हस्‍तमैथुन, स्‍तंभन दोष, शीघ्र स्‍खलन आदि के बारे में सेक्‍स संशय और वास्‍तविकता

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Feb 10, 2014
हस्‍तमैथुन, स्‍तंभन दोष, शीघ्र स्‍खलन, गर्भनिरोधक आदि के बारे में कई बार मन में कई प्रकार के सवाल और संशय आते हैं। इन्‍हीं संशय और उनकी वास्‍तविकता के बारे में जानने के लिए पढ़ें ये स्‍लाइड शो।
  • 1

    सेक्‍स संशय और वास्‍तविकता

    सेक्‍स समस्‍याओं और गतिविधियों को लेकर समाज में कई प्रकार के संशय और भ्रांतियां प्रचलित हैं। हस्‍तमैथुन, स्‍तंभन दोष, शीघ्र स्‍खलन, गर्भनिरोधक आदि के बारे में कई बार मन में कई प्रकार के सवाल और संशय आते हैं। इन्‍हीं संशय और उनकी वास्‍तविकता के बारे में जानने के लिए पढ़ें ये स्‍लाइड शो।

    सेक्‍स संशय और वास्‍तविकता
    Loading...
  • 2

    पुरुषों में हस्‍तमैथुन

    हस्‍तमैथुन एक सामान्‍य क्रिया है। यह किसी व्‍यक्ति के निजी अंगों में स्‍व यौन उत्‍तेजना का एक माध्‍यम है। इसे लेकर अधिक संशय अथवा ग्‍लानि पालने की कोई जरूरत नहीं है। हालांकि इसे लेकर खुले में चर्चा नहीं की जाती, और शायद यही वजह है कि इसे लेकर कई मिथ और गलत धारणायें प्रचलित हैं। ये धारणायें पीढ़ी दर पीढ़ी चली आती हैं और धीरे-धीरे समाज में इनकी जड़ें बहुत गहरी हो जाती हैं।

    पुरुषों में हस्‍तमैथुन
  • 3

    महिलाओं में हस्‍तमैथुन

    आमतौर पर हस्‍तमैथुन को पुरुषों से जोड़कर देखा जाता है। लेकिन, ऐसा नहीं है कि महिलायें हस्‍तमैथुन नहीं करतीं। महिलायें भी काम की अधिकता होने पर हस्‍तमैथुन के जरिये खुद को रिलीव करती हैं।

    महिलाओं में हस्‍तमैथुन
  • 4

    हस्‍तमैथुन से जुड़ा तथ्‍य

    कई हेल्थ रिपोर्ट को पढ़ने के बाद पता चलता है कि हस्‍तमैथुन को लेकर समाज में कई भ्रांतियां हैं। इसे लेकर बुरा माना जाता है। कई नीम-हकीम इसे पौरुष शक्ति के लिए बहुत घातक मानते हैं। उन बातों में पूरी सच्‍चाई नहीं होती, और उनमें से कई पूरी तरह बेबुनियाद होती हैं। हस्‍तमैथुन सेक्सुअली टेंशन को कम करने का सबसे अच्छा और हेल्दी तरीका है।

    हस्‍तमैथुन से जुड़ा तथ्‍य
  • 5

    स्‍तंभन दोष

    आजकल की लाइफस्‍टाइल के कारण पुरुषों में स्‍तंभनदोष यानी इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन की समस्‍या बढ़ी है। आहार में ओमेगा-3 की कमी के कारण पुरुषों में स्‍तंभन दोष की समस्या बहुत बढ़ गई है। यौन उत्तेजना होने पर यदि शिश्न में फैलाव और कड़ापन न आ पाये कि संपूर्ण शारीरिक संबन्ध स्थापित हो सके तो इस अवस्था को स्तंभनदोष कहते हैं। यह गंभीर बीमारी है, इसे नजरंअदाज न करें।

    स्‍तंभन दोष
  • 6

    स्‍तंभन दोष से जुड़ा तथ्‍य

    स्‍तंभन दोष को लेकर हमारी धारणा है कि यह शुक्राणुओं की कमी से होता है लेकिन यह धारणा बिल्‍कुल गलत है। शुक्राणुओं की कमी के कारण कभी भी स्‍तंभन दोष नहीं होता है। यहां तक कि स्‍तंभन दोष के मामले में शुक्राणुओं की जांच कराना भी बेकार है।

    स्‍तंभन दोष से जुड़ा तथ्‍य
  • 7

    शीघ्र स्खलन की समस्या

    लंबे समय तक सेक्स न कर पाना या शीघ्र स्खलित हो जाना एक आम समस्या है। सेक्स में जल्दबाजी या कई बार इसे ठीक प्रकार से न कर पाने की वजह से कई पुरुष अपने पार्टनर को पूरी तर‌ह से संतुष्ट नहीं कर पाते। लेकिन ठीक प्रकार से सेक्स क्रिया कर और सेक्स करने के दौरान कुछ सावधानी बरत कर शीघ्र स्खलन की समस्या से निपटा जा सकता है।

    शीघ्र स्खलन की समस्या
  • 8

    शीघ्र स्खलन से जुड़ा तथ्‍य

    सेक्स में दिलचस्पी खत्म होने का सबसे बड़ा कारण शीघ्र स्खलन यानी लिंग की मांसपेशियां कमजोर पड़ना माना जाता है। यह समस्या कई बार विटामिन बी के सेवन न करने से, धूम्रपान और अल्‍कोहल का अ‍ादी होना आदि के कारण भी हो सकती हैं। हमारी लाइफस्‍टाइल का इस परेशानी से सीधा संबंध होता है। कई बार तनाव भी इसकी वजह बन सकता है।

    शीघ्र स्खलन से जुड़ा तथ्‍य
  • 9

    पुरुषों में स्‍वप्‍नदोष

    सोते समय वीर्य के स्खलित हो जाने को स्वप्नदोष कहते हैं। स्वप्नदोष, किसी सपने के बाद होने वाली एक स्वाभाविक शारीरिक प्रतिक्रिया है। इसके कारण किसी पुरुष के भीतर लगातार बन रही शुक्राणु कोशिकाओं की बहुतायत को शरीर से बाहर निकाल जाती है। स्वप्नदोष की स्थिति के पीछे खान-पान या ऐसे ही कई अन्य कारण हो सकते हैं।

    पुरुषों में स्‍वप्‍नदोष
  • 10

    महिलाएं और स्वप्नदोष

    अधिकतर लोगों का मानना हैं कि स्वप्नदोष केवल लड़कों को ही होता है, लेकिन यह सच नहीं है। क्‍योंकि महिलाओं को अपनी लाइफ में कभी न कभी स्वप्नदोष जरूर होता है। हालांकि महिलाओं में स्‍वप्‍नदोष के लक्षण व कारण थोड़े भिन्न होते हैं। यह एक सामान्य घटना है। इसमें योनि फिर गीली और चिकनी हो जाती है।

    महिलाएं और स्वप्नदोष
  • 11

    स्वप्नदोष से जुड़ा तथ्‍य

    स्वप्नदोष होना बड़े होने का स्‍वाभाविक हिस्‍सा होता है इसमें कोई खराबी नहीं है। अगर किसी को बहुत ज्यादा स्वप्नदोष होता है, तो इसका मतलब यह नहीं की उसके शरीर में कोई खराबी है और इससे उसके शरीर और सेहत पर कोई बुरा असर नहीं पड़ता। कुछ लोगों को हफ्ते में कई बार स्वप्नदोष होता है और कुछ को अपनी पूरी लाइफ में केवल कुछ ही बार स्वप्नदोष होता है. जैसे-जैसे आप उम्र में बड़े होते हैं, स्वप्नदोष होने की संभावना उतनी ही घट जाती है।

    स्वप्नदोष से जुड़ा तथ्‍य
  • 12

    पुरुषों के लिए कंडोम

    गर्भ-निरोध और सेक्स संबंधित बीमारियों से बचाने का सबसे उत्तम विकल्प माना जाता है। इसमें महिला व पुरुष कण्डोम दोनों विकल्प‍ उपलब्ध हैं। कंडोम रबड की एक पतली झिल्ली होती है जिसे पुरुष के उत्तेजित शिश्न पर पहना जाता है ताकि  वीर्य को बाहर आने से रोका जा सके और गर्भनिरोधन तथा यौन संक्रमण से सुरक्षा हो सकें।

    पुरुषों के लिए कंडोम
  • 13

    महिलाओं के लिए कंडोम

    आजकल पुरुष कंडोम की तरह ही महिला कंडोम भी उपल्‍ब्‍ध है। यह कंडोम महिलाओं को गर्भनिरोधन एवं यौन संक्रमण से सुरक्षित रखता है। महिला कंडोम पतले प्लास्टिक की बनी एक झिल्ली होती है जिसके दो किनारे होते हैं। बंद किनारे के छल्ले को महिला योनि के अंदर डाल लेती है जिससे यौन क्रिया के दौरान पुरुष का वीर्य योनि के अंदर नहीं जा पाता।

    महिलाओं के लिए कंडोम
  • 14

    कंडोम से जुड़ा तथ्‍य

    कंडोम का प्रयोग करना पूरी तरह से सुरक्षित है। सेक्‍स का आनंद लेने के लिए कण्‍डोम को सर्वोत्तम माना जाता है। कंडोम अनचाहे गर्भ और यौन-संक्रमित रोगों से बचाव करता है। कंडोम को लेकर समाज में झिझक और अज्ञानता का भाव है, उसे दूर किए जाने की जरूरत है। इससे जुड़ी गलतफहमियों के नजरअंदाज कर इसका प्रयोग करना चाहिए। इसे खरीदते समय भी झिझकना नहीं चाहिए।

    कंडोम से जुड़ा तथ्‍य
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK