आपकी इम्युनिटी के कमजोर होने का मुख्य कारण है आपकी ये 5 आदतें

अगर आजकल आप ज्यादा बीमार पड़ रहे हैं तो सतर्क हो जाएं। क्योंकि ये आपकी कमजोर होती प्रतिरोधकता क्षमता के बारे में वार्निंग है।

Gayatree Verma
Written by: Gayatree Verma Published at: Jun 24, 2017

एक्स्ट्रा चर्बी और मोटापा

एक्स्ट्रा चर्बी और मोटापा
1/5

अगर आप अपने कमर के आसपास इकट्टी होने वाली चर्बी को नजरअंदाज कर देर तक सोते हैं और जंक फुड का सेवन कर रहे हैं तो ये आपकी इम्युनिटी के कमजोर होने की मुख्य वजह है। कई लोग काम की आपाधापी और उम्र बढ़ने के साथ निकलने वाले पेट को नजरअंदाज कर देते हैं। तोंद को इस तरह से नजरअंदाज करना केवल मोटापे को ही नहीं बढ़ाता अपितु आपकी प्रतिरोधक क्षमता पर भी नकरात्मक असर डालता है। इसलिए मोटापा ना बढ़ने दें।

देर तक सोना

देर तक सोना
2/5

अगर आप ऑफिस में अधिक थक जाने के कारण सुबह देर तक सोते हैं तो आप अपनी प्रतिरोधक क्षमता को कमजोर कर रहे हैं। प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने के लिए एक्सरसाइज काफी जरूरी है और जब सुबह के समय आप एक्सरसाइज करने की जगह सोकर बिताते हैं तो शरीर में एंटीबॉडीज का निर्माण नहीं हो पाता। जिससे खून में श्वेत रक्त कणिकाओं की संख्या भी नहीं बढ़ पाती और लोगों में प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती है। इसलिए रोजाना कम से कम आधा घंटा व्यायाम जरूर करें।

साफ-सफाई में लापरवाही

साफ-सफाई में लापरवाही
3/5

एकल परिवार में जब दोनों लोग काम करते हैं तो घर की साफ-सफाई वैसे नहीं हो पाती जैसा बचपन में हमारी मां किया करती थीं। साफ-सफाई में कमी की वजह से घर और बिस्तर में अदृश्य वायरस और बैक्टीरिया जन्म लेने लगते हैं। जो खाने या बिस्तर के माध्यम से हमारे शरीर के अंदर जाते हैं। जो हमें बीमार भी करते हैं और हमारी प्रतिरोधकता क्षमता को कमजोर भी कर देते हैं। इसलिए हमेशा कपड़ों का साफ रखें। समयानुसार बिस्तर के चादर व तकिए धोएं।

शराब पीना

शराब पीना
4/5

अधिकतर लोगों ने अब शराब पीनी शुरू कर दी है। आजकल इसे एक फैशन के तौर पर देखा जाता है। लेकिन शराब की छोटी सी मात्रा धीरे-धीरे हमारी प्रतिरोधक क्षमता को कमजोर कर देती है। दरअसल शराब, कोशिकाओं से नमी खींच कर उन्हें समाप्त करने का काम करती है जिससे एंटीबॉडीज का निर्माण होना खुद ब खुद बंद हो जाता है। जिसके परिणास्वरुप प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती है।

पर्याप्त नींद न लेना

पर्याप्त नींद न लेना
5/5

अंत में बात करते हैं नींद की। वर्तमान में छोटी-बड़ी, अधिकतर बीमारियों का कारण आपकी कम नींद में छुपा है। पर्याप्त नींद नहीं लेने से आपके शरीर का इम्यून सिस्टम बीमारियों से लड़ने की क्षमता जुटा नहीं पाता। इम्युनिटी से जुड़ी सारी प्रक्रियाओं के संकेत मस्तिष्क से जुड़े होते हैं और यदि सही मात्रा में नींद न ली जाए तो उसका असर प्रतिरोधक क्षमता पर पड़ता है। इसलिए हमेशा 7-8 घंटे की नींद जरूर लें।

Disclaimer