हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

जल्दी वजन बढ़ाने के लिए वरदान हैं ये 2 उपाय

By:Rashmi Upadhyay, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jan 24, 2018
वजन कम है तो कैसे बढ़ाये अपना वजन इसके लिए जानें कुछ आसान से टिप्‍स।
  • 1

    पोषक तत्वों से भरपूर भोजन

    वजन बढ़ाने से पहले ध्यान रखें कि आपको स्वस्थ होना है न कि मोटा। इसलिए खाने में उस सामग्री का इस्ते़माल करें जो शरीर को ऊर्जा प्रदान करें। कम फैट और ज्यादा कैलोरी वाला खाना खाएं।

    पोषक तत्वों से भरपूर भोजन
    Loading...
  • 2

    स्प्राउट खाएं

    प्रतिदिन स्प्राउट्स खाने से वजन तेजी से वजन बढ़ता है। आप रोजाना एक कटोरी स्प्राउट्स खाते हैं तो आपको कुछ ही दिनों में फर्क दिखेगा। स्प्राउट्स में भारी मात्रा में प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन और कई विटामिन्य होते हैं। जो मांसपेशियों को मजबूत करने के साथ ही तेजी से वजन बढ़ाते हैं। इसके लिए आप काले चने, मूंग की दाल, सोयाबीन और गेहूं को ले सकते हैं। अगर आपको ये स्वाद में अच्छे ना लगे तो आप इसमें थोड़ा सा प्याज, टमाटर, हरी मिर्च और हरा धनिया डालकर भी खा सकते हैं। इससे आपको काफी स्वाद आएगा।

    स्प्राउट खाएं
  • 3

    सोयाबीन का सूप

    जो लोग सोयाबीन का सूप पीते है, उसमें भरपूर ताकत होती है क्योकि सोयाबीन में ताकत देने के गुण होते है। अगर आप भी अपना वजन बढ़ाना चाहते हैं तो स्वाद ग्रन्थियों की परवाह न करते हुए सोयाबीन के सूप को हर शाम पिएं। ताकि शरीर की नाजुक लचक से आपको छुटकारा मिल सकें।

    सोयाबीन का सूप
  • 4

    केला और दूध

    जब भी वजन बढ़ाने के उपायों की बात होती है तो ऐसा नहीं हो सकता कि दूध और केले का नाम पीछे रहे। क्योंकि दूध और केला दोनों ही वजन बढ़ाने के सबसे अच्छे विकल्प हैं। आप चाहें तो इन्हें अलग-अलग भी खा सकते हैं। इसके अलावा अगर आप दूध में केला फेंट कर खाएं, यह बॉडी में ताकत और शक्ति ज्यादा देता है।

    केला और दूध
  • 5

    नियमित एक्ससरसाइज

    शरीर को फिट एंड फाइन बनाने के लिए आप नियमित रूप से व्यायाम करें। आप योगा का भी सहारा ले सकते हैं। वजन उठाने, टिवस्ट कर्ल्स और डिप्स जैसे एक्सररसाइज करने से शरीर में खून का संचार तेजी से होगा और ज्यादा भूख भी लगेगी।

    नियमित एक्ससरसाइज
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर