जहर के समान हैं फ्रिज में रखी गई ये 10 चीजें, आज ही करें बाहर

शहरों के जीवन का अहम हिस्‍सा है फ्रिज। हम अक्‍सर इसमें अपना बचा हुआ भोजन बाद में खाने के लिए रख देते हैं। फ्रिज में रखने से उसके खराब होने की आशंका कम हो जाती है। लेकिन, क्‍या आप जानते हैं कि यदि कुछ बातों का खयाल न रखा जाए तो ये आहार आपकी सेहत और स्वास्थ्य को भारी नुकसान पहुंचा सकता है। अगर आपके फ्रिज में भी बासी खाना पड़ा हुआ है तो सावधान हो जाइए क्योंकि यह बीमारियों का घर बन सकता है।

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Jan 08, 2018

फ्रिज है जरूरी

फ्रिज है जरूरी
1/10

शहरों के जीवन का अहम हिस्‍सा है फ्रिज। हम अक्‍सर इसमें अपना बचा हुआ भोजन बाद में खाने के लिए रख देते हैं। फ्रिज में रखने से उसके खराब होने की आशंका कम हो जाती है। लेकिन, क्‍या आप जानते हैं कि यदि कुछ बातों का खयाल न रखा जाए तो ये आहार आपकी सेहत और स्वास्थ्य को भारी नुकसान पहुंचा सकता है। अगर आपके फ्रिज में भी बासी खाना पड़ा हुआ है तो सावधान हो जाइए क्योंकि यह बीमारियों का घर बन सकता है।   

जमा हुआ खाना

जमा हुआ खाना
2/10

अगर आप भी अक्सर फ्रिज में खाना जमा करते हैं तो ये एक गंदी आदत है। जमा खाने में ज्‍यादा मात्रा में एडीविटीज, कार्बोहाइड्रेट, फ्रक्‍टोज कॉर्न सीरप और ट्रांस फैटी एसिड होता है। ट्रांस फैटी एसिड से दिल की बीमारियों के होने का खतरा होता है। एडीविटीज से सीने का दर्द, सिरदर्द और सांस लेने में दिक्‍कत होती है। हाई फ्रक्‍टोज कॉर्न सीरप से पैंक्रियाटिक कैंसर हो सकता है।

शुगरयुक्‍त आहार

शुगरयुक्‍त आहार
3/10

फ्रिज में रखे पेस्‍ट्रीज, चॉकलेट,‍ मिठाईयां और मुरब्‍बा, जिनमें चिनी और काबोहाइड्रेट्स की ज्‍यादा मात्रा होती है इनको खाने से हमारे शरीर में मैग्‍नीशियम की मात्रा बढ़ती है जो कि हार्ट अटैक, कब्‍ज, हाई ब्‍लड प्रेशर और टाइप2 डायबिटीज का कारण बनता है। इसके अलावा मोटाप, अनिद्रा, तनाव आदि भी हो सकता है।

बासी खाना

बासी खाना
4/10

अगर आपके फ्रिज में भी तीन-चार दिन से ज्‍यादा का पुराना खाना रखा है तो ये स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत हानिकारक है। इसे खाने से फूड प्‍वाइजनिंग, पेट दर्द, डायरिया, उल्‍टी और मतली जैसी समस्‍या हो सकती है।

मसालेयुक्‍त आहार

मसालेयुक्‍त आहार
5/10

सॉस, चटनी, अचार, पनीर जैसे मसालेयुक्‍त आहार, जिनमें नमक, वसा और शुगर होता है, इनको खाने से बचें। क्‍योंकि ये खाद्य-पदार्थों मौजूद पोषण को समाप्‍त कर देते हैं। मसालेयुक्‍त आहार खाने से शरीर में सोडियम की मात्रा बढ़ती है जिससे ब्‍लड प्रेशर प्रभावित होता है और हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है।

रेफ्रीजरेटेड पेय पदार्थ

रेफ्रीजरेटेड पेय पदार्थ
6/10

आपके फ्रिज में मौजूद साफ्ट ड्रिंक्‍स बिलकुल पोषणयुक्‍त नहीं होते हैं। इसे पीने से शरीर में कैल्शियम की मात्रा कम होती है और गुर्दे की पथरी होने की संभावना बढ़ जाती है। ज्‍यादा मात्रा में सॉफ्ट ड्रिंक्‍स पीने से मोटापा, भूख न लगना, एसिडिटी, कब्‍ज, दांतों में धब्‍बे जैसी समस्‍या हो सकती है।

फ्रिज का तापमान सही रखें

फ्रिज का तापमान सही रखें
7/10

फूड पाइजनिंग फैलाने वाले बैक्‍टीरिया 5 डिग्री सेल्सियस से 60 डिग्री सेल्सियस के बीच तेजी से फैलते हैं इसलिए जरूरी है कि आप अपने भोजन को इस तापमान में न रखें। यदि फ्रिज में कोई जल्‍दी खराब होने वाला सामान रखा है, तो फ्रिज का तापमान उसके हिसाब से सेट करें।

सही से रखें ये आहार

सही से रखें ये आहार
8/10

कुछ आहार जैसे कच्‍चा और पका हुआ मांस, दुग्‍ध व डेयरी उत्‍पाद, अंडे से बने उत्‍पाद आदि जल्‍दी खराब हो जाते हैं। ऐसे आहार का खास खयाल रखा जाना चाहिए। ये जल्‍दी खराब हो जाते हैं। साथ ही इनमें बैक्‍टीरिया पनपने की संभावना भी अधिक होती है। ऐसे में आपको चाहिए कि इन्‍हें फ्रिज में भी लंबे समय तक न रखें।

जल्‍द रखें आहार

 जल्‍द रखें आहार
9/10

बाजार से खरीदे गए फ्रोजन फूड को जितनी जल्‍दी हो सके फ्रिज में रख देने चाहिए। गर्मी के दिनों में यह वक्‍त 30 मिनट से अधिक नहीं होना चाहिए। बाजार से ऐसे खाद्य पदार्थों को घर लाते समय भी गर्म और ठंडे को अलग रखें।

जब दुविधा हो फेंक दें

 जब दुविधा हो फेंक दें
10/10

अगर आपको किसी भी प्रकार के भोजन को लेकर यह दुविधा हो कि वह खाने योग्‍य है अथवा नहीं, तो उसे फेंक देना ही बेहतर होगा। उसे दोबारा फ्रिज में न रखें। पैक भोजन को उसके इस्तेमाल करने की तारीख के बाद न खायें।

Disclaimer