Cancer in Men: पुरुषों में कैंसर की शुरुआत का संकेत हैं ये 10 लक्षण, रहें सावधान

कैंसर का पता जितनी जल्दी चल जाए, इसका इलाज उतना आसान हो जाता है। जानें पुरुषों में कैंसर की शुरुआत होने पर दिखने वाले 10 लक्षण, जिन्हें आप सामान्य समझने की भूल कर सकते हैं।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Jun 25, 2018

पुरुषों में कैंसर

पुरुषों में कैंसर
1/11

भारत में कैंसर के कारण हर साल लाखों लोगों की मौत होती है। भारतीय पुरुषों में आमतौर पर मुंह का कैंसर, जीभ का कैंसर, फेफड़ों का कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर आदि प्रमुख रूप से पाए जाते हैं। कैंसर का पता शुरुआती अवस्था में चलने पर इसका इलाज आसान हो जाता है। मगर शुरुआती अवस्था में कैंसर के लक्षण या संकेत इतने सामान्य होते हैं कि इनको लोग नजरअंदाज कर देते हैं। आइए आपको बताते हैं पुरुषों में कैंसर की शुरुआत के 10 संकेत। इन संकेेतों के दिखने पर आपको तुरंत चिकित्सक से संपर्क करना जरूरी है।     कैंसर गंभीर रोग है, जो समय के साथ जानलेवा होता जाता है। शुरुआती अवस्था में ही अगर कैंसर का पता चल जाए, तो इसे आसानी से ठीक किया जा सकता है। मगर परेशानी यह है कि कैंसर के शुरुआती लक्षण इतने सामान्य होेते हैं, कि लोग इन्हें नजरअंदाज कर देते हैं। ऐसे में कैंसर धीरे-धीरे शरीर में फैलता रहता है और इसका इलाज भी मुश्किल होता जाता है। कुछ ऐसे कैंसर हैं, जो सिर्फ पुरुषों में पाए जाते हैं या महिलाओं की अपेक्षा पुरुषों में ज्यादा पाए जाते हैं। जब शरीर में कैंसर सेल्स जन्म लेती हैं, तो शरीर में कुछ लक्षण दिखाई देते हैं। आइए आपको बताते हैं क्या हैं ये लक्षण, ताकि आप इन्हें नजरअंदाज न करें।

आंत में समस्‍या

आंत में समस्‍या
2/11

आंतों में सामान्‍य समस्‍या होना बड़ी बात नहीं, लेकिन अगर लगातार आंतों में समस्‍या है तो यह कोलेन या कोलोरेक्‍टल कैंसर का शुरुआती लक्षण हो सकता है। डायरिया और अपच की समस्‍या इस लक्षण को दर्शाते हैं। इसके कारण पेट में गैस और पेट में दर्द की समस्‍या भी हो सकती है।

खून का बहना

खून का बहना
3/11

लगातार खून का बहना भी कैंसर का लक्षण हो सकता है। अगर कैंसर की संभावना है तो इसके कारण खून मलाशय के द्वारा बाहर निकलता है। य‍ह कोलेन कैंसर का लक्षण है। हालांकि यह समस्‍या 50 की उम्र के बाद होती है, लेकिन वर्तमान लाइफस्‍टाइल के कारण यह किसी भी उम्र में हो सकती है।

मूत्राशय में बदलाव

मूत्राशय में बदलाव
4/11

मूत्र त्यागने के समय अगर पीड़ा होती हो अथवा मूत्र में रक्त की मौजूदगी पाई जाती हो तो ये प्रोस्टेट कैंसर अथवा डिम्बग्रंथि कैंसर के लक्षण हो सकते हैं। मूत्र असंयम की समस्‍या भी कैंसर का लक्षण हो सकती है।

टेस्टिकल्‍स में बदलाव

टेस्टिकल्‍स में बदलाव
5/11

टेस्टिकल्‍स का बदलना, टेस्टिकुलर कैंसर संकेत हो सकता है। अगर आपके टेस्टिकल्‍स का आकार बढ़ रहा है तो इसे नजरअंदाज न करें। टेस्टिकुलर कैंसर ज्‍यादातर 20 से 39 साल की उम्र में होता है।

पीठ में दर्द होना

पीठ में दर्द होना
6/11

काम की अधिकता और कुर्सी पर गलत पोस्‍चर में बैठने के कारण पीठ में दर्द होना सामान्‍य है। लेकिन अगर लगातार पीठ में दर्द हो रहा हो तो यह कोलोरेक्‍टल या प्रोस्‍टेट कैंसर का कारण हो सकता है। इसके अलावा कमर के आसपास की मांसपेशियों में भी दर्द होता है।

वजन कम होना

वजन कम होना
7/11

अगर बिना किसी कारण के आपका वजन कम हो रहा है तो कैंसर का शुरूआती लक्षण हो सकता है। बिना किसी प्रयास के शरीर का वजन 10 पौंड से ज्यादा कम हो जाये तो इसे कैंसर के प्राथमिक लक्षण के रूप में देखा जा सकता है।

लगातार खांसी आना

लगातार खांसी आना
8/11

कोल्‍ड और फ्लू के अलावा धूम्रपान करने वालों को खांसी आती है। लेकिन अगर बिना किसी कारण से लगातार खांसी आये तो यह लंग कैंसर का शुरुआती लक्षण हो सकता है। अगर खांसी के साथ खून भी आये तो मामला गंभीर है।

थकान लगना

थकान लगना
9/11

बेवजह लगातार थका-थका महसूस करना कैंसर का शुरुआती लक्षण है। कैंसर की शिकायत होने पर मरीज बिना वजह थका-थका महसूस करता है। कभी-कभी तो वह हाथ पांव से काम करने लायक भी नहीं रहता।

बुखार होना

बुखार होना
10/11

बुखार कैंसर का एक सामान्य लक्षण होता है। कैंसर के कारण शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती है, जिसके कारण शरीर बीमारियों से खुद की रक्षा नहीं कर पाता और अक्सर बुखार की शिकायत होती है। ब्लड कैंसर, ल्यूकीमिया इत्यादि में अक्सर बुखार के लक्षण नजर आते हैं। image source - getty images

Disclaimer