पुदीने की हरी पत्तियों से निखारें अपना रूप

आपने पुदीने के स्वास्थ्य लाभों के बारे में तो सुना होगा लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि त्वचा के लिए भी पुदीना बेमिसाल है, अगर यकीन नहीं आ रहा तो इस स्‍लाइड शो को पढि़ये।

Pooja Sinha
Written by:Pooja SinhaPublished at: Jan 14, 2016

त्‍वचा में निखार लाये पुदीना

त्‍वचा में निखार लाये पुदीना
1/5

लगभग हर इंडियन किचन में आपको पुदीना आसानी से मिल जाएगा। पुदीने की भीनी खुशबू न केवल खाने-पीने का स्‍वाद बढ़ाने के काम आते है, बल्कि इसमें पाये जाने वाले औषधीय गुण सेहत और त्‍वचा दोनों के लिए फायदेमंद होते है। जीं हां सेहत ही नहीं, सौंदर्य निखार के लिए भी पुदीना कारगर होता है। त्‍वचा पर दाग-धब्बे और मुंहासे से परेशान लोगों के लिए पुदीने की पत्त‍ियों का इस्तेमाल करना बहुत फायदेमंद होता है। पुदीने के एंटी-बैक्टीरियल गुण के कारण यह त्वचा को गहराई से साफ करता है, जिससे त्वचा से जुड़ी कई तरह की समस्याएं खुद ब खुद दूर हो जाती हैं। पुदीने के नियमित इस्तेमाल से आपको बिना किसी साइडइफेक्‍ट के कुछ ही दिनों में निखरी त्वचा प्राप्‍त हो सकती है। आइए जानें पुदीने के इस्‍तेमाल से त्‍वचा को कैसे निखारा जा सकता है।

त्वचा को पोषण दें

त्वचा को पोषण दें
2/5

पुदीने की पत्तियां अपने ठंडे तासीर के कारण जानी जाती है। खीरे की तरह पुदीना भी त्‍वचा को मॉश्‍चराइज करने के काम आता है। पुदीने की पत्तियां के रस को चेहरे पर लगाने से त्‍वचा को ताजगी और नमी प्राप्‍त होती है। साथ ही पुदीने के रस से त्‍वचा के पोर्स भी खुलते हैं। इसके अलावा झुर्रियों को दूर करने के लिए भी पुदीने की पत्त‍ियों का इस्तेमाल किया जाता है। पुदीने की पत्तियों के रस को दही या शहद के साथ मिलाकर लगाना बहुत फायदेमंद होता है।

निखार लायें

निखार लायें
3/5

बदलते मौसम में त्वचा में ड्राइनेस होना स्वाभाविक है। ड्राइनेस से बचने के लिए अगर आप डाइट में पुदीना लेंगे तो त्वचा को भरपूर एंटीऑक्सीडेंट मिलेगा और त्वचा का निखार बरकरार रहेगा। इसके अलावा पुदीना न केवल त्वचा की सफाई करने के काम आता है बल्क‍ि इसके नियमित इस्तेमाल से त्वचा की रंगत भी बढ़ती है। अगर आप अपनी त्‍वचा में निखार चाहती हैं तो पुदीने की पत्तियों के पेस्ट या फिर इसके रस को नियमित रूप से चेहरे पर लगाने से चेहरे में निखार आता है।

सनबर्न और टैनिंग से बचाये

सनबर्न और टैनिंग से बचाये
4/5

धूप में ज्‍यादा निकलने के कारण हमारी त्‍वचा टैन हो जाती है। ऐसे में रंगत को निखारने और टैनिंग को दूर करने के लिए पुदीने में मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड बहुत मददगार होता है। टैनिंग की समस्‍या होने पर त्‍वचा पर पुदीने की ताजा पत्तियों के लेप को लगाने से जल्‍द फायदा होता है। इसके अलावा गर्मियों में तेज धूप में सनबर्न की समस्या बेहद आम है। सनबर्न वाली त्वचा पर मुल्तानी मिट्टी में पुदीने का रस या पेपरमेंट ऑयल मिलाकर लगाने से आराम मिलता है।

कील-मुंहासों दूर करें

कील-मुंहासों दूर करें
5/5

सैलीसिलिक एसिड दाग-धब्‍बों को दूर कर त्‍वचा को निखारने में मददगार होता है और पुदीने की पत्तियों में सैलीसिलिक एसिड पाया जाता है, जो कील-मुंहासों और उनसे बने दाग-धब्बों को दूर करने में कारगर होता है। पुदीने की पत्त‍ियों को पेस्ट की तरह पीसकर चेहरे पर लगाये आप चाहें तो इसमें थोड़ी सी मात्रा में गुलाब जल भी मिला सकते हैं। कुछ ही दिनों में आपको त्वचा में फर्क महसूस होने लगेगा। आप चाहे तो पुदीने के पत्तियों का पेस्ट में मुल्तानी मिट्टी मिलाकर भी मुंहासों पर लगा सकते हैं। Image Source : Getty

Disclaimer