जानें किन कारणों से हमेशा रहता है मुंह सूखा

कई बार शरीर के जरूरत के अनुसार पानी पीने के बावजूद मुंह हमेशा सूखा रहता है। इस स्लाइडशो में मुंह के हमेशा सूखे रहने का कारण जानिये।

Gayatree Verma
Written by: Gayatree Verma Published at: Aug 08, 2016

मुंह के सूखे होने की समस्या

मुंह के सूखे होने की समस्या
1/5

कई बार दिन में बहुत बार पानी पीने के बावजूद भी मुंह सूखा-सूखा लगता है। ऐसे में लोग इसे डीहाइड्रेशन का कारण मानते हैं। ये सही भी है क्योंकि डीहाइड्रेशन के कारण मुंह सूखा सा रहता है। लेकिन कई बार शरीर के जरूरत के अनुसार भी पानी पीने से मुंह सूखा रहता है। इसके कई कारण हो सकते हैं। इस स्लाइडशो में इन कारणों के बारे में जानिए और बचाव करिए।

तंबाकू और शराब

तंबाकू और शराब
2/5

तंबाकु और शराब पीने के नुकसानों के बारे में तो हर कई जानता है। लेकिन ये मुंह के सूखे रहने का प्रमुख कारण माना जाता है। दरअसल तंबाकू, शराब व अन्य नशीले पदार्थ मुंह के लार ग्रंथियों को प्रभावित करती हैं, जिससे मुंह में लार बनने में कमी आने लगती है और मुंह के सूखे रहने की समस्या पैदा हो जाती है।

दवा के कारण

दवा के कारण
3/5

कई बार अत्यधिक मात्रा में दवा लेने के कारण भी मुंह हमेशा सूखा रहता है। ये शरीर द्वारा दवा को पचाने में शरीर का पूरा पानी इस्तेमाल कर लेने के कारण होता है। जिसके बाद शरीर को और अधिक पानी की जरूरत होती है। खासकर सर्दी-खांसी के इलाज के दौरान ली जाने वाली एंटीथिस्टेमाइंस जैसी दवा और हाइपरटेंशन, डायरिया, पार्किंसंस व मसल्स के दर्द को दूर करने के लिए जो दवाएं ली जाती है उसके बाद मुंह अधिक सूख जाता है।

कैंसर का इलाज

कैंसर का इलाज
4/5

कैंसर की बीमारी और उसके इलाज के दौरान मुंह का सूखा रहना आम लक्षण हैं। कैंसर का इलाज करने के दौरान कीमोथेरेपी और रेडिएशन जैसी थैरेपी के कारण मुंह के सूखे होने की समस्या होती है। इस कारण डॉक्टर कैंसर में अधिक मात्रा में पानी पीने की हिदायत देते हैं।

साइनसाइटिस

साइनसाइटिस
5/5

साइनसाइटिस या सर्दी-खांसी की बीमारी में कई बार मरीज को नाक से सांस लेने में परेशानी होती है। इस स्थिति में मरीज मुंह से सांस लेने लगते हैं। जिससे मुंह के सूखे होने की समस्या उत्पन्न होती है।

Disclaimer