शैलेक नेल्‍स से संबंधित कुछ जरूरी बातों को जानें

यूं तो शैलेक मैनिक्योर रेगुलर मैनिक्योर की तुलना में अधिक टिकाऊ होता हैं, लेकिन इसकी कई कमियां भी हैं। आइए इस स्‍लाइड शो के माध्‍यम से इसके लाभ और जोखिम को समझते हैं।

Pooja Sinha
Written by:Pooja SinhaPublished at: Apr 27, 2016

शैलेक नेल्‍स से जुड़ी बातें

शैलेक नेल्‍स से जुड़ी बातें
1/7

आज हम मेनिक्‍योर के अधिक टिकाऊ विकल्‍प के बारे में बात कर रहे हैं। जीं हां हम शैलेक के बारे में बात कर रहे हैं, क्‍या आप शैलेक मेनिक्‍योर के बारे में जानते हैं? यह एक नेल ट्रीटमेंट है, जिसे कभी-कभी जैल मेनिक्‍योर के रूप में भी जाना जाता है और यह लंबे समय तक चलने वाला मेनिक्‍योर है- यह चिप, ब्रेक और एक्‍सट्रा कोट के बिना पूरे महीने तक चल जाता है। हालांकि यह मेनिक्‍योर किसी सपने की तरह लगता है, लेकिन नेल सैलून में इसे कराने जाने से पहले इसके कुछ फायदे और नुकसान के बारे में जानना बहुत जरूरी हैं। साथ ही इस बात का भी ध्‍यान रखें कि सैलून स्‍वच्‍छ और लाइसेंस प्राप्‍त होना चाहिए।

जैल पॉलिश के इस्‍तेमाल के लिए नेल्‍स हल्‍दी होने चाहिए

जैल पॉलिश के इस्‍तेमाल के लिए नेल्‍स हल्‍दी होने चाहिए
2/7

शैलेक या जैल पॉलिश टिकाऊ नेल्‍स के लिए एक उत्‍कृष्‍ट पसंद है, लेकिन इसकी शुरुआत आपको स्‍वस्‍थ नाखूनों के साथ करनी चाहिए। अगर आपके क्‍यूटिकल और नाखून बुरी तरह पील, क्षतिग्रस्‍त और स्प्लिटिंग है, तो जैल पॉलिश नहीं लगानी चाहिए। क्‍योंकि यह समस्याएं आपके नाखून के टिकाऊपन को प्रभावित करती है। इसलिए शैलेक ट्रीटमेंट लेने से पहले समस्याओं को ठीक करने के उपाय करें।

एक महीने तक रहता है शैलेक जैल का असर

एक महीने तक रहता है शैलेक जैल का असर
3/7

लंबी अवधि तक असरकार रहना, जैल पॉलिश ट्रीटमेंट का मुख्‍य लाभ है। ऐसा इसलिए क्‍योंकि जैल पॉलिश यूवी या एलईडी लाइट के साथ ठीक रहता है। हालांकि यूवी लाइट के नियमित रूप से जोखिम पर आने से ऐज स्‍पॉट हो सकते हैं। लगभग हर शैलेक या जैल पॉलिश उपचार 14 दिनों तक चलता है। कई महिलाओं को लगता है कि नेल पॉलिश पूरे महीने तक टिकी रहती है, लेकिन नए नाखूनों का विकास, उन्‍हें फिर से टच-अप के लिए सैलून तक ले जाता है।

त्‍वचा करता है डिहाइड्रेट

त्‍वचा करता है डिहाइड्रेट
4/7

इस बात का ध्‍यान रखें कि जैल पॉलिश छिद्रपूर्ण और क्‍लीनिंग प्रोडक्‍ट, खराब केमिकल और अन्‍य केमिकल का प्रयोग छील और चिप पैदा कर सकता है। इसी तरह, पॉलिश को ठीक करने के लिए इस्‍तेमाल होने वाली यूवी लाइट ऐज-स्‍पॉट पैदा करता है और पॉलिश को साफ करने का तरीका आपके नाखून और उसकी आसपास की त्‍वचा डिहाइड्रेट कर सकता है। अगर जैल नेल पॉलिश को सही ढंग से नहीं हटाया जाये, तो नाखून की सहत पर दरारें, गड्ढें या खरोंच आ सकती हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना ​​है कि एलईडी लाइट लैम्प जैल पॉलिश को ठीक करने का सुरक्षित तरीका है और वे पॉलिश लगाने से पहले पराबैंगनी प्रकाश से आपकी त्वचा की रक्षा के लिए हाथों पर सनस्क्रीन लगाने या दस्‍ताने पहनने की सलाह देते हैं। विशेषज्ञ ड्राई स्किन और एसीटोन के संपर्क में आने पर ब्रिटल नाखून की समस्‍या से बचने के लिए लोशन या मॉश्‍चराइजर का उपयोग करने की सलाह देते हैं।

नाखूनों की देखभाल घर पर करने की कोशिश करें

नाखूनों की देखभाल घर पर करने की कोशिश करें
5/7

हालांकि जैल नेल पॉलिश पारंपरिक नेल पॉलिश की तुलना में अधिक टिकाऊ हैं, लेकिन नाखूनों को स्‍वस्‍थ और पॉलिश को अच्‍छा दिखाने के लिए घर में देखभाल की आवश्‍यकता होती है। आप दिन में दो बार अपने नाखूनों पर क्‍यूटिकल ऑयल लगाये। यह छिद्रपूर्ण पॉलिश को आर-पार होने से रोकता है और आपके नाखूनों को पोषण देता है। साथ ही स्‍ट्रोंग केमिकल और टैनिंग ऑयल के इस्‍तसेमाल के समय दस्‍ताने पहनें।

जैल पोलिश को ध्यान से हटायें

जैल पोलिश को ध्यान से हटायें
6/7

रेगुलर पॉलिश की तुलना में जैल पॉलिश को साफ करने में अधिक समय लगता है और नाखूनों और क्‍यूटिकल की रक्षा के लिए विशेष प्रक्रिया की जरूरत होती है। चिप या ढीली होने पर आपको नेल पॉलिश हटानी शुरू करनी चाहिए, लेकिन कई बार नाखूनों की ऊपरी परत या छील निकल सकती है। इसलिए नेल पॉलिश को हटाने के लिए सैलून में सबसे अच्‍छा रहता है, क्‍योंकि वह जैल नेल पॉलिश को निकालने के लिए नाखूनों को स्‍पेशल एसीटोन में भिगोते और लपेटते हैं। लपेटकर, शरीर की गर्मी का उपयोग करके पॉलिश को ढीला करके हटाया जा सकता है। नेल तकनीशियन नेल पॉलिश हटाने के लिए नाखूनों की सतह को स्क्रेप करता है, लेकिन यह पीलिंग से नेल पॉलिश की तुलना में बेहतर होता है।

शैलेक की सीमाएं और स्वास्थ्य के प्रति जोखिम

शैलेक की सीमाएं और स्वास्थ्य के प्रति जोखिम
7/7

हालांकि यह टिकाऊ और सुंदर है, लेकिन इस जैल पॉलिश की भी कुछ सीमाएं हैं। पहला, यह नेल स्ट्रेंथेनर नहीं है। दूसरा, इसे लंबे नाखूनों पर नहीं लगाया जा सकता है। इसलिए जो महिलाएं इस ट्रीटमेंट को चुनते हैं, वह अपने हिसाब से नाखूनों की लंबाई नहीं रख सकती हैं। Image Source : Getty

Disclaimer