रोड सेफ्टी टिप्‍स: बाइक चलाते वक्‍त इन बातों का रखें ध्‍यान

भारत की सबसे मशहूर महिला बाइक राइडर वीणु पालिवाल की सड़क हादसे में मौत हो गई। बाइक चलाने में एक्‍सपर्ट होने के अलावा सेफ्टी का पूरी तरह ध्‍यान रखने वाली वीणु की मौत बाइकर के लिए एक सबक की तरह है। इस स्‍लाइडशो में हम आपको बता रहे हैं कि सड़क हादसे से कैसे बचा जाये।

Pooja Sinha
Written by: Pooja SinhaPublished at: Mar 24, 2017

क्‍यों होते हैं सड़क हादसे

क्‍यों होते हैं सड़क हादसे
1/6

भारत की सबसे मशहूर महिला बाइक राइडर वीणु पालिवाल की सड़क हादसे में मौत हो गई। 44 साल की वीणु जयपुर की रहने वाली वीणु देश के दौरे पर थीं। पालिवाल की बाइक सड़क पर फिसल गई, इसके बाद उन्हें तुरंत प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पालिवाल को हार्ले डेविडसन जैसी बाइक 180 किलोमीटर की रफ्तार से चलाने के लिए जाना जाता था। हालांकि हादसे के वक्‍त उन्‍होंने प्रोटेक्टिव गियर भी पहना था। बाइक चलाने में एक्‍सपर्ट होने के अलावा सेफ्टी का पूरी तरह ध्‍यान रखने वाली वीणु की मौत बाइकर के लिए एक सबक की तरह है। इस स्‍लाइडशो में हम आपको बता रहे हैं कि सड़क हादसे से कैसे बचा जाये।

हेलमेट जरूर लगायें

हेलमेट जरूर लगायें
2/6

सिर आपका है, इसे बचाने की जिम्मेदारी भी आपकी है। इसलिए अपनी सुरक्षा के लिए बाइक चलाते समय हेलमेट जरूर पहनें। आईएसआई मार्क का हेलमेट पहनकर ही गाड़ी चलानी चाहिए। लापरवाही से गाड़ी नहीं चलाएं क्योंकि इससे दूसरों का भी नुकसान भी होता है।

तेज स्‍पीड में न चलायें

तेज स्‍पीड में न चलायें
3/6

जब ट्रैफिक के नियमों के साथ गाड़ी चलाने की बात आती है, तो बाइक परिवहन का सबसे तीव्र साधन माना जाता है। अपनी आंखें और कान खुले रखें। सड़क पर दिल दिमाग का सही इस्तेमाल कर सावधानी पूर्वक गाड़ी चलाएं। वाहन चलाते समय मोबाइल पर बातचीत करें। बाइक को लोअर गियर और स्‍पीड को धीमी रखें। लेन में बाईं ओर चलें ताकी तेज स्‍पीड वाले वाहन दाहिनी ओर से आगे निकल सकें। लेन बदलते समय या मुड़ते समय अन्य वाहनों को संकेत दें। इसके अलावा इस बात को भी ध्‍यान रखें कि ट्रैफिक हो या न हो स्‍पीड न बढायें।

नियमों का पालन करें

नियमों का पालन करें
4/6

अधिकांश हादसे यातायात के नियमों को पालन न करने और असावधानी बरतने में होती है। बाइक चलाते समय यातायात के नियमों को ध्यान में रखेंगे तो दुर्घटना से बचे रहेंगे। ट्रैफिक पुलिस की बातों पर हमेशा अमल करें। ग्रीन लाइट के जलने के बाद ही चौराहे पर बाइक को आगे बढ़ायें।

सावधानी हटी, दुर्घटना घटी

सावधानी हटी, दुर्घटना घटी
5/6

सावधानी हटी, दुर्घटना घटी, इस जुमले को बाइक चलाते समय हमेशा ध्यान में रखें और सावधानी के साथ बाइक चलाएं। बाइक चलाते समय मोबाइल से न तो बात करें न ही ईयरफोन लगाकर गाना सुनें। दोनों ही स्थितियों में दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। बाइक की स्‍पीड को भी नियंत्रित रखें। तेज स्‍पीड हमेशा खतरनाक होती है। भीड़ में विशेष सावधानी के साथ तो चलें ही, जल्द पहुंचने के चक्कर में बाइक को इधर -उधर घुसाने की न सोचें। गलत साइड से बाइक कभी न चलाएं।

सेफ्टी किट का इस्‍तेमाल

सेफ्टी किट का इस्‍तेमाल
6/6

अगर आप स्‍पोट्स बाइक चला रहे है या बाइक से लंबी यात्रा कर रहे हैं तो आपको सेफ्टी किट पहनाना बहुत जरूरी होता है। जैसे बाइक ट्रैव्लिंग बैग, घुटनों, कुहनियों की सुरक्षा के लिए एलबोगार्ड, ड्रायविंग जैकेट व सबसे अहम हेलमेट धारण करें।Image Source : Getty

Disclaimer