अपने एक्स से ना कहें ये दस बातें

अक्सर लोग एक्स से किस तरह से बात करनी चाहिए इस बात से अनजान रहते हैं। जिसकी वजह से वे नहीं जान पाते कि उन्हें क्या कहना चाहिए और क्या नहीं।

Anubha Tripathi
Written by:Anubha TripathiPublished at: Mar 07, 2014

एक्स से बात करें जरा संभल कर

एक्स से बात करें जरा संभल कर
1/11

कई बार चाहकर भी आप उसे भूल नहीं पाते। कहीं ना कहीं और कभी ना कभी ऐसी स्थिति बन जाती है जब उसकी याद आपको आ ही जाती है। ऐसे में आपके मन में उसके खिलाफ गुस्सा या प्यार की भावनाएं आने लगती हैं। और जब आपसे इन भावनाओं पर काबू नहीं हो पाता है तो आप उन्हें कुछ ऐसा कह देते हैं जो स्थिति बिगाड़ सकता है। आइए जानें ऐसी कौन सी दस बातें हैं जो आपको अपने एक्स से नहीं कहनी चाहिए-

बहुत याद आते हो

बहुत याद आते हो
2/11

अगर कभी आप अपने एक्स के साथ बिताए पलों को याद करते हुए भावुक हो जाएं और उसे 'आई मिस यू' का मैसेज करते हैं तो यह ठीक नहीं है। एक रिश्ते के खत्म होने के बाद अपने एक्‍स को आई‍ मिस यू लिखकर मैसेज करने का कोई मतलब नहीं होता है। रिश्‍ता खत्‍म होने के बाद कुछ भी मायने नहीं रखता है कि आप उन्‍हें कितना मिस करते हैं।

माफ कर दो मुझे

माफ कर दो मुझे
3/11

रिश्ता खत्म होने के बाद सॉरी कहना थोड़ा अजीब हो सकता है। लेकिन अगर आप उन्हें सॉरी बोलना ही चाहते या चाहती है तो कोई ठोस वजह ढूंढकर ही सॉरी बोलें। वहीं, अगर आपकी गलती की वजह से रिश्‍ता टूटता है तो उस पल सॉरी बोलने का कोई मतलब नहीं होता है। इसलिए, ऐसा मैसेज न ही करें तो बेहतर होगा।

भावनात्मक मैसेज

भावनात्मक मैसेज
4/11

कभी-कभी ऐसा होता है कि गानें सुनते वक्त उसकी लाइनें हमसे कनेक्ट होने लगती है। ऐसा लगता है कि गाना हमारी ही भावनाओं को व्यक्त कर रहा है। इसलिए हम इतने भावुक हो जाते हैं कि उसे अपने एक्‍स को भेज देते है। ऐसा कतई न करें, ये गलत है और इससे आपको और उन्‍हें दोनों को दुख पहुंचेगा। अगर उस गाने से आप दोनों की यादें जुड़ती हैं तो उसे न भेजने में ही भलाई है।

एक शब्‍द का मैसेज

एक शब्‍द का मैसेज
5/11

ब्रेकअप के बाद या रिश्ता खत्म होने के बाद कभी भी अपने पार्टनर को एक लाइन का मैसेज जैसे - हाय, हैलो, हे... आदि न भेजें। अगर आपको कुछ कहना है तो सटीक शब्‍दों में बात कर लें। फालतू में उनका अटेंशन लेने की कोशिश न करें।

गुस्से को काबू करें

गुस्से को काबू करें
6/11

रिश्ता खत्‍म होने के बाद गुस्‍सा भी आता है और आपको दुख भी पहुंचता है लेकिन इससे आप एक्‍स को नॉन स्‍टॉप मैसेज न करें और न ही उन पर सारी भड़ास निकालें। अगर आप इस रिश्‍ते से निकलना चाहते है तो निकल जाएं, बिना किसी गिले - शिकवे के। आप जितना जाहिर करेगें, उतना ही दुख होगा। किसी को ब्‍लेम करने से आपकी मुश्किलें कभी भी सुलझेगी नहीं।

तुम्हें याद कर रहा/रही हूं

तुम्हें याद कर रहा/रही हूं
7/11

यह बहुत ही बेकार आईडिया है कि आप अपने पार्टनर को यह लिखें कि आप उन्‍हे याद कर रहे हैं या कर रही हैं और आगे मिलने की उम्‍मीद रखते है। ऐसा करने से आपके एक्‍स को तकलीफ हो सकती है। आपके एक्‍स ने आपकी जिन्‍दगी में बहुत अह्म रोल निभाया है लेकिन आप दोनों अपनी मर्जी से अलग हुए है तो इन बातों को कोई तर्क नहीं है।

गुड बॉय कहना था

गुड बॉय कहना था
8/11

जब भी आप अपने एक्‍स से अलग होते हैं, तो थोड़ा बहुत दुख होता ही है लेकिन ऐसे समय में इस बात को कहने का कोई मतलब नहीं बनता है कि बस तुम्‍हे गुड बॉय कहने आया हूं। ऐसा लोग अक्‍सर उस स्थिति में कहने जाते है जब वह दुबारा से उस रिश्‍ते में बंधने की उम्‍मीद रखते है। यह किसी भी रिश्‍ते को खत्‍म करने का अच्‍छा तरीका नहीं है। ऐसी झूठी उम्‍मीद का कोई मतलब नहीं होता है, इसलिए अपने एक्‍स को ऐसे मैसेज करने से बचें।

पछतावा दिखाना

पछतावा दिखाना
9/11

हो सकता है कि आपका रिश्ता जिन परिस्थितियों में खत्म हुआ उसका आपको इसका दुख हो लेकिन कभी अपने एक्स से या ना कहें कि आपको इस बात का बहुत पछतावा है। यह बहुत बेइज्जती भरा हो सकता है। अगर आप इस रिश्ते से बाहर निकल चुके हैं तो अब इन बातों का कोई अर्थ नहीं है। अपने एक्स को कोसने की जगह अपनी लाइफ में आगे बढ़ें।

घरवालों को नापसंद थे तुम

घरवालों को नापसंद थे तुम
10/11

अपने एक्स को कभी यह ना कहें कि आपके घर वाले उन्हें कभी पसंद नहीं करते थे। हो सकता है कि यह सच हो लेकिन जब आप अब उनके साथ किसी रिश्ते में है ही नहीं तो इन बातों को कहने क्या फर्क पडे़गा। जब आपको उनके साथ रहना ही नहीं तो ये बातकर आप उनका दिल ही दुखाएगें।

Disclaimer