विगन डाइट के बावजूद आखिर क्यों आपका वजन नहीं घट रहा?

ज्यादातर महिलाएं पतले होने के लिए विगन डाइट को चयन करती हैं। लेकिन विज्ञान से अब इस तथ्य को पलट गया है। आक्सफर्ड यूनिवर्सिटी 40 हजार वयस्कों पर एक अध्ययन किया।

Meera Roy
Written by: Meera RoyPublished at: Jul 05, 2017

विगन डाइट का चयन

विगन डाइट का चयन
1/6

ज्यादातर महिलाएं पतले होने के लिए विगन डाइट को चयन करती हैं। लेकिन विज्ञान से अब इस तथ्य को पलट गया है। आक्सफर्ड यूनिवर्सिटी 40 हजार वयस्कों पर एक अध्ययन किया। इसके मुताबिक जो लोग मांसाहारी होते हैं, उनका बाडी मास्क इंडेक्स सबसे ज्यादा होते हैं जबकि विगन डाइट पर आश्रित लोगों को बाडी मास्क इंडेक्स सबसे कम। अध्ययन से यह भी पता चलता है कि शाकाहार और अर्ध-शाकाहार इन दोनों के बीच कहीं फिट बैठते हैं। सिंथिया सैस जो कि न्यू यार्क टाइम्स की न्यूट्रीशन एडिटर हैं, कहती हैं, ‘मैंने ऐसे तमाम लोगों को जानती हैं जिन्होंने मोटापे से परेशान आकर मांसाहार छोड़ दिया। लेकिन अंततः देखने में यही आता है कि न तो उनका वजन कम होता है और न ही वे स्वस्थ जीवन ही जी पाते हैं। यहं हम ऐसे बिंदुओं पर गौर करेंगे जिसकी पर गौर करते हुए न सिर्फ विगन डाइट आपके लिए हेल्दी होगी बल्कि वजन भी घटेगा।

कम खाएं

कम खाएं
2/6

चाहे आप विगन डाइट पर ही क्यों न निर्भर हों। हर स्थिति में आपको यह पता होना चाहिए कि जितना शरीर की जरूरत है, उतना ही खाना चाहिए। लेकिन जो महिलाएं विगन डाइट पर निर्भर हैं, वे अकसर फल और कच्ची सब्जियों के नाम पर बहुत सारे फल, सलाद खा जाती हैं। नतीजतन उनका वजन बढ़ जाता है। विशेषज्ञों के मुताबिक हमारे शरीर को बहुत ज्यादा सप्लाई की जरूरत नहीं है। आपके शरीर को कितने आहार की आवश्यकता है यह पूर्णतया आपके लिंग, वजन और लंबाई पर निर्भर करता है। साथ ही आपकी शारीरिक गतिविधियां भी आपके डाइट चार्ट को प्लान करती है।

अतिरिक्त प्रोटीन

अतिरिक्त प्रोटीन
3/6

सिंथिया सेस कहती हैं वजन कम करने के लिए डाइट चार्ट बनाना होता है। लेकिन यह भी ध्यान रखना होता है कि आखिर हमें प्रतिदिन कितने प्रोटीन की जरूरत होती है। अकसर महिलाएं इसलिए अपना वजन कम नहीं कर पातीं क्योंकि वे जरूरत से ज्यादा प्रोटीन ले रही होती हैं। सिंथिया सैस अपने एक मरीज के बारे में बताते हुए कहती हैं, ‘मेरे एक मरीज ने आमूलचूल ढंग से विगन डाइट पर स्थिर रहते हुए अपना वजन कम किया था। वजह जानने के बाद पता चला कि उसने अपनी डाइट से 50 फीसदी प्रोटीन कम कर लिया था।’ जो महिलाएं विगन डाइट पर निर्भर होती हैं उन्हें प्रतिदिन महज 60 ग्राम प्राटीन की ही जरूरत होती है।

समय के पाबंद

समय के पाबंद
4/6

चाहे आप मांसाहारी हो, शाकाहारी हों या फिर विगन डाइट पर निर्भर हों। हर स्थिति में महिलाओं को यह पता होना चाहिए कि वे समय का पाबंद होकर ही अपने वजन को नियंत्रित कर सकती हैं। अगर आप ऐसा नहीं करतीं तो चाहे कितनी ही कोशिश क्यों न कर लें, आपके वजन में गिरावट नहीं आ सकती। सिंथिया सैस ऐसी महिलाओं को सलाह देती है कि लार्जर मील्स लें ताकि लम्बे समय तक सक्रिय रह सकें।

प्लांट बेस्ड जंक फूड

प्लांट बेस्ड जंक फूड
5/6

अकसर सुनने में आता है कि महिलाएं पतले होने के लिए हरि पत्तियों वाली सब्जियों को तरजीह देती हैं। यह अच्छी बात है। लेकिन इसके साथ ही यदि आप प्लांट बेस्ड जंक फूड खाने लगेंगी तो आपका सब किया धरा शून्य हो जाता है। असल में प्लांट बेस्ड फ्रोजेन फूड, डेजर्ट ये कुछ भी खाने से वजन की स्थिति में कोई सुधार नहीं हो सकता।

अतिरिक्त कैलोरी

अतिरिक्त कैलोरी
6/6

विगन डाइट पर निर्भर होने के बावजूद यदि आप अतिरिक्त कैलोरी लेती हैं तो समझें कि आप बहुत बड़ी भूल कर रही हैं। असल में वजन घटाने में सबसे बड़ा योगदार कैलोरी का ही होता है। यदि आप अपनी ली जाने वाली कैलोरी में कटौती नहीं करती हैं तो समझिए कि आपके वजन में कमी नहीं आ सकती।

Disclaimer