क्‍या करें जब आपके सामने हो जाये कोई सड़क दुर्घटना

आपके सामने सड़क दुर्घटना होने पर वहां से भागने की बजाय दुर्घटनाग्रस्‍त व्‍यक्ति की मदद करें, उससे संबंधित सभी प्रकार के दस्‍तावेज तैयार करें, प्राथमिक चिकित्‍सा देकर पुलिस को इसके बारे में सूचित करें।

Nachiketa Sharma
Written by: Nachiketa SharmaPublished at: Jul 24, 2014

सड़क दुर्घटना होने पर

सड़क दुर्घटना होने पर
1/8

दुनिया के अन्‍य देशों के मुकाबले भारत सड़क दुर्घटना में होने वाली मौतों के आंकड़ें पर पहले स्‍थान पर है, इसक प्रमुख कारण है दुर्घटनाग्रस्‍त व्‍यक्तियों को समय पर प्राथ‍मिक चिकित्‍सा न मिल पाना। ऐसे में अगर आपके सामने कोई सड़क दुर्घटना हुई है तो वहां से भागने की बजाय दुर्घटनाग्रस्‍त व्‍यक्ति की मदद करें, अगर संभव हो तो उसे प्राथमिक चिकित्‍सा मुहैया करायें और उसके बारे में जानकारी भी एकत्रित कर लें। इसके अलावा भी कई बातें हैं जिनका ध्‍यान सड़क दुर्घटना के दौरान करना चाहिए। image source - getty images

ट्रैफिक को संभालें

ट्रैफिक को संभालें
2/8

सड़क दुर्घटना होने पर सबसे पहला काम ट्रैफिक को संभालने का करें, जिस तरफ दुर्घटना हुई है उस लेन में अतिरिक्‍त ट्रैुफिक को आने से रोकें। इसके लिए अन्‍य लोगों की मदद भी लें या फिर गाड़ी की खतरे की बत्तियां जला दें, आपातकालीन त्रिकोण या शंकु लगाइये जिससे अन्‍य वाहनों के चालक उस स्थिति को देख सकें। image source - getty images

चोटों की जांच

चोटों की जांच
3/8

जिसकी दुर्घटना हुई है उसके चोटों की जांच कर देख लें कि उसे कहां-कहां चोट आई है। अगर गाड़ी में और लोग हों तो उनके चोटों की भी जांच करें। ऐसे लोगों को गाड़ी से बाहर निकालें। image source - getty images

प्राथमिक चिकित्‍सा दें

प्राथमिक चिकित्‍सा दें
4/8

एक्‍सीडेंट के बाद सबसे जरूरी है कि व्‍यक्ति को प्राथमिक चिकित्‍सा प्रदान कीजिए, अगर ब्‍लीडिंग हो रही है तो खून को रोकने की कोशिश करें। दुर्घटना के बाद अगर व्‍यक्ति को प्राथमिक चिकित्‍सा दिया जाये तो उसकी जान आसानी से बचायी जा सकती है। image source - getty images

पुलिस को सूचना दें

पुलिस को सूचना दें
5/8

दुर्घटना की रिपोर्ट करने के लिए यातायात पुलिस को कॉल करें। घटना स्थल पर किसी अधिकारी के आने की प्रतीक्षा कीजिए, दुर्घटना की समस्त प्रासंगिक जानकारी के दस्तावेज तैयार कर सकते हैं। दुर्घटना स्थल पर मौजूद रहें जब तक कि पुलिस अधिकारियों ने आपका बयान नहीं लिया है, और उस अधिकारी का नाम अवश्य रिकॉर्ड कर लें जिसने आपका बयान दर्ज किया है। image source - getty images

जानकारी इकट्ठा करें

जानकारी इकट्ठा करें
6/8

दुर्घटना से संबंधित व्‍यक्ति की जानकारी अच्‍दे से कर लें। उसका नाम, पता, फोन नंबर, लाइसेंस प्लेट नंबर, ड्राइविंग लाइसेंस नंबर, वाहन पहचान संख्या (वीआईएन), बीमा कंपनी का नाम और पॉलिसी नंबर अवश्य लिख लें। image source - getty images

स्थिति की तस्‍वीर लें

स्थिति की तस्‍वीर लें
7/8

दुर्घटना के दस्तावेज तैयार करना बहुत जरूरी है, इसलिए दुर्घटना के ठीक बाद उन सभी विवरणों को नोट करें जो आप याद कर सकते हैं। इसके अलावा, अपने सेल फोन या कैमरा से वाहन और उसकी क्षति सहित दुर्घटना स्थल की तस्वीरें लेना न भूलें। तस्वीर लेते समय दुर्घटना में शामिल किसी भी वाहन के लाइसेंस प्लेट नंबर की तस्वीर जरूर लें। image source - getty images

दस्‍तावेज पुलिस को सौंपें

दस्‍तावेज पुलिस को सौंपें
8/8

जिसके साथ दुर्घटना हुई है उसे संबंधित सभी दस्तावेजों और निजी सामानों को पुलिस को सौंपना न भूलें। चालक से संबंधित बीमा पॉलिसी के कागजात, मरम्मत की रिपोर्ट, रसीद, पर्स, वॉलेट या म्यूजिक सिस्टम को निकालकर पुलिस को सौंप दीजिए। image source - getty images

Disclaimer