घर की निगेटिव एनर्जी को बाहर निकालने के लिए ऐसे करें नीम का प्रयोग, जानें अन्‍य उपाय

नीम एक प्राकृतिक औषधि है जो कई सारी बीमारियों को खत्म करने का काम करती है। ये शरीर में उपस्थित यह कैंसर-कोशिकाओं को भी नष्ट कर देती है। लेकिन नीम खाने में बहुत कड़वा होता है। ऐसे में नीम की पत्तियों को अगर आप खा नहीं सकते तो सप्ताह में दो बार नीम की पत्तियां जलाकर घर में धुंआ करें।

सम्‍पादकीय विभाग
Written by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Dec 02, 2016

नीम के पत्ते

नीम के पत्ते
1/5

नीम एक प्राकृतिक औषधि है जो कई सारी बीमारियों को खत्म करने का काम करती है। ये शरीर में उपस्थित यह कैंसर-कोशिकाओं को भी नष्ट कर देती है। लेकिन नीम खाने में बहुत कड़वा होता है। ऐसे में नीम की पत्तियों को अगर आप खा नहीं सकते तो सप्ताह में दो बार नीम की पत्तियां जलाकर घर में धुंआ करें। इससे घर के सारे जीवाणु भी नष्ट हो जाएंगे और वास्तुदोष भी चल जाएगा।

कपूर और लौंग

कपूर और लौंग
2/5

घर में सुबह-शाम कपूर और लौंग जलाएं। पूजा करने के बाद घर में कपूर और लौंग जलाकर आरती लें और घर में इसका धुंआ फैलाएं। लौंग आयुर्वेदिक गुणों की खान है। जब हम लौंग और कपूर को साथ में जलाते हैं तो लौंग में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट घर के वातावरण के साथ मिलती है और वायु द्वारा हमारे शरीर में प्रवेश करती है जो दिमाग को शांत रखने में मदद करता है।

घर साफ रखें

घर साफ रखें
3/5

हमेशा सप्ताह में एक बार पूरे घर की सफाई करें। बिस्तर और चादर रोजाना झाड़ें। इससे घर में गंदगी नहीं रहती और बीमारियों के फैलने का डर खत्म हो जाता है। वास्तुशास्त्र के अनुसार रोजाना घर साफ करने से घर की सारी नकरात्मक ऊर्जा खत्म हो जाती है।

एक चुटकी नमक

एक चुटकी नमक
4/5

हमेशा घर में पोंछा लगाते समय समुद्री नमक का इस्तेमाल करें। अगर आप बीमारियों से दूर रहना चाहते हैं तो रोज सुबह घर में पोंछा लगाते समय पानी में थोड़ा नमक मिला लें। नमक मिले हुए पानी से पोंछा लगाने पर फर्श के सूक्ष्म कीटाणु नष्ट हो जाते हैं। साथ ही, घर की नकारात्मक ऊर्जा भी खत्म हो जाती है।

खिड़कियां खोलें

खिड़कियां खोलें
5/5

हमेशा सुबह-सुबह घर की खिड़कियां जरूर खोलें। इससे घर में ताजी हवा आती है और घर की सारी दूषित हवा बाहर निकल जाती है। साथ ही सुबह सूरज से आने वाली किरणें घर और आपके शरीर में नई ऊर्जा का भी संचार करती है। दोपहर में खिड़कियां बिल्कुल भी ना खोलें। क्योंकि दोपहर में सूरज की अल्ट्रवाईलेट किरणें घर में प्रवेश कर जाएंगी जो त्वचा संबंधी बीमारियों का कारण बन सकती हैं।

Disclaimer