कपड़ों को फफूंद से बचाते हैं ये उपाय

क्‍या लकड़ी की अलमारी में रखी अपनी मनपसंद ड्रेस को पहनने पर आपको बदबू आने लगती है? ऐसा फफूंद या कवक के कारण होता है। लेकिन घबराइए नहीं क्‍योंकि कुछ साधारण उपायों द्वारा आसानी से रोका जा सकता है।

Pooja Sinha
Written by:Pooja SinhaPublished at: Feb 16, 2016

कपड़ों को फफूंद बचाने के उपाय

कपड़ों को फफूंद बचाने के उपाय
1/6

भारत में कई तरह का मौसम होता है - गर्मी, सर्दी और बारिश। ऐसे में कपड़ों की जरूरतें भी अलग-अलग होती हैं। ठंड के कपड़ों को आप गर्मी में नहीं पहन सकते और न ही गर्मी के कपड़ों से ठंडक दूर सकते हैं। लिहाज मौसम बदलने पर कपड़ों को सलामत रखने के पैक कर देते हैं। इन कपड़ों को सही तरीके से तह करके रखने के बाद भी आपके कपड़े खराब हो जाते हैं और उनमें फफूंद लग जाती है। इसके कारण कपड़ों से बदबू आने लगती है और उनके सफेद धब्‍बे अलग से ही दिखाई देने लगते हैं। कई बार धुलने के बाद भी ये समस्‍या दूर नहीं होती है। इस स्‍लाइडशो में हम आपकेा कुछ तरीके बता रहे हैं जिसे आजमाने के बाद कपड़ों में फफूंद बिलकुल भी नहीं लगेगी।

प्‍लास्टिक के बैग का इस्‍तेमाल

प्‍लास्टिक के बैग का इस्‍तेमाल
2/6

फफूंद से बचाने के लिए अपनी पसंदीदा ड्रेस या साड़ी को प्‍लास्टिक के बैग में रखना अच्‍छा रहता है। ऐसा करने से प्लास्टिक कपड़ों को लकड़ी के संपर्क में नहीं आने देगा। यहां तक कि यह उपाय मैटल की अलमारी में कपड़ों को फ्रेश रखता है।

नमी से बचायें

नमी से बचायें
3/6

फफूंद सीलन या नमी वाले और गर्म वातावरण में ज्‍यादा पैदा होती हैं, इसलिए अलमारी से नमी को दूर रखने के लिए जब भी आपको समय मिले, तब लकड़ी की अलमारी को खोल दें, ताकी हवा अंदर जा सके और इनमें सीलन या गर्मी पैदा न हो। साथ ही जब भी आप ऊनी कपड़ों को पैक करें, ऐसी जगह रखें, जहां हवा आती हो।

धूप में रखें

धूप में रखें
4/6

ऊनी कपड़ों में अमूमन फंगस लग जाता है। इसलिए ऊनी कपड़ों को बंद अलमारी या दराजों से बाहर निकालें, उन्हें झाडें और टिश्यू में हल्का-सा पानी छिड़क कर कपड़ों की सफाई करें और कम से कम दो-तीन घंटे धूप में दिखाएं। अगर आपने पिछले साल ऊनी कपड़ों को पैक करते समय उनकी धुलाई नहीं की है तो ऐसा करना और भी जरूरी है।

अखबार में लपेट कर रखें

अखबार में लपेट कर रखें
5/6

जैकेट के फर में फफूंद ज्यादा जल्दी फैलती है। इसलिए अगर आपके पास फर वाली जैकेट या स्वेटर हैं तो इन्हें फफूंद से बचाने के लिए आप इसे प्लास्टिक बैग की बजाय अखबार में लपेट कर रखें और सप्ताह में एक बार धूप में जरूर सुखाये।

नेफ़थलीन बॉल का इस्‍तेमाल

नेफ़थलीन बॉल का इस्‍तेमाल
6/6

सबसे पहले बदबू हटाने के लिए कपड़ों और कपड़ों की लाइन को अच्‍छे से धो लें। फिर कपूर के पानी से अलमारी की दराज को अच्छी तरह साफ कर लें फिर इसे सूखने के लिए खुला छोड़ दें। आप बदबू को रोकने के लिए नेप्थ्लीन की गोलियां भी इस्तेमाल कर सकते हैं। लैवेंडर, फैब्रिक फ्रेशनर (फैब्रिक सॉफ्टनर, बेकिंग सोडा और पानी मिश्रित) आदि से कपड़ो को फंगस से बचाया जा सकता है और उनमें बदबू नहीं आती। Image Source : kxcdn.com

Disclaimer