्थ आहार
2/10

स्वस्थ हृदय के लिए जरूरी है कि आपके भोजन में प्रचुर मात्रा में फल और सब्जियां हों। स्वस्थ हृदय के लिए कम वसा वाले आहार लें। ताजी सब्जियां और फल लें। जंक फूड का सेवन कम से कम करें। भोजन समय पर करें। काम कितना भी क्यों ना हो अपना दिन का खाना या रात का खाना स्किप ना करें।

नींद

नींद
3/10

अमेरिका में हुए एक शोध में यह बात सामने आई है कि जो लोग रात को एक घंटा अधिक सोते है उन लोगों को दिल की बीमारी अन्‍य लोगों की तुलना में कम होती है। वहीं सात घंटे से कम सोने वाले लोगों को दिल की बीमारी होने की आशंका अधिक होती है| नींद स्‍वस्‍थ दिल के लिए सबसे आसान समाधान है। स्‍वस्‍थ दिल के लिए इसे हर दिन भरपूर नींद लेना अपनी आदत बना लीजिए।

तनाव को कहें ना

तनाव को कहें ना
4/10

हालांकि यह कहना आसान है और करना जरा मुश्किल, लेकिन तनाव स्‍वास्‍थ्‍य का सबसे बड़ा शत्रु है। कल्पना कीजिए जैसे आप अत्यधिक चीजों को एकसाथ नहीं संभाल पाते हैं वैसी ही स्थिति आपके हृदय के साथ भी हो सकती है। रोज का अत्यधिक तनाव ब्लड प्रेशर को बढ़ाता तो है ही साथ ही यह हृदय की मांसपेशियों को भी प्रभावित करता है। इसलिए तनावमुक्त रहने का प्रयत्‍‌न करें, पर्याप्त नींद लें और साथ ही आराम के लिए भी समय रखें। ध्यान करें, यह आपके लिए लाभदायक होगा।

वजन पर करें काबू

वजन पर करें काबू
5/10

यदि आपका वजन अधिक है तो आपके हृदय पर अतिरिक्त दबाव पड़ता है। उसे तेजी से धड़कना पड़ता है। अधिक वजन का कारण असंतुलित भोजन और व्यायाम की कमी है, जिससे कई अन्य रोग भी जन्म लेते हैं। इससे बचाव का सबसे अच्छा तरीका है, ताजे फल, हरी सब्जियां, संतुलित भोजन का सेवन और नियमित व्यायाम।

शराब से रहें दूर

शराब से रहें दूर
6/10

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के अनुसार, शराब का अत्यधिक सेवन हाई बीपी ओर दिल की बीमारियों का नेतृत्व कर सकता हैं। हालांकि, कुछ अध्ययनों से पता चला है कि कम मात्रा में शराब के सेवन से कोलेस्ट्रॉल सही रहता है और इसलिए यह दिल के लिए फायदेमंद है।

परिवार के इतिहास के बारे में जानें

परिवार के इतिहास के बारे में जानें
7/10

परिवार का इतिहास हृदय स्वास्थ्य को सुनिश्चित करने में एक प्रमुख भूमिका निभाता है। अगर आपके परिवार में किसी को हृदय रोग है, तो आपको अन्‍य लोगों की तुलना में दिल की बीमारी से ग्रस्त होने का खतरा ज्‍यादा है। इसलिए आपके लिए परिवार के दिल के इतिहास के बारे में जानना महत्वपूर्ण है।

विटामिन हों आपके आहार का हिस्‍सा

विटामिन हों आपके आहार का हिस्‍सा
8/10

विटामिन-बी कॉम्प्लेक्स जैसे, विटामिन-बी के संपूरकों का नियमित उपयोग करने से होमोसिसटेन का स्तर कम हो जाता है। होमोसिसटेन दिल की बीमारियों के खतरे को बढ़ाता है। विटामिन बी के सेवन से रक्त वाहिकाएं भी उचित रूप से फ़ैल जाती हैं जिससे रक्त परिसंचरण में सुधार आता है।

धूम्रपान न करें

धूम्रपान न करें
9/10

वैज्ञानिकों द्वारा यह बात सिद्ध की जा चुकी है कि धूम्रपान करने वाले व्यक्तियों में दिल का दौरा या आकस्मिक हृदय रोग से मृत्यु होने का खतरा आम व्यक्तियों की तुलना में दोगुनी होता है। धूम्रपान छोड़ देने के 10 वर्षो के अंदर इन बीमारियों का खतरा कम हो जाता है।

नियमित जांच

नियमित जांच
10/10

रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल की जांच करवाने के लिए नियमित रूप से अपने डाक्‍टर के पास जाएं। उच्च रक्तचाप स्ट्रोक होने को सबसे पहला बड़ा जोखिम कारक है। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के अनुसार, कुल कोलेस्ट्रॉल स्तर 200 मिलीग्राम/ डीएल से कम होना चाहिए और रक्तचाप 120/80 mmHg से कम होना चाहिए। इन सबके बारे में जानना आपके स्वस्थ दिल के लिए अच्‍छा होगा।

Disclaimer