पैरों से ज्‍यादा जूतों की करें देखभाल, घर में नहीं आएंगी ये बीमारियां

आमतौर पर लोग अपने पैरों की सफाई करते हैं, उसकी देखभाल करते हैं। लेकिन जो पैरों को सुरक्षित रखता है। तमाम परेशानियों से बचाता है। ऐसे में ये जरूरी हो जाता है कि हम भी अपने जूतों का रखरखाव ठीक तरीके से करें, क्‍यों कि यह हमारी पर्सनैलिटी को मेनटेन रखता है साथ ही पैरों को कई तरह की बीमारियों से बचाता है। इसलिए इनकी देखरेख जरूर करें।

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Oct 06, 2017

जरूरी है देखभाल

जरूरी है देखभाल
1/4

हर फुटवेयर के मटेरियल के अनुसार देखभाल का तरीका भी बदल जाता है। सबसे पहले अपने फुटवेयर्स का मटेरियल पहचानें और फिर उसी आधार पर तय करें कि उसकी देखभाल कैसे की जानी चाहिए। किसी भी लेस वाले फुटवेयर को साफ करने या उसे पॉलिश करने से पहले लेस हटा दें। इसके बाद ही उनकी सफाई करें। इससे लेस भी ठीक रहते हैं और फुटवेयर की सफाई ठीक तरह से हो जाती है।

जमीं धूल हटाएं

जमीं धूल हटाएं
2/4

बारिश में भीग जाने पर फुटवेयर्स को सीधे शू-रैक में न डाल दें। पहले किसी सूती कपड़े से उन्हें पोछें। इसके बाद उन्हें पंखे के नीचे सूखने के लिए रख दें। लेदर के फुटवेयर्स गंदे हो गए हों तो सबसे पहले उनपर जमी धूल साफ करें।  अब एक सूती कपड़े में लेदर क्लीनर लगाकर उन्हें साफ करें। कुछ देर सूखने के बाद ही उनपर पॉलिश करें।

सोल बदलवा लें

सोल बदलवा लें
3/4

फुटवेयर के सोल खराब हो गए हों तो उसे बदलवा लें। ऐसा न करने पर पैरों में दर्द हो सकता है। अगर घुटनों में दर्द होता हो तो डॉक्टर से पूछकर ही हील्स पहनें। कीमती फुटवेयर्स में वेदरप्रूफ लिक्विड जरूर स्प्रे करें वरना कभी अचानक बारिश होने पर वे भीगकर खराब हो सकते हैं।

बदल-बदल कर पहनें

बदल-बदल कर पहनें
4/4

फुटवेयर्स बदल-बदल कर पहनें। इससे वे लंबे समय तक टिकेंगे और आपके पैरों में भी दर्द जैसी कोई समस्या नहीं होगी। शू-रैक की समय-समय पर सफाई करते रहें। जो फुटवेयर खराब हो गए हों, उनसे मोह न पालें, हटा दें ताकि नए की जगह बन सके।

Disclaimer