जब मानसिक चिंता करें परेशान, तो अपनाएं ये उपाय!

वेजिटेरियन और नॉन-वेजिटेरियन की हास्यास्पद लड़ाई हमेशा से ही चलती आई है, जिसका शायद ही कोई समाधान हो। लेकिन शाकाहारी लगभग हर दिन इसके लिए कुछ मजाक का सामना करते हैं।

Rahul Sharma
Written by: Rahul SharmaPublished at: Sep 15, 2014

शाकाहारी बनाम मांसाहारी

शाकाहारी बनाम मांसाहारी
1/10

शाकाहार और गैर-शाकाहार पर एक हास्यास्पद लड़ाई हमेशा से ही चलती आई है, जिसका शायद कोई अंत नहीं है। जहां एक और शाकाहारी, 'जियो और जीने दो' के नारे को अपना एन्थम बताते हैं, वहीं मांसाहरी उनका इस विषय पर मजाक बनाने से नहीं चूकते। यहां हम ऐसी ही कुछ बातों के बारे में बाते रहें हैं, जिनका शाकाहारी लगभग हर दिन सामना करते हैं।  Image courtesy: © Getty Images

घास-पूस

घास-पूस
2/10

आपके मांसाहारी मित्र अक्सर पार्टी आदि में मजाक कर ही देते हैं, कि 'घास-पूस खाने वाले, तूने हमारी नाक कटा दी'। तू हमारे से अलग है, धरती का रक्षक इटडियट घास-पूस! या हो सकता है कि वो आपका नाम ही घास-पूस रख दें। Image courtesy: © Getty Images

पनीर टिक्का मिलेगा, प्लीज!

पनीर टिक्का मिलेगा, प्लीज!
3/10

शाकाहारियों को अक्सर पार्टी आदि में पूछना ही पड़ जाता है। 'यहां वेज तो है ना?? और लोग मांसाहारी आपके इस सवाल पर आपको ऐसे देखते हैं मानो आपने चांद पर जाने की टिकट मांग ली हो..  Image courtesy: © Getty Images

डाइट पर हो क्या?

डाइट पर हो क्या?
4/10

अगर आप वेजिटेरियन हैं और किसी नए व्यक्ति के साथ लंत या डिनर पर जाते हैं, और वैज ऑर्डर करतो हैं, तो कोई आश्चर्य की बात नहीं, अगर वो पूछ ले, 'आप जाइटिंग पर हैं क्या?'!!     Image courtesy: © Getty Images

आप अकेला महसूस करते हैं

आप अकेला महसूस करते हैं
5/10

मुम्किन है कि आप शायद अपने दोस्तों के बीच अकेले ही शाकाहारी हों। तो ऐसे में जब वे चटकारे लगाते हुए लैग पीस और ग्रेवी का आदान प्रदान कर रहे होते हैं, तो कई बार आप खुद को अकेला और अलग महसूस करते हैं। Image courtesy: © Getty Images

यार ग्रेवी तो खा ही सकते हो!

यार ग्रेवी तो खा ही सकते हो!
6/10

अक्सर मांसाहारी दोस्तों के साथ खाते में आपको एक डायलोग मिलता है, "यार ग्रेवी तो खा ही सकते हो! इसमें कुछ थोड़े ही होता है"।  और आपको आंखे बड़ी कर कहना ही पड़ता है, 'नो थैंक्स'। Image courtesy: © Getty Images

एक बार खाकर तो देख

एक बार खाकर तो देख
7/10

आपको लगभग हर बार नॉनवेज खाते हुए आपके साथी बोलेंगे, 'एक बार खाकर तो देख, पनीर-वनीर सब भल जाएगा, बहुत टेस्टा और हैल्दी है यार!'। आप आप हर बार ये ही बोलेगें, नहीं।  Image courtesy: © Getty Images

हास्यास्पद तर्क

हास्यास्पद तर्क
8/10

आपको शाकाहारी होने के नाते अमूमन अपने मांसाहारी साथीयों को कुछ हास्यास्पद तर्क करने पड़ते हैं। जैसे, तकनीकी तौर पर, पौधों में भी जीवन होता है, और तुम उन्हें खा कर उनकी हत्या कर देते हो।' उफ्फ्फ... अब इन हास्यास्पद तर्कों का क्या जवाब दिया जाए!  Image courtesy: © Getty Images

प्रेंक्स का सामना

प्रेंक्स का सामना
9/10

अक्सर दोस्त आपके साथ मजाक करते हैं, जैसे आपके लंच बॉक्स में लैग पीस रख देना, या कुछ खिलाकर कहना कि, 'तूने जो खाया वो मीट था!!' या आपको खाते समय बोन पीस दिखाना आदि...  Image courtesy: © Getty Images

अपना खाना, खुद ही खाना

अपना खाना, खुद ही खाना
10/10

शाकाहारी होने के नाते, चिकन कबाब खा रहे आपके दोस्त आपसे आपके लंच बॉक्स में रखी दाल या लौकी की सब्जी शेयर नहीं करते हैं। और आपको अकेले ही दोस्तों के ताने सुनते हुए वो खत्‍म करनी पड़ती है। Image courtesy: © Getty Images

Disclaimer