हैवी पीरियड से निपटनें के आसान टिप्‍स

कुछ महिलाओं के लिए यह एक बहुत बड़ी मुश्किल की तरह होता है। क्‍योंकि उनको या तो क्रैंप की समस्‍या होती है या फिर बहुत अधिक ब्‍लीडिंग होती है। चलिये जाने पिरयड से निपटने के कुछ आसान टिप्स।

Devendra Tiwari
Written by: Devendra Tiwari Published at: Mar 21, 2016

क्‍यों होता है हैवी पीरियड

क्‍यों होता है हैवी पीरियड
1/6

महिलाओं को हर महीने पीरियड्स आते हैं यह एक प्राकृतिक क्रिया है। लेकिन कुछ महिलाओं के लिए यह एक बहुत बड़ी मुश्किल की तरह होता है। क्‍योंकि उनको या तो क्रैंप की समस्‍या होती है या फिर बहुत अधिक ब्‍लीडिंग होती है। यह परेशानी का कारण बन सकता है, क्‍योंकि इसके कारण शरीर से अधिक ब्‍लड निकलता है, यह एनीमिया का कारण भी बन सकता है। इस दौरान उनको बाहर जाने में भी डर लगता है। लेकिन अगर कुछ बातों को ध्‍यान में रखा जाये तो इस समस्‍या से निपटा जा सकता है। आइए हम आपको कुछ टिप्‍स दे रहे हैं जो आपकी मदद करेंगे। Images source : © Getty Images

तैयारी बनाकर रखें

तैयारी बनाकर रखें
2/6

अगर आपको उन दिनों में क्रैंप या फिर हैवी पीरियड की शिकायत होती है तो अगली डेट आने पर इसके लिए पहले से ही तैयारी बनाकर रखें। इसके लिए अपने पास अतिरिक्‍त पैड रखें जिससे पैड की कमी न हो और ऐसे पैड खरीदें जिनमें विंग्‍स हों जिससे लीकेज की शिकायत न हो। Images source : © Getty Images

कैफीन कम लें

कैफीन कम लें
3/6

अगर आप कॉफी की शौकीन हैं तो हैवी पीरियड के दौरान इससे बचकर रहें। क्‍योंकि कैफीन के कारण हैवी फ्लो और क्रैप्‍स की समस्‍या बढ़ जाती है। इसके अलावा अधिक नमक से भी शि‍कायत बढ़ सकती है, इसलिए नमक का प्रयोग भी कम मात्रा में करें। Images source : © Getty Images

मल्‍टीविटामिन लें

मल्‍टीविटामिन लें
4/6

अगर आपको बार-बार यह समस्‍या रहती है तो अपने शरीर की जरूरतों को जानें, ध्‍यान रखें कि शरीर में ब्‍लड की कमी न होने पाये। क्‍योंकि इसके कारण एनीमिया की समस्‍या हो सकती है। इसके लिए आयरन की भरपूर मात्रा लें। इसके लिए आप मल्‍टीविटामिन या फिर फोलिक एसिड लें। आयरनयुक्‍त आहार जैसे - पॉलक आदि अपने डाइट में शामिल करें। Images source : © Getty Images

भरपूर नींद लें

भरपूर नींद लें
5/6

हैवी पीरियड के कारण अधिक नींद भी आती है। जब शरीर से अधिक ब्‍लड निकलने लगता है तो ऐसा होता है, इसलिए जब अधिक नींद आये तो घबरायें नहीं। अगर इन दिनों अधिक नींद लेने की जरूरत हो रही है तो जरूर लें। नींद के दौरान होने वाले लीकेज या फिर दाग की चिंता बिलकुल न करें। Images source : © Getty Images

व्‍यायाम और खानपान

व्‍यायाम और खानपान
6/6

उन दिनों में एक्‍सरसाइज बिलकुल न छोड़ें, इससे दर्द कम होगा और आपका शरीर एक्टिव रहेगा। अगर दूसरे व्‍यायाम नहीं कर पा रही हैं तो वॉक करें। पीरियड के दिनों में खानपान पर भी विशेष ध्‍यान दें। रिसर्च बताती है कि पीरियड के दिनों में लो-फैट और उच्‍च फाइबर युक्‍त आहार बेहतर होता है, इससे क्रैप्‍स और दर्द से लड़ने में मदद मिलती है। इस दौरान अगर समस्‍या बढ़ जाये तो डॉक्‍टर से जरूर संपर्क करें।Images source : © Getty Images

Disclaimer