किस तरह से एस्‍ट्रोजन है महिलाओं का सबसे अच्‍छा साथी

एस्ट्रोजन, यौन संबंध बनाते समय उत्पन्न होने वाला हार्मोन होता है। जो महिलाओं को तनाव से राहत दिलाता है साथ ही अन्य बीमारियों से मुक्त रखता है।

Aditi Singh
Written by: Aditi Singh Published at: Nov 06, 2015

महिलाओं का साथी एस्ट्रोजन

महिलाओं का साथी एस्ट्रोजन
1/5

एस्ट्रोजन महिलाओं और पुरूषों दोनो में पाया जाने वाला एक महत्वपूर्ण हार्मोन होता है। यह पुरुषों की तुलना में महिलाओं के सिर में रक्त का अधिक प्रवाह करता है। शरीर में इसका उत्पादन सेक्स करने के बाद होता है। ये गर्भाधारण से लेकर माहवारी के दौरान होने वाले दर्द का जिम्मेदार होती है। एस्ट्रोजन महिलाओं का सबसे अच्छा दोस्त माना गया है।Image Source-Getty

खूबसूरती को बनाए रखता है

खूबसूरती को बनाए रखता है
2/5

एक जर्मन अध्ययन में पाया गया है कि जब किसी महिला में एस्ट्रोजन का स्तर ऊँचा होता है तो वह छोटी दिखती है। एस्ट्रोजन कोलेजन के स्तर को बढ़ाकर त्वचा को मोटा करता है। इसके परिणामस्वरूप झुर्रियाँ कम होती हैं। यह त्वचा में नमी बनाए रखने में भी मदद करता है जो उसकी त्वचा को एक विशिष्ट चमक प्रदान करती ह जिससे वह महिला छोटी और अधिक आकर्षक दिखती है।Image Source-Getty

तनाव दूर करता है

तनाव दूर करता है
3/5

यह महिलाओं को तनाव के साथ अधिक प्रभावशाली रूप से निपटने में सहायता करता है।एस्ट्रोजन उपस्थित होने के कारण ही महिलाएं तनाव में बेहतर कार्य कर सकती हैं। समकक्ष पुरुष जिनमें इस हार्मोन की बहुत अधिक मात्रा नहीं होती, उनकी तुलना में महिलाएं तनावपूर्ण स्थिति के बाद बोधात्मक कार्यों को बेहतर तरीके से करती हैं।Image Source-Getty

हार्ट अटैक से बचाता है

हार्ट अटैक से बचाता है
4/5

मेनोपॉज से पूर्व महिलाएं एस्ट्रोजन हार्मोन के कारण दिल की बीमारियों से सुरक्षित होती हैं,पचास वर्ष की उम्र को पार करने के बाद एस्ट्रोजन के स्तर में आई कमी महिलाओं में दिल के रोगों का एक बड़ा कारण होती है। एस्ट्रोजन में वाहिकाओं की सुरक्षा का गुण है, अर्थात् यह धमनियों में पट्टिका के संचय को रोककर हृदय तक जाने वाली रक्त वाहिकाओं को बचाता है। यह कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करता है और ट्राइग्लिसराइड के स्तर को ठीक बनाए रखता है। यह ब्लाकेज को रोकने में मदद करता है और महिलाओं में हृदय रोग की संभावना को भी कम देता है।Image Source-Getty

हड्डियों के घनत्व की रक्षा

हड्डियों के घनत्व की रक्षा
5/5

नियमित सेक्स से पैदा होने वाले एस्ट्रोजन हारमोन से 'ऑस्टियोपोरोसिस' नामक बीमारी नहीं होती। एस्ट्रोजन किसी महिला में हड्डियों के घनत्व की रक्षा करने के लिए जाना जाता है। यह शरीर से निकलने वाले कैल्शियम की मात्रा को कम करता है।और हड्डियों को कमज़ोर होने से बचाता है। ऐसा होने के कारण महिलाएं ओस्टियोपोरोसिस और कमज़ोर हड्डियों के रोगों जैसी स्थितियों से बची रहती हैं।Image Source-Getty

Disclaimer