जिंक से भरपूर ये 8 आहार दूर करेंगे शरीर में जिंक की कमी, कई बीमारियां भी रहेंगी दूर

जिंक शरीर के कार्य के लिए एक जरूरी मिनरल है, जो इम्यूनिटी बढ़ाता है। जानें 8 फूड्स जिनमें जिंक की होती है भरपूर मात्रा।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Sep 12, 2018

जिंक से भरपूर आहार

जिंक से भरपूर आहार
1/9

जिंक भी आयरन और कैल्शियम की तरह शरीर के कार्य के लिए बहुत आवश्‍यक मिनरल है। जिंक से हमें कई तरह के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ प्राप्‍त हो सकते हैं। यह हमारी रोग-प्रतिरोधक प्रणाली, त्वचा के स्वास्थ्य तथा जख्मों के उपचार में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसकी हल्की-सी कमी के चलते प्रतिरोधक क्षमता में कमी, त्वचा में कमजोरी, दृष्टि कम होना तथा अन्य कई समस्याएं पैदा हो जाती हैं। मेडिकल एक्‍सपर्ट के अनुसार, जिंक से डायबिटीज जैसी खतरनाक बीमारी सही हो सकती है। इसलिये यह बहुत जरुरी है कि जिंक की एक सीमित मात्रा आहार दृारा सेवन की जाए। तो फिर देर किस बात की आज ही अपनी दिनचर्या में ऐसे आहार को शामिल करें जिनमें जिंक भरपूर मात्रा में पाया जाता है। आइए ऐसे ही जिंक से भरपूर आहार के बारे में जानते हैं।

मूंगफली (Peanuts)

मूंगफली (Peanuts)
2/9

मूंगफली जिंक का सबसे अच्‍छा स्रोत है। साथ ही इसमें आयरन, विटामिन ई, मैग्नीशियम, पोटेशियम, फोलिक एसिड तथा फाइबर भी होता है। इसमें फ्री रेडिकल्स से बचाने वाला ‘रिसवेरेट्राल’ नामक एंटी-आक्सीडेंट भी पाया जाता है। साथ ही मूंगफली में ‘ओमेगा-6′ फैट भी प्रचुर मात्रा में मिलता है, जो स्वस्थ कोशिकाओं तथा अच्छी त्वचा के लिए जिम्मेदार है। साथ ही इनमें फैट तथा कोलेस्ट्रॉल कम मात्रा में होता है।

लहसुन (Garlic)

लहसुन (Garlic)
3/9

लहसुन में भी भरपूर जिंक पाया जाता है।  प्रतिदिन लहसुन की एक कली के सेवन से शरीर को विटामिन ए, बी और सी के साथ आयोडीन, आयरन, पोटैशियम, कैल्शियम और मैग्नीशियम जैसे कई पोषक तत्व एक साथ मिल जाते हैं। लहुसन में एंटी बैक्‍टीरियल और एंटी-फंगल गुण भी पाये जाते हैं। इसमें मौजूद सल्फर भी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसलिए जिंक की कमी पूरी करने के लिए अपने डाइट में लहसुन को जरूर शामिल करें।

अंडे की जर्दी (Yellow Yolk)

अंडे की जर्दी (Yellow Yolk)
4/9

कुछ लोग मानते हैं कि अंडे की जर्दी खाने से कोलेस्‍ट्रॉल बढ़ता है। लेकिन अगर आप रोजाना एक-दो अंडे खाते हैं तो इससे आपके कोलेस्ट्रॉल लेवल पर ज्यादा फर्क नहीं पड़ता है। अगर आपको जिंक चाहिए तो आपको अपने आहार में अंडे के पीले भाग को शामिल करना चाहिए। इसके साथ ही पीले भाग में कैल्‍शियम, आयरन, फॉस्‍फोरस, थाइमिन, विटामिन बी6, फोलेट, विटामिन बी12 और पैंथोनिक एसिड भी पाया जाता है।

तिल के बीज (Sesame Seeds)

तिल के बीज (Sesame Seeds)
5/9

तिल के बीजों में भी जिंक की अच्छी मात्रा होती है। साथ ही इसमें कई प्रकार के प्रोटीन, कैल्शियम, बी काम्‍प्‍लेक्‍स और कार्बोहाइट्रेड आदि तत्‍व पाये जाते हैं। तिल में फोलिक एसिड भरपूर मात्रा में होता है। यह मोनो-सैचुरेटेड फैटी एसिड का एक स्रोत है, जो बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करता है और गुड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है। आप तिल के लड्डू और ढेर सारी अन्य डिशेज बना सकते हैं।

मशरुम (Mushrooms)

मशरुम (Mushrooms)
6/9

मशरुम को सुपरफूड के रूप में जाना जाता है। पोषक तत्वों, खासकर मिनरल्स से भरपूर मशरूम में जिंक अच्छी मात्रा में होता है। साथ ही मशरुम में पोटेशियम, फॉस्‍फोरस, कैल्शियम और तमाम जरूरी तत्व पाए जाते हैं, जो शरीर को हृदय रोग और कैंसर से बचाने में मदद करते हैं। बहुत कम खाद्य पदार्थों में पाया जाने वाला विटामिन डी भी मशरूम में अच्छी मात्रा में पाया जाता है।

दाल और फलियां (Pulses and Lentils)

दाल और फलियां (Pulses and Lentils)
7/9

दाल और फलियां प्रोटीन से तो भरपूर होती ही हैं, साथ ही इनमें जिंक की मात्रा भी काफी अधिक होती है। जिंक की कमी को पूरा करने के लिए आपको सभी तरह की दालों और फलियों का सेवन जरूर करना चाहिए। अपने आहार में राजमा, अरहर, मूंग, मसूर आदि की दाल तथा सोयाबीन, चना आदि को शामिल करें। अगर आप बॉडी बनाना चाहते हैं या इम्यूनिटी बढ़ाना चाहते हैं, तो आपको इन दालों और फलियों का रेगुलर सेवन करना चाहिए।

डार्क चॉकलेट (Dark Chocolate)

डार्क चॉकलेट (Dark Chocolate)
8/9

आपको जानकर हैरानी हो सकती है कि डार्क चॉकलेट्स में भी जिंक की बहुत अच्छी मात्रा होती है इसलिए अगर आप इम्यूनिटी बढ़ाना चाहते हैं तो आपके लिए डार्क चॉकलेट का सेवन भी फायदेमंद है। हालांकि चॉकलेट का सेवन करते समय यह भी ध्यान रखना जरूरी है कि इसमें कैलोरीज भी बहुत ज्यादा होती हैं। इसलिए आप ज्यादा मात्रा में चॉकलेट्स का सेवन नहीं कर सकते हैं।

अलसी के बीज (Flax Seeds)

अलसी के बीज (Flax Seeds)
9/9

अलसी में ओमेगा-3 फैटी एसिड के अलावा जिंक भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो शरीर को स्वस्थ रखने में विशेष रूप से सहायक है। साथ ही अलसी के बीजों में कैल्शियम, आयरन, विटामिन बी व विटामिन ई होता है। ये बीज एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं। इन का सेवन करने से कब्ज दूर होती है। अस्थमा के रोगियों के लिए इन बीजों का सेवन विशेष उपयोगी है। इनमें एंटी-इंफ्लेमेंटरी व एंटी-कैंसर प्रौपर्टीज मौजूद होती हैं। ओमेगा-3 फैटी एसिड होने के कारण अलसी के बीज हार्ट के लिए भी बहुत फायदेमंद माने जाते हैं।

Disclaimer