क्या करें जब जॉब हो झक्कास पर बॉस हो बकवास

ना तो नौकरी छोड़ने का दिल करता है और ना ही बॉस ही बर्दाश्त होता है। तो भला क्या करें जब जॉब हो झक्कास पर बॉस हो बकवास? चलिए बताते हैं कि इस स्थिति में सबसे अच्छा समाधान क्या हो सकता है और आपको ऐसे में क्या करना चाहिए।

Rahul Sharma
Written by: Rahul SharmaPublished at: Apr 12, 2017

जॉब झक्कास पर बॉस बकवास

 जॉब झक्कास पर बॉस बकवास
1/5

फिल्म की कहानी में अगर कोई अजीब सा ट्विस्ट आए तो बड़ा मज़ा आता है, लेकिन अगर ये ट्विस्ट असल ज़िंदगी में आ जाए तो बड़ी परेशानी हो जाती है। असलियत में ऐसा ही एक ट्विस्ट लोगों की ज़िंदगी में तब आता है, जब उनको नौकरी तो मनपसंद की मिल जाती है, लेकिन उनका बॉस एक नम्बर का खडूस होता है। इस स्थिति के लिए एक कहावत भी है, "न उगला जाए और न निगला जाए"। ना तो नौकरी छोड़ने का दिल करता है और ना ही बॉस ही बर्दाश्त होता है। तो भला क्या करें जब जॉब हो झक्कास पर बॉस हो बकवास? चलिए बताते हैं कि इस स्थिति में सबसे अच्छा समाधान क्या हो सकता है और आपको ऐसे में क्या करना चाहिए।

असल में समस्या भला है क्या?

असल में समस्या भला है क्या?
2/5

किसी भी समस्या के बारे में कोई फैंसला लेने से पहले एक बार शांत मन और ईमानदारी के साथ बैठ कर ये ज़रूर सोचने और जानने की कोशिश करें कि भला समस्या है क्या और समस्या का कारण क्या है? आपके बॉस के बर्ताव के पीछे कारण व्यक्तिगत या काम से संबंधित हो सकते हैं। अगर ये काम से संबंधित हैं तो आप अपने काम करने के तरीकों में थोड़े मुम्किन बदललाव कर सकते/सकती हैं। लेकिन यदि कारण व्यक्तिगत हैं तो आपको जल्द से जल्द उसके साथ बैठकर इस संबंध में बात करनी चाहिए।

एक बार उसकी जगह पर आकर भी सोचें

एक बार उसकी जगह पर आकर भी सोचें
3/5

देखिए, वैसे तो मार्केट में दुष्ट बॉसों की कोई कमी नहीं है। कुछ तो वाकई सहकर्मियों को परेशान करने के आदी होते हैं, लेकिन कुछ काम के ज्यादा दबाक के चलते चिड़चिड़े और गुस्सैल स्वभाव के हो जाते हैं। तो पहले वालों से बात करने का कोई फायदा नहीं, लेकिन अगर आपका बॉस काम के दबाव के चलते ऐसा कर रहा है तो उसके प्रति अपने व्वहार को थोड़ा सोम्य करें और चीज़ों को बेहतर बनाने की कोशिश करें। आखिरकार हम सभी इंसान ही हैं।

दबा कर न रखें, बात करें

दबा कर न रखें, बात करें
4/5

शुरुआती दिनों में बातों को खुद तक रखने में कोई परेशानी नहीं हैं, लेकिन अगर आपका बॉस लगातार ताने देता हे या बात-बात पर पर्सनल हो जाता है, तो इस संबंध में तुरंत खुल कर बात करें। घबराएं नहीं, अपमानित न हों, जाएं और खुल कर बॉस से इस संबंध में बात करें।

ध्यान रखें कि आपको अपनी नौकरी अच्छी लगती है

ध्यान रखें कि आपको अपनी नौकरी अच्छी लगती है
5/5

कभी कभी चीज़ें आपे से बाहर हो जाती हैं और हम तैश में आकर गलतियां कर बैठते हैं। देखिए, नौकरी छोड़ देना कोई समाधान नहीं है, समाधान है कोई समाधान निकालना। तो गुस्से में आतक कोई कदम न उठाएं, ध्यान रखें कि आपको आपकी नौकरी से प्यार है। अभी स्थितियां थोड़ी खराब हैं, जिन्हें और शांत रहते हुए और अपने विवेक का इस्तेमाल कर सुलझा सकते हैं। Images source : © Getty Images

Disclaimer