जानें महिलाओं में हाई टेस्‍टोस्‍टेरॉन के क्‍या हैं संकेत

कई महिलाओं के चेहरे में बहुत अधिक बाल होते हैं। ये हाई टेस्‍टोस्‍टेरॉन के संकेत हैं। इसके अलावा अगर इनमें से किसी भी चीज की समस्या आपके शरीर में हो तो आपमें टेस्‍टोस्‍टेरॉन का लेवल हाई है।

Devendra Tiwari
Written by: Devendra Tiwari Published at: Aug 16, 2016

महिला में उच्‍च टेस्‍टोस्‍टेरॉन

महिला में उच्‍च टेस्‍टोस्‍टेरॉन
1/6

टेस्‍टोस्‍टेरॉन केवल पुरुषों में ही नहीं पाया जाता है बल्कि इसकी थोड़ी सी मात्रा महिलाओं के अंदर भी होती है। दरअसल टेस्‍टोस्‍टेरॉन महिला के ओवरी में बहुत थोड़ी मात्रा में बनती है। इसकी छोटी सी मात्रा महिला के खून में निकलती है। हालांकि, कुछ महिलाएं जो पॉलीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम (पीसीओ) से ग्रस्‍त होती हैं, उनमें टेस्‍टोस्‍टेरॉन हार्मोन की मात्रा बढ़ जाती है। अगर इस हार्मोन का स्‍तर शरीर में अधिक हो जाये तो कई तरह की समस्‍यायें हो सकती हैं। इस स्‍लाइडशो में हम आपको बता रहे हैं टेस्‍टोस्‍टेरॉन का स्‍तर बढ़ने से क्‍या-क्‍या दिक्‍कत हो सकती है।

हिर्सुटिज्‍म (Hirsutism)

हिर्सुटिज्‍म (Hirsutism)
2/6

यह स्थ्‍िाति महिलाओं के लिए बहुत ही असहनीय हो सकती है। क्‍योंकि इस समस्‍या में चेहरे और शरीर पर बालों की असामान्य वृद्धि होने लगती है। इस समस्‍या से जो सबसे अधिक ठोड़ी, गाल, ऊपरी होंठ, छाती, पीठ और पैर प्रभावित होते हैं। यानी इन अंगों पर बाल उग आते हैं।

एक्‍ने

एक्‍ने
3/6

एक्‍ने की समस्‍या हार्मोन के कारण सबसे अधिक होती है। महिला के शरीर में जब टेस्‍टोस्‍टेरॉन का स्‍तर अधिक हो जाता है तब चेहरे पर भारी मात्रा में एक्‍ने होने शुरु हो जाते हैं। यह समस्‍या इतनी गंभीर हो जाती है कि दवाओं के सेवन भी ठीक नहीं होती है।

वजन का बढ़ना

वजन का बढ़ना
4/6

वजन बढ़ाना बहुत मुश्किल काम होता है। लेकिन यदि महिला के शरीर में टेस्टोस्टेरोन का उच्च स्तर है, तो अचानक वजन बढ़ना शुरु हो जाएगा और बार बार मीठा या नमकीन खाने की तलब लगेगी।

अनियमित पीरियड

अनियमित पीरियड
5/6

महिलाओं में पीरियड एक नैचुरल प्रक्रिया है, जो निश्चित समय पर ही होती है। लेकिन जब पीरियड समय पर न आये तो समझ जाइये कि शरीर की सभी गतिविधियां सामान्‍य नहीं है। अगर महिला को पीसीओएस है तो पीरियड्स समय पर नहीं आयेंगे।

बालों का झड़ना

बालों का झड़ना
6/6

महिलाओं के बाल पतले हो कर झड़ना शुरु हो जाएं तो यह शरीर में हाई टेस्‍टोस्‍टेरोन का संकेत हो सकता है। इसके अलावा आपके किलोट्रिस का साइज बढ़ सकता है। यह अधिवृक्क ग्रंथि या अंडाशय में मौजूद ट्यूमर की वजह से हो सकता है। इसका इलाज तभी संभव है जब इसकी पहले जांच करा ली जाए।

Disclaimer