ब्‍लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए रोजाना करें ये 4 योगासन, डायबिटीज से मिलेगी मुक्ति

क्या आप अपने मधुमेह को नियंत्रित करने के लिए विभिन्न तरीकों का उपयोग करके थक गए हैं? अब अपने रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने के लिए योग आसनों का अभ्यास करें। योग व्यायाम करने का एक शानदार तरीका है। यह आपके दिमाग को तरोताजा रख सकता है और आपके शरीर को शांत कर सकता है। कुछ योग आसन हैं जो आपकी मधुमेह को नियंत्रित करने में आपकी मदद कर सकते हैं।

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Apr 13, 2019

योगा

योगा
1/5

योग आपके ज्‍यादातर स्वास्थ्य समस्‍याओं को हल कर सकता है। योग न सिर्फ शरीर का दर्द, बल्कि यह आपके ब्लड शुगर लेवल को भी नियंत्रित करने में आपकी मदद कर सकता है। योग प्राकृतिक रूप से मधुमेह का इलाज करने के लिए एक बेहतरीन जरिया है। मधुमेह के लिए योग का नियमित अभ्यास मधुमेह की अन्य जटिलताओं के जोखिम को कम कर सकता है। यहाँ कुछ योग आसन हैं जो आपके ब्‍लड शुगर को नियंत्रित करने में आपकी सहायता कर सकते हैं।

धनुरासन

धनुरासन
2/5

डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए धनुरासन अत्यधिक फायदेमंद है। इस आसन को करने के लिए अपने पेट के बल सीधे फर्श पर लेट जाएं और अपने ऊपरी शरीर के साथ-साथ अपने पैरों को भी उठाएं। अपने घुटनों को मोड़ें और अपने हाथों को पीछे की ओर उठाएं। अब अपने दोनों हाथों से अपनी एड़ियों को पकड़ें। अपने पैरों और हाथों को जितना संभव हो ऊपर की ओर खींचें। 15 से 20 सेकंड के लिए इस स्थिति में रहें और सीधे आसन में देखें। यह आपको शरीर के दर्द से लड़ने में भी मदद करेगा।

पश्चिमोत्तानासन

पश्चिमोत्तानासन
3/5

पश्चिमोत्तानासन मधुमेह से पीड़ित लोगों की मदद करता है। इस आसन को करने के लिए, अपने पैरों को आप से बाहर की ओर फैलाकर सीधे फर्श पर बैठें। अपने हाथों को ऊपर की ओर उठाएं, अपने सिर के ऊपर और गहराई से श्वास लें। अब आगे की ओर झुकें और साँस छोड़ें। अपने हाथों से अपने पैर की उंगलियों को छूने की कोशिश करें और अपने सिर को अपने घुटनों पर रखें। इस आसन के दौरान अपने घुटनों को न उठाएं। बेहतर परिणाम के लिए इस आसन का रोजाना अभ्यास करें।

शवासन

शवासन
4/5

शव की स्थिति सबसे आसान आसन है जो आपके मधुमेह को नियंत्रित कर सकती है। पीठ के बल पीठ के बल लेट जाएं, हथेलियां ऊपर की ओर रखें। अपने पैरों को एक साथ फैलाकर रखें। अपनी आंखें बंद करें और पूरे शरीर को आराम देने पर ध्यान केंद्रित करें। पूरे आसन में गहरी श्वास लें और छोड़ें।

अर्ध मत्स्येन्द्रासन

अर्ध मत्स्येन्द्रासन
5/5

अर्ध मत्स्येन्द्रासन गुर्दे, अग्न्याशय, छोटी आंत और यकृत को लाभ पहुंचाता है। यह अग्न्याशय पर ध्यान केंद्रित करता है जो मधुमेह के इलाज में मदद करता है। अपने पैरों के साथ फर्श पर बैठकर पार किया। अपने बाएं पैर को दाईं ओर से पार करें। अपने बाएं घुटने को ऊपर की ओर इंगित करते हुए उठाएं। अब अपने दाहिने हाथ को अपने बाएं पैर के ऊपर ले जाएं और अपने बाएं पैर को पकड़ें। अपने पेट के खिलाफ अपने बाएं पैर को धीरे-धीरे दबाएं और उसी समय अपना सिर दाईं ओर घुमाएं। बेहतर परिणाम के लिए नियमित रूप से इस आसन का अभ्यास करें।

Disclaimer