सिगरेट छोड़ने के 20 मिनट बाद ही शरीर में होने लगते हैं ये बदलाव

अगर आप स्‍मोकिंग करते हैं और छोड़ने के बारे में सोच रहे हैं, तो आपके लिए अच्‍छी खबर है। जी हां इस आदत को छोड़ने के पहले 20 मिनट के भीतर आपके शरीर में बदलाव आने लगते है। विश्‍वास नहीं हो रहा तो इस स्‍लाइड शो को जरूर पढें।

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaPublished at: Nov 21, 2016

धूम्रपान छोड़ने पर शरीर करता है धन्‍यवाद

धूम्रपान छोड़ने पर शरीर करता है धन्‍यवाद
1/10

धूम्रपान दुनिया भर में लोकप्रिय है और कई लोग इस आदत के गुलाम भी हैं। लेकिन अगर आप धूम्रपान करते हैं और छोड़ने के बारे में सोच रहे हैं तो क्‍या आप जानते हैं कि इस आदत को छोड़ने के बाद पहले 20 मिनट के भीतर आपका शरीर आपको शुक्रिया करने लगता है। जी हां सिगरेट के धुएं में 200 प्रकार के नुकसानदेह तत्व होते हैं। लेकिन अगर सिगरेट छोड़ दी जाए तो इंसान का शरीर वापस से स्वस्थ होने लगता है। शायद आपको विश्‍वास नहीं हो रहा होगा तो आइए जानें स्‍मोकिंग छोड़ने के बाद शरीर में किस तरह के बदलाव होते हैं।

आखिर सिगरेट पीने के 20 मिनट बाद

आखिर सिगरेट पीने के 20 मिनट बाद
2/10

सिगरेट पीने के 20 मिनट बाद शरीर का ब्‍लड प्रेशर और दिल की धड़कन कम होकर वापस से सामान्य होने शुरु हो जाते हैं। सिगरेट पीते समय निकोटीन के कारण ये दोनों ही बढ़ जाते हैं।

आधे दिन के बाद

आधे दिन के बाद
3/10

सिगरेट छोड़ने के आधे दिन के बाद आपके ब्‍लड में सीओ (कार्बन मोनोऑक्साइड) सामान्‍य स्‍तर पर आ जाता है और ब्‍लड में ऑक्‍सीजन भी बढ़ने लगता है। इससे आप अधिक मजबूत और सतर्क महसूस करते हैं।

एक दिन बाद

एक दिन बाद
4/10

आपका शरीर स्‍मोकिंग से होने वाले नुकसान की मरम्‍मत करना शुरू कर देता है, और हार्ट अटैक का खतरा कम होने लगता है।

2 दिन बाद

2 दिन बाद
5/10

धुएं की विषाक्‍तता से क्षतिग्रस्‍त नर्वस फिर से सुधार आना शुरु जाता है और आपकी स्‍वाद और गंध की भावना वापस सामान्‍य हो जाती है। Image Source : viralcycle.com

3 महीने के बाद

3 महीने के बाद
6/10

3 महीने के बाद हृदय प्रणाली में बड़े पैमाने पर सुधार दिखने लगता है और कफ बहुत कम हो जाता है जिससे आप आराम से वॉक और एक्‍सरसाइज कर सकते हैं।

3-9 महीनों के बाद

3-9 महीनों के बाद
7/10

सिगरेट पीने से सबसे ज्यादा हमारे फेफड़े प्रभावित होते है और उनमें धुंआ जमने लगता है सिगरेट छोड़ने के 3-9 महीनों के बाद फेफड़ों से हानिकारक पदार्थ हटने लगता है। और धूम्रपान से होने वाली थकान और सांस की तकलीफ भी दूर हो जाती है।

5 साल बाद

5 साल बाद
8/10

सिगरेट छोड़ने के पांच साल बाद रक्त परिसंचरण अच्छी तरह काम करने लगता हैं। शरीर में स्ट्रोक का खतरा भी कम हो जाता है। आपकी नर्वस और इम्‍यूनिटी भी कई हद तक बढ़ जाती है।

10 साल बाद

10 साल बाद
9/10

सिगरेट छोड़ने के 10 साल बाद आपके शरीर में फेफड़ों के कैंसर का खतरा कम हो जाता है। फेफड़े के कैंसर का खतरा सिगरेट पीने वाले के मुकाबले आधा रह जाता है।

15 साल बाद

15 साल बाद
10/10

सिगरेट छोड़ने के 15 साल बाद हृदय से संबंधित रोग और बीमारियां जैसे दिल के दौरे और दिल की बीमारी खतरा और कैंसर के विकास की संभावनाएं एक नॉनस्मोकर की तरह हो जाती है। इस समय के दौरान शरीर पूरी तरह से स्‍मोक से अच्‍छा हो जाता है। Image Source : Getty

Disclaimer