इन कारणों से दूसरे लोगों के बारे में न बनायें कोई राय

हम अकसर लोगों के बारे में जल्द ही एक तरह की छवि बना लेते हैं, इसे ही किसी को जल्दी जज करना कहते हैं। लेकिन क्‍या इतना जजमेंटल होना सही है, इस स्‍लाइडशो में पढ़ें।

Rahul Sharma
Written by: Rahul SharmaPublished at: Oct 27, 2015

जजमेंटल होने की आदत को छोड़ें

जजमेंटल होने की आदत को छोड़ें
1/5

हम अकसर लोगों के बारे में जल्द ही कोई अंतिम सोच बना लेते हैं, जिसे किसी को जल्दी जज करना कहते हैं। लेकिन यह जजमेंटल होने की आदत हमें खुद का सही आंकलन कर उन्नति से रोकती है। हमें किसी को जज करने का कोई हक नहीं है। हम खुद अपनी गलतियों को नोटिस नहीं करते हैं, लेकिन दूसरों की गलतियां निकालने से नहीं चूकते। चलिये आज जानते हैं ऐसी कुछ वजहें जो ये बताती हैं कि क्यों आपको जजमेंटल होने की आदत को छोड़ देना चाहिये। Images source : © Getty Images

आधी-अधूरी जानकारी

आधी-अधूरी जानकारी
2/5

किसी को जज करने से पहले सुनिश्चित कर लें कि आप उस व्यक्ति के बारे में किसी निर्णय पर पहुंचने लायक जानकारी रखते हैं। हो सकता है कि आप जो जानते हैं वो पूरा सच न हो, और आप उसकी परेशानियां और सीमाओं के बारे में न जानते हों। तो किसी की जजमेंट पर पहुंचने से पहले सभी जानकारियां प्राप्त कर लें। बजाये जजमेंटल होने के या तो उस इंसान की मदद करें या उसे अकेला छोड़ दें। ये जजमेंटल होने की आदत को छोड़ने का एक बड़ा कारण है। Images source : © Getty Image

क्योंकि सभी एक से नहीं होते हैं

क्योंकि सभी एक से नहीं होते हैं
3/5

अगर आपको कोई काम करना पसंद नहीं तो ये ज़रूरी नहीं कि दूसरा व्यक्ति भी उसे न करे। उदाहरण के लिये अगर आपको टेटू बनवाना पसंद नहीं तो टेटू वाला इंसान आपको गलत लगे और आप उसे पसंद न करें। समझने की कोशिश करें कि हम सभी एक से नहां है और सभी की जरूरतें और परेशानियां अलग हैं। तो बजाये किसी को जज करने के खुद की लाइफस्टाइल में सुधार करने की कोशिश करें। Images source : © Getty Images

कोई भी परफेक्ट नहीं होता

कोई भी परफेक्ट नहीं होता
4/5

अधिकतर परिपूर्णतावादी अर्थात पर्फेक्शनिस्ट्स उनसे मिलने वाले हर व्यक्ति को जज करते हैं। वे अपनी गलतियों को तो स्वीकार नहीं करते लेकिन बाकी लोगों की खामियां निकालने में वे कभी नहीं चूकते। लेकिन यह समझना बेहद जरूरी है कि कोई भी परफेक्ट नहीं होता है और हम सभी कभी न कभी गलतियां करते ही हैं। तो किसी की आलोचना करने से पहले एक बार ये जरूर सोचें कि क्या आप सही कर रहे हैं। हो सकता है उस व्यक्ति का यह काम करने के पीछे कोई कारण रहा हो।  Images source : © Getty Images

दिखावे अक्सर बहकाने वाले होते हैं

दिखावे अक्सर बहकाने वाले होते हैं
5/5

कभी भी लोग जैसे दिख ते हैं उसके हिसाब से उन्हें जज न करें और न ही उस आधार पर उनका मज़ाक ही उडाएं। शायद वे महंगे कपड़े खरीद पाने या लक्जरी लाइफ स्टाइल जीने की आर्थिक स्थिति में न हों, लेकिन हो सकता है कि बावजूद इसके वे कई अच्छे कर्म करने योग्य हों।  Images source : © Getty Images

Disclaimer