आपको हेल्‍दी और हैप्‍पी रखते हैं ये 4 हार्मोन

क्‍या आप जानते हैं कि हमारे शरीर में चार ऐसे हार्मोंन्‍स पाये जाते हैं, जो हमें कुदरती तौर पर खुश रखने में मदद करते हैं। ये सभी हार्मोन हमारी शरीर में होने वाले केमिकल रिएक्शंस से बनते हैं।

Pooja Sinha
Written by:Pooja SinhaPublished at: Feb 08, 2016

हैप्‍पी रखने वाले हार्मोन

हैप्‍पी रखने वाले हार्मोन
1/5

लगभग हर भावना का अनुभव हमारे शरीर में होने वाले कुछ हार्मोन की रिहाई का परिणाम है। कुछ हार्मोन हमें अच्‍छा अनुभव कराने के लिए जिम्‍मेदार होते हैं तो कुछ से हमें बुरा लगता है जबकि कुछ दूसरों के प्रति हमारे प्‍यार के लिए जिम्‍मेदार होते हैं। आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में हंसना जैसे हम भूल से गये है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि हमारे शरीर में चार ऐसे हार्मोंन्‍स पाये जाते हैं जो हमें कुदरती तौर पर खुश रखने में मदद करते हैं। ये सभी हार्मोन हमारी शरीर में होने वाले केमिकल रिएक्शंस से बनते हैं। आइए इस स्‍लाइड शो के माध्‍यम से जानें कौन से हैं ये हैप्पी हार्मोन और इन्‍हें बढ़ाने के उपाय।

सेरोटोनिन हार्मोन

सेरोटोनिन हार्मोन
2/5

सेरोटोनिन एक महत्वपूर्ण ब्रेन-केमिकल है जो आपके मूड को बेहतर बनाता है, उदासी दूर करता है और आपको डिप्रेशन से भी बाहर निकालता है। इस हार्मोन को बढ़ाने के लिए रोजाना कुछ देर धूप में बैठें। कई शोधों से पता चलता है कि मसाज थेरेपी, कोर्टिसोल (cortisol) नामक स्ट्रेस-हार्मोन में कमी लाने में सहायक होता है और सेरोटोनिन लेवेल को बूस्ट करने में सहायक होता है

डोपामाइन हार्मोन

डोपामाइन हार्मोन
3/5

हमारे दिमाग में प्राकृतिक रूप से डोपामाइन का उत्‍पादन होता है, यह हार्मोन हमें खुशी महसूस करवाता है। डोपामाइन यानी की लव हार्मोन का एहसास तभी होता है जब आप सेक्‍स कर रहे होते हैं या फिर कोई मन पसंद काम कर रहे हों। दूसरी ओर पर्याप्त डोपामाइन के बिना, आप सुस्त, उदास और जीवन के प्रति अरूचि महसूस करने लगेंगे। रोजाना एक्सरसाइज कर आप यह हार्मोन शरीर में बढ़ा सकते हैं। क्‍योंकि रोजाना एक्‍सरसाइज करने से रक्त कैल्शियम बढ़ता है। जो दिमाग में डोपामाइन का तेजी से उत्पाद करता है।

ऑक्सीटोसिन हार्मोन

ऑक्सीटोसिन हार्मोन
4/5

ऑक्सीटोसिन को 'हैप्पी हार्मोन' के नाम से जाना जाता है। ऑक्सीटोसिन एक शक्तिशाली 'लव हार्मोन' है, जो पुरुष और महिलाओं दोनों को बंधन में बांधने में मदद करता है। ऑक्सीटोसिन साथी के प्रति लगाव की भावना को बढ़ावा देता है। यह एक-दूसरे से जुड़े रहने में मदद करता है, साथ ही खुशमिजाज भी बनाता है। मस्तिष्क के एक खास हिस्से में इसकी सक्रियता होने पर लोगों में प्यार की भावना पैदा होती है। लेकिन ऑक्‍सीटोसिन के कम होने पर तनाव बढ़ने लगता है। रोजाना कुछ समय मालिश करने से ये इस हार्मोन का लेवल मेंटेन रहता है। एक अध्‍ययन के अनुसार, एक साधारण सा आलिंगन रक्‍त प्रवाह में ऑक्‍सीटोसिन के स्‍तर को बढ़ा सकता है।

एंडोर्फिन्स हार्मोन

एंडोर्फिन्स हार्मोन
5/5

एंडोर्फिन्स हार्मोन को प्राकृतिक पेनकिलर भी कहते हैं। प्रोत्‍साहन बढ़ाने के लिए यही हार्मोन जिम्मेदार है। मसालेदार खाना खाकर आप यह हार्मोन बढ़ा सकते हैं। साथ ही हर दिन 30 मिनट की एक्सरसाइज को सुबह की दिनचर्या का हिस्सा बनाएं। इससे एंडोर्फिन्स हार्मोन सक्रिय होता है, जो आपको दिन भर खुशनुमा रखने में मददगार साबित होगा। प्यार के पलों में एंडोर्फिन्स रिलीज होते हैं और आपकी त्वचा विटामिन डी से भरपूर हो जाती है, नतीजतन आप खिले-खिले और जवां नजर आते हैं।Image Source : Getty

Disclaimer